मिखाइल मिशुस्टिन बने रूस के नए प्रधानमंत्री, संसद ने दी मंजूरी

  • दमित्री मेदवेदेव ( Mikhail Mishustin ) ने बुधवार को प्रधानमंत्री पद से इस्तीफा दिया था
  • राष्ट्रपति पुतिन ने प्रधानमंत्री के पद के लिए मिशुस्तिन के नाम का प्रस्ताव पेश किया था

मॉस्को। रूस में सियासी उथल-पुथल के बीच मिखाइल मिशुस्टिन नए प्रधानमंत्री नियुक्त किए गए हैं। दमित्रि मेदवेद के इस्तीफे के बाद मिखाइल को प्रधानमंत्री बनाया गया है।

दमित्री मेदवेदेव ने बुधवार को अपने पद से इस्तीफा देने के बाद राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने मिखाइल का नाम आगे बढ़ाया था। इस्तीफा देने के बाद पुतिन ने मेदवेदेव को उनकी सेवा के लिए धन्यवाद कहा।

रूस के संविधान में पुतिन करेंगे बदलाव, ताउम्र राष्ट्रपति बनने की चाहत !

एक अधिकारी ने गुरुवार को जानकारी देते हुए बताया कि रूस के प्रधानमंत्री बनने से पहले मिखाइल मिशुस्तिन ने कहा था कि नई सरकार में कुछ बदलावों की योजना बनाई गई है।

संसद के निचले सदन स्टेट डूमा के उपसभापति सर्गेई नेवेरोव ने समाचार एजेंसी तास को बताया, 'मिशुस्तिन ने कहा कि वे गुटों के साथ मंत्रियों के पदों के लिए उम्मीदवारों पर चर्चा करेंगे। उन्होंने कहा कि (नए मंत्रिमंडल में) कुछ बदलाव होंगे।’

संविधान में हो सकता है संशोधन

मालूम हो कि यह बदलाव राष्ट्र प्रमुख पुतिन द्वारा बुधवार को फेडरल असेंबली को संबोधित करने के दौरान एक सुझाव देने के बाद हुआ, जिसमें देश के संविधान का संशोधन करने का प्रस्ताव दिया गया था। इसमें स्टेट डूमा को प्रधानमंत्री, उप प्रधानमंत्री और संघीय मंत्री को मंजूरी देने की शक्ति प्रदान करना शामिल है।

पुतिन ने दिमित्री मेदवेदेव की सरकार को नए मंत्रिमंडल के गठन तक उनकी जिम्मेदारियां निभाने के निर्देश दिए हैं। स्टेट डूमा गुरुवार को एक पूर्ण अधिवेशन आयोजित किया, जिसमें प्रधानमंत्री के पद पर मिशुस्तिन के नाम का ऐलान किया गया।

सीरिया: रूस-तुर्की के बीच अहम समझौता, रूसी सेना ने इदलिब में संघर्ष विराम की घोषणा की

बता दें कि दमित्री मेदवेदेव, राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के पुराने सहयोगी रहे हैं। साल 2012 से ही मेदवेदेव लगातार प्रधानमंत्री के पद पर कार्यरत रहे हैं। दमित्री मेदवेदेव 2008 से 2012 तक राष्ट्रपति का पद भी संभाल चुके हैं।

Read the Latest World News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले World News in Hindi पत्रिका डॉट कॉम पर. विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर.

Anil Kumar Content Writing
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned