scriptChinese Rocket Long March 5b may create havoc on Earth next 48 hours important US tracking | चीन फिर बना दुनिया के लिए सिर दर्द, अंतरिक्ष में बेकाबू चीनी रॉकेट को लेकर अगले 48 घंटे काफी अहम | Patrika News

चीन फिर बना दुनिया के लिए सिर दर्द, अंतरिक्ष में बेकाबू चीनी रॉकेट को लेकर अगले 48 घंटे काफी अहम

Coronavirus के बाद अब चीन ने फिर बढ़ाई दुनिया की चिंता, तबाही मचा सकता है अंतरिक्षण में बेकाबू चीनी रॉकेट, अमरीका के लिए सबसे बड़ी चुनौती

नई दिल्ली

Updated: May 06, 2021 11:15:58 am

नई दिल्ली। चीन ( China ) लगातार दुनिया के लिए खतरा बनता जा रहा है। पहले कोरोना वायरस जैसी महामारी का केंद्र बना और अब बेकाबू चीनी रॉकेट ( Chinese Rocket ) ने सबकी चिंता बढ़ा दी है। चीन के रॉकेट ने विश्व के तमाम देशों की धड़कने बढ़ा रखी हैं। खास तौर पर अमरीका के लिए बड़ी चुनौती बना हुआ है।
अंतरिक्ष में बेकाबू हो चुका चीनी रॉकेट अमरीका के लिए मुसीबत बन चुका है।
Chinese Rocket long march 5 b
Chinese Rocket long march 5 b
आशंका जताई जा रही है कि करीब 21 टन वजनी यह रॉकेट घनी आबादी वाले महानगरों जैसे अमेरिका का न्‍यूयॉर्क, स्‍पेन का मैड्रिड और चीन के पेइचिंग शहर को निशाना बना सकता है। हालांकि अभी तक वैज्ञानिक यह पता नहीं लगा पाए हैं कि यह रॉकेट ठीक-ठीक कहां पर गिरेगा। लेकिन अगले 48 घंटे काफी अहम हैं, जब इसकी वास्तविक स्थिति को लेकर सटीक जानकारी मिल सकती है।
यह भी पढ़ेंः न्‍यूजीलैंड की प्रधानमंत्री जेसिंडा अर्डर्न सगाई के दो साल बाद अब रचाएंगी शादी, गर्मियों में करने का विचार

अगले 48 घंटे महत्वपूर्ण
मिली जानकारी के मुताबिक अगले 48 घंटे काफी महत्वपूर्ण हैं। क्योंकि इस रॉकेट के पृथ्वी ( Earth ) के वायुमंडल में आठ मई को प्रवेश करने के आसार हैं। अमरीकी सरकार ने चेतावनी जारी करते हुए कहा कि 21 टन का यह रॉकेट आठ मई के आसपास कभी भी पृथ्वी के वायुमंडल में प्रवेश कर सकता है।
अब तक लोकेशन को लेकर स्थिति साफ नहीं
खास बात यह है कि अब तक यह बता पाना मुश्किल है कि यह पृथ्वी के वायुमंडल में किस क्षेत्र से प्रवेश करेगा। अन्य सेटेलाइट ट्रैकर्स ने भी 100 फीट लंबे और 16 फीट चौड़े रॉकेट के बारे में बताया है।
इसे 2021-035बी नाम दिया गया है, जो प्रति सेकंड चार मील की गति से आ रहा है। अमरीका इस रॉकेट पर लगातार नजर बनाए रखे हुए हैं। बताया जा रहा है कि अमरीका की कोशिश है कि इस पृथ्वी पर गिरने से रोका जाए।
अंतिम घंटों में मिलेगी सही जानकारी
चीनी रॉकेट के पृथ्वी के वायुमंडल में दोबारा एंट्री के कुछ घंटों पहले ही उसकी लोकेशन को लेकर सही जानकारी मिल सकेगी कि आखिर वो इस एरिया में गिर सकता है।
हालांकि अमरीका के रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता माइक हावर्ड ने कहा कि अमरीकी स्पेस कमांड की निगरानी में यह मामला है। चीन रॉकेट की स्थिति पर लगातार नजर रखी जा रही है।

यह भी पढ़ेँः गर्भवती महिला ने एक साथ दिया 9 बच्चों को जन्म, जानिए क्यों डॉक्टर भी हैरान
पहले भी बढ़ा चुका है मुश्किल
अंतरिक्ष मामलों के विशेषज्ञ जोनाथन मेगडोबल के मुताबिक यह अच्छे संकेत नहीं हैं। पिछली बार लांग मार्च 5बी रॉकेट छोड़ा था तो इसमें से धातु की बड़ी छड़ें आकाश में निकली थी, जिसके धरती पर टकराने के दौरान आइवरी कोस्ट में इमारतों को नुकसान पहुंचा था।
कई छड़ें आकाश में ही जल गईं, लेकिन कुछ हिस्से धरती पर ही गिरे थे, हालांकि इससे जान-माल को कोई नुकसान नहीं हुआ था। अमरीकी सेना ने कहा कि अनियंत्रित रॉकेट के पृथ्वी पर री-एंट्री को लेकर अमरीकी अंतरिक्ष कमान द्वारा ट्रैक किया जा रहा है।
इस सप्ताह के अंत में उम्मीद
रॉकेट का सबसे बड़ा भाग जिसने कक्षा में चीन के पहले स्थायी अंतरिक्ष स्टेशन के मुख्य मॉड्यूल को लॉन्च किया था, से उम्मीद की जा रही है कि वह इस सप्ताह के अंत में किसी अज्ञात स्थान पर जल्द से जल्द पृथ्वी पर वापस आ जाएगा।
चीन का सबसे बड़ा करियर रॉकेट
आपको बता दें कि पिछले हफ्ते अंतरिक्ष में चीन के आगामी स्पेस स्टेशन के पहले बिल्डिंग ब्लाक तिआनहे को भेजने के लिए लांगमार्च 5बी का इस्तेमाल किया गया था। तिआनहे को चीन के हैनान प्रांत स्थित सेंटर से लांग मार्च 5बी के जरिये 29 अप्रैल को लांच किया गया।
खास बात यह है कि यह चीन का सबसे बड़ा करियर रॉकेट है। चीन का लक्ष्य 2030 तक अमरीका, रूस और यूरोपीय अंतरिक्ष एजेंसी के मुकाबले एक प्रमुख अंतरिक्ष शक्ति बनना है। हालांकि लांग मार्च 5बी के असफल होने से चीन को भी बड़ा झटका लगा है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीजब हनीमून पर ताहिरा का ब्रेस्ट मिल्क पी गए थे आयुष्मान खुराना, बताया था पौष्टिकIndian Railways : अब ट्रेन में यात्रा करना मुश्किल, रेलवे ने जारी की नयी गाइडलाइन, ज़रूर पढ़ें ये नियमधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजशेखावाटी सहित राजस्थान के 12 जिलों में होगी बरसातदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ

बड़ी खबरें

देश में वैक्‍सीनेशन की रफ्तार हुई और तेज, आंकड़ा पहुंचा 160 करोड़ के पारपाकिस्तान के लाहौर में जोरदार बम धमाका, तीन की नौत, कई घायलजम्मू कश्मीर में सुरक्षाबलों को मिली बड़ी कामयाबी, लश्कर-ए-तैयबा का आतंकी जहांगीर नाइकू आया गिरफ्त मेंCovid-19 Update: दिल्ली में बीते 24 घंटे के भीतर आए कोरोना के 12306 नए मामले, संक्रमण दर पहुंचा 21.48%घर खरीदारों को बड़ा झटका, साल 2022 में 30% बढ़ेंगे मकान-फ्लैट के दाम, जानिए क्या है वजहचुनावी तैयारी में भाजपा: पीएम मोदी 25 को पेज समिति सदस्यों में भरेंगे जोशखाताधारकों के अधूरे पतों ने डाक विभाग को उलझायाकोरोना महामारी का कहर गुजरात में अब एक्टिव मरीज एक लाख के पार, कुल केस 1000000 से अधिक
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.