किम ने ट्रंप से वार्ता रद्द करने की धमकी दी, एकतरफा दबाव बनाने का आरोप

ट्रंप और किम की वार्ता 12 जून को होनी है। एटमी हथियार खत्म करने की प्रतिबद्धता जता चुका है उत्तर कोरिया।

प्योंगयोंग। उत्तर कोरिया ने उसके एटमी हथियार खत्म करने का एकतरफा दबाव बनाने की स्थिति में
वार्ता रद्द करने की धमकी दी है। उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग ने अगले महीने अमरीकी राष्ट्रपति से प्रस्तावित वार्ता खत्म करने की चेतावनी दी है। गौरतलब है कि ट्रंप और किम की वार्ता 12 जून को होनी है। इससे पहले उत्तरी कोरिया अपने एटमी हथियार खत्म करने की प्रतिबद्धता जता चुका है।

'मैक्स थंडर' से नाराज किम जोंग का एलान: दक्षिण कोरिया से नहीं होगी बात

बेतुके बयान से उकसा रहा अमरीका

उत्तर कोरिया की मीडिया के मुताबिक उप विदेश मंत्री किम काई-ग्वान ने कहा है कि अगर अमरीका अपना रुख नहीं बदलता है तो हमें फिर से सोचना पड़ेगा कि अमरीका के साथ प्रस्तावित समिट में शामिल हों या नहीं। उसे उम्मीद थी कि इस वार्ता से हालात सामान्य होने में मदद मिलेगी, लेकिन अमरीका बेतुके बयान देकर उत्तर कोरिया को उकसा रहा है।

उत्तर कोरिया मई में बंद करेगा परमाणु परीक्षण स्थल, पहली बार विदेशी मीडिया को दिया न्योता

अमरीका वार्ता की तैयारी बंद नहीं करेगा

अमेरिका ने कहा है कि उत्तर कोरिया के रुख में बदलाव की उसे कोई जानकारी नहीं है। ट्रंप-किम की वार्ता के लिए तैयारी जारी रहेगी। विशेषज्ञों का कहना है कि शायद उत्तर कोरिया वार्ता की शर्तें नए सिरे से तय करने की कोशिश कर रहा है। उन्होंने कहा कि लगता है कि किम जोंग उन परमाणु निशस्त्रीकरण के लिए पहले अमरीका की मांगें मानने के लिए मजबूर था, लेकिन चीन से आर्थिक मदद का भरोसा मिलने के बाद वो अपना रुख बदलने की कोशिश कर रहा है।

दक्षिण कोरिया के साथ वार्ता रद्द की

दक्षिण कोरिया के साथ बुधवार को प्रस्तावित वार्ता को भी उत्तर कोरिया ने खारिज कर दिया है। उत्तर कोरिया का कहना है कि दक्षिण कोरिया के साथ अमरीका के युद्धाभ्यास के कारण ये फैसला लिया गया है। उत्तर कोरिया और दक्षिण कोरिया 27 अप्रैल को हुई वार्ता को आगे बढ़ाने के लिए एक बार फिर मुलाकात करने वाले थे।

Donald Trump
Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned