ट्रंप के खिलाफ ईरान ने खोला मोर्चा, राष्ट्रपति हसन रूहानी ने अमरीका को बताया वैश्विक आतंक का लीडर

ट्रंप के खिलाफ ईरान ने खोला मोर्चा, राष्ट्रपति हसन रूहानी ने अमरीका को बताया वैश्विक आतंक का लीडर

Anil Kumar | Publish: Apr, 10 2019 01:00:52 AM (IST) विश्‍व की अन्‍य खबरें

  • अमरीका ने ईरान के रिवोल्यूशनरी गार्ड्स को विदेशी आतंकी संगठन घोषित किया।
  • सऊदी अरब ने भी अमरीका के इस फैसले का समर्थन किया है।
  • ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी ने अमरीका के इस फैसले पर कड़ी आपत्ति दर्ज कराई है।

तेहरान। ईरान के रिवॉल्यूशनरी गार्ड्स को अमरीका द्वारा विदेशी आतंकी संगठन घोषित किए जाने के बाद से राष्ट्रपति हसन रूहानी आगबबूला हो गए हैं। उन्होंने जवाबी हमला करते हुए अमरीका को वैश्विक आतंकवाद का लीडर करार दिया है। हसन रूहानी ने एक भाषण देते हुए पूछा कि आखिर अमरीका कौन होता है जो यह बताए कि हमारी सेना 'रिवोल्यूशनरी गार्ड्स’ को आतंकवादी होने का ठप्पा लगाए। उन्होंने कहा कि अमरीका स्वयं विश्व आतंकवाद का नेता है, जो आतंकवादी समूहों को विभिन्न देशों के खिलाफ एक उपकरण के तौर पर इस्तेमाल करना चाहते हैं। रूहानी ने आगे कहा कि लोगों की रक्षा के लिए रिवोल्यूशनरी गार्ड्स ने अपने प्राण निछावर किए हैं, सीरिया तक में लड़ाई लड़ी है, लेकिन अब अमरीका उनसे नफरत करने लगा है और इसलिए ब्लैकलिस्ट कर दिया। उन्होंने आगे कहा कि अमरीका के इस फैसले से रिवोल्यूशनरी गार्ड्स अधिक मजबूत और ईरान के लोगों के बीच लोकप्रिय हो जाएंगे। बता दें कि अमरीका ने सोमवार को एक बड़ा फैसला लेते हुए ईरान की रिवोल्यूशनरी गार्ड्स को विदेशी आतंकवादी संगठन घोषित करते हुए ब्लैकलिस्ट में डाल दिया था, जिसके बाद से ईरान की ओर से कड़ी प्रतिक्रिया आई है।

'रिवोल्यूशनरी गॉर्ड्स' को आतंकी घोषित करने के फैसले पर ईरान आगबबूला, अमरीका को दिया करारा जवाब

सऊदी ने अमरीका का किया समर्थन

अमरीका की ओर से ईरान के रिवोल्यूशनरी गार्ड्स को विदेशी आतंकी संगठन करार देने और ब्लैकलिस्ट करने के फैसले को सऊदी अरब ने स्वागत किया है। सऊदी ने अमरीका को अमना समर्थन दिया है और कहा है कि आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई लड़ने की दिशा में एक व्यावहारिक व गंभीर कदम है। बता दें कि इससे पहले जब अमरीका की ओर से यह कहा गया था कि अगले हफ्ते तक रिवोल्यूशनरी गार्ड्स को विदेशी आतंकी संगठन करार दिया जाएगा। इसपर ईरान ने कड़ी आपत्ति दर्ज कराते हुए सीधे चेतावनी दी थी कि यदि ऐसा हुआ तो वह भी अमरीकी सेना को आतंकवादी संगठन घोषित करने में संकोच नहीं। अब देखना होगा कि क्या ईरान अमरीकी सेना को भी आतंकी संगठन घोषित करती है या नहीं।

 

Read the Latest World News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले World News in Hindi पत्रिका डॉट कॉम पर. विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर .

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned