पेरिस में टीचर की गर्दन काटने वाले की पहचान का दावा, चेचेन मूल का है 18 वर्षीय हत्यारा

HIGHLIGHTS

  • फ्रांस के पेरिस में पैगंबर मोहम्मद का कार्टून ( Caricatures Of Islam Prophet Muhammad ) छात्रों को दिखाने वाले इतिहास के शिक्षक की गला रेतकर हत्या ( History Teacher Killed ) कर दी गई।
  • 18 वर्षीय संदिग्ध हमलावर की पहचान चेचेन मूल निवासी ( Teenager of Chechen origin ) के तौर पर की जा रही है। हालांकि आधिकारिक रूप से इसकी जानकारी अभी नहीं दी गई है।

पेरिस। फ्रांस ( France ) की राजधानी पेरिस में छात्रो को पैगंबर मोहम्मद का कार्टून ( Caricatures Of Islam Prophet Muhammad ) दिखाने वाले इतिहास के एक शिक्षक की गला काटकर हत्या करने वाले संदिग्ध की पहचान को लेकर बड़ी खबर सामने आई है। बताया जा रहा है कि संदिग्ध हमलावर चेचेन मूल ( Teenager of Chechen origin ) का रहने वाला है।

मीडिया रिपोर्ट में बताया गया है कि 18 वर्षीय संदिग्ध हमलावर चेचेन मूल का है। फ्रांस के न्यायिक सूत्रों से मिली जानकारी के आधार पर यह दावा किया गया है। हालांकि अभी तक पुलिस प्रशासन की ओर से हमलावर की पहचान का खुलासा नहीं किया गया है।

फ्रांस: पैगंबर मोहम्मद का कार्टून दिखाने वाले शिक्षक की गला काटकर हत्या, राष्ट्रपति मैक्रों ने बताया 'इस्लामिक आतंकवादी हमला'

पुलिस अधिकारियों ने कहा है कि संदिग्ध हमलावर को पुलिस ने गोली मार दी, जिससे उसकी मौत हो गई। इस मामले के जांच की शुरूआत आतंकवादी हमले के तौर पर किया गया है। इस घटना को लेकर फ्रांसीसी पुलिस ( France Police ) ने अन्य चार लोगों को गिरफ्तार किया है और पूछताछ कर रही है।

राष्ट्रपति मैक्रों ने घटना को इस्लामिक आतंकी हमला बताया

बता दें कि इस हमले को लेकर फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ( President Emmanuel Macron ) ने कड़ी निंदा की है और इसे एक इस्लामिक आतंकवादी हमला करार दिया है। राष्ट्रति मैक्रों पेरिस के उत्तर-पश्चिमी उपनगर एरागनी में इतिहास के एक शिक्षक का सिर काटे जाने की घटना के कुछ घंटे बाद कॉनफ्लैंस-सैंटे-ऑनोराइन मिडल स्कूल का दौरा किया।

उन्होंने इस घटना की कड़ी निंदा करते हुए देश के नागरिकों से चरमपंथियों से निपटने के लिए त्वरित और ठोस कार्रवाई किए जाने का वादा किया। राष्ट्रपति मैक्रों ने कहा कि हमारे एक नागरिक की आज हत्या कर दी गई, क्योंकि वह छात्रों को अभिव्यक्ति की आजादी के मायने सिखा रहा था।

France: फिर छपेगा मोहम्मद साहब का विवादित कार्टून, शार्ली ऐब्डो ने कहा- हम कभी नहीं झुकेंगे

इधर, गृह मंत्री गेराल्ड डरमिन ने ट्वीट करते हुए कहा कि इस घटना पर वे खुद नजर बनाए हुए हैं और राष्ट्रपति व प्रधानमंत्री के साथ संपर्क में हैं। शिक्षा मंत्री जीन-मिशेल ब्लैंकेर ने हमले की निंदा की और इसे एक घृणित हत्या करार दिया दिया। उन्होंने कहा कि वे पीड़ित परिवार के साथ हैं।

क्या है पूरा मामला

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, राजधानी पेरिस के एक स्कूल के टीचर सैमुअल ने अभिव्यक्ति की आजादी के मायने समझाने को लेकर बच्चों को पैगंबर मोहम्मद का कार्टून दिखाया था। इसको लेकर एक शख्स चाकू लेकर स्कूल पहुंच गया और अल्लाह हू अकबर के नारे लगाते हुए शिक्षक की गला काटकर हत्या कर दी।

घटना की सूचना मिलने पर जब मौके पर पुलिस पहुंची तो वह सरेंडर करने के बजाए पुलिस को ही डराने लगा। लेकिन पुलिस ने जवाबी कार्रवाई करते हुए हमलावर को गोली मार दी, जिससे उसकी मौत हो गई। पुलिस ने शुरूआती जानकारी देते हुए बताया था कि 18 वर्षीय संदिग्ध इस्लामिक आतंकवादी था और मॉस्को में पैदा हुआ था।

Show More
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned