चीन: कैब कंपनी को कोरोना नियम तोड़ना पड़ा भारी, सरकार ने लगाया 38 लाख का जुर्माना

Didi Chuxing नाम की कैब प्रोवाइडर कंपनी से बीजिंग नगर परिवहन आयोग ने 340,000 युआन यानी करीब 38 लाख 52 हजार 836 रुपये का जुर्माना वसूला है।

नई दिल्ली। कोरोना वायरस से बचाव के लिए सभी देशों की सरकार की ओर से निर्देश दिए गए हैं कि लोग अपने घरों में रहें लेकिन कई लोग अभी भी इसका उल्लंघन कर रहे हैं। ताजा मामला चीन का है। यहां कि एक में ऑनलाइन कैब मुहैया कराने वाली कंपनी Didi Chuxing पर बीजिंग नगर परिवहन आयोग ने नियमों की अनदेखी के लिए भारी भरकम जुर्माना लगाया है।

तीसरी तिमाही के नतीजों और कोरोना वैक्सीनेशन की वजह से शेयर बाजार में आएगी तेजी

ग्लोबल टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक Didi Chuxing नाम की कैब प्रोवाइडर कंपनी से बीजिंग नगर परिवहन आयोग ने 340,000 युआन यानी करीब 38 लाख 52 हजार 836 रुपये का जुर्माना वसूला है। ऐसा इसलिए किया गया क्यों कि कंपनी ने कोरोना वायरस रोकथाम को लेकर सरकार के दिशा निर्देशों का पालन नहीं किया था।

रिपोर्ट के अनुसार कंपनी ने अपने ड्राइवरों को कारों में संक्रमण से बचने के जरूरी उपाय नहीं बताए थे साथ ही बिना मास्क के यात्रियों को कार में बैठने की अनुमति दी थी। इसकी वजह से कंपनी के कई ड्राइवर कोरोना की चपेट में आ गए।

आयोग के एक अधिकारी ने बताया कि यही वजह है कि कंपनी पर इतना बड़ा जुर्माना लगाया। साथ ही कंपनी के ड्राइवरों को भी कड़ी सजा देने की बात चल रही है।

चीन देशभर में निःशुल्क करेगा कोरोना टीकाकरण, भारत में 16 जनवरी से शुरू होगा वैक्सीनेशन अभियान

बता दें Didi Chuxing चीन की सबसे बड़ी कैब कंपनियों में एक है। 55 करोड़ से अधिक लोग इस ग्राहक है और लाखों ड्राइवर्स इसके लिए काम करते हैं। कंपनी बड़ी होने की वजह से सरकार ने इतना बड़ा जुर्माना लगाया गया है।

 
Vivhav Shukla
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned