यूरोपीय संघ ने यात्रा प्रतिबंध पर छूट देने के लिए बनाए नए नियम, ये शर्तें रखीं

ईयू के सदस्य देशों के 27 राजदूतों की बैठक में इस बात पर निर्णय लिया गया है।

लंदन। यूरोपीय संघ ने अभी तक लगे यात्रा प्रतिबंध में छूट देने की तैयारी शुरू कर दी है। बुधवार को संघ ने ऐलान किया वह जल्द ऐसे यात्रियों के लिए पाबंदी हटा लेगा जिन्होंने अपना टीकाकरण करा लिया है।कोरोना महामारी के कारण बीते एक साल से विदेशी सैलानियों के घूमने पर प्रतिबंध लगाया गया है।

27 राजदूतों की बैठक में चर्चा

पूरे एक साल के बाद ईयू ने विदेशी यात्रियों के लिए यह निर्णय लेने का फैसला लिया है। गौरतलब है कि ये मौसम विदेशी सैलानियों के लिए घूमने का होता हैं। ईयू के सदस्य देशों के 27 राजदूतों की बैठक में इस बात पर निर्णय लिया गया है कि ऐसे यात्रियों को घूमने के लिए छूट दी जाएगी, जो दो परिस्थितियों पर खरे उतरते हो।

Read More: अंटार्कटिका में टूटा दुनिया का सबसे बड़ा बर्फ का पहाड़, जानिए क्या है इसका आकार

दो परिस्थितियों में पहले वे यात्री होंगे जो वैक्सीनेटड हैं। इन्हें ईयू और डब्लूएचओ द्वारा मान्यता प्राप्त कोरोना वैक्सीन दी गई हो। वहीं दूसरा विकल्प ऐसे यात्रियों को छूट देनी है जो ऐसे देशों से हो जहां महामारी नहीं फैली हो या नाममात्र कोरोना के मामले हों।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार स्वीकृत टीकों की सूची में फाइजर-बायोएनटेक, मॉर्डना, जॉनसन एंड जॉनसन, एस्ट्राजेनेका और सिनोफार्म शामिल हैं। यूरोपीय संघ की अनुमोदित टीकों की सूची में रूस और अन्य चीन द्वारा निर्मित टीकों को शामिल नहीं किया गया है। जिन अमरीकियों ने फाइजर, मॉडर्ना और जॉनसन एंड जॉनसन से टीकाकरण प्राप्त किया है, उन्हें अनुमति मिल सकती है। वे यूरोपीय संघ की यात्रा के लिए अर्हता प्राप्त कर सकते हैं। सिनोफार्म वैक्सीन चीन में विकसित पांच टीकों में से एक है और विश्व स्वास्थ्य संगठन, नेचर रिपोर्ट द्वारा उपयोग के लिए अधिकृत होने वाला पहला चीनी टीका है।

Read More: सिंगापुर में नए वैरिएंट के खतरे को देखते हुए बच्चों के स्कूलों को किया बंद, आवाजाही रोकी

नए वैरिएंट के प्रति सतर्क

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार नए यात्रा दिशानिर्देश में सभी सदस्य देशों के ऐसे यात्री भी होंगे, जिनके पास निगेटिव पीसीआर रिपोर्ट, वैक्सीनेशन की रिपोर्ट और हाल ही में हुए कोरोना संक्रमण की रिपोर्ट हो। नए वैरिएंट से बचाव को लेकर ईयू ने कई कदम उठाए ताकि सख्ती के साथ इससे निपटा जा सके। नए उपायों में एक "आपातकालीन पाबंदी" भी शामिल है, जो यूरोपीय संघ को तुरंत प्रतिबंधित या प्रवेश को रोकने की अनुमति देता है।

Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned