scriptProtests Rise In Poland as court Puts restriction on Abortion | Poland ने गर्भपात पर लगाई पाबंदी, कई सगंठनों ने बताया शर्मनाक फैसला | Patrika News

Poland ने गर्भपात पर लगाई पाबंदी, कई सगंठनों ने बताया शर्मनाक फैसला

Highlights

  • देशभर में सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों को तोड़ते हुए लोगों ने फैसले के विरोध में नारे लगाए।
  • पहले ऐसे भ्रूण हटाने की इजाजत थी जो सही तरह से विकसित नहीं हो रहा हो।

नई दिल्ली

Updated: October 24, 2020 09:11:12 am

वॉरसॉ। पोलैंड में अबॉर्शन (गर्भपात) पर करीब पूरी तरह से बैन लगाए जाने के विरोध में हजारों लोग सड़कों पर उतर आए हैं। कोरोना महामारी के बावजूद लोगों ने सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों को तोड़ते हुए शुक्रवार को फैसले के विरोध में नारे लगाए।
poland Protest
गर्भपात कानून के खिलाफ प्रदर्शन।
Vladimir Putin: आर्मीनिया-अजरबैजान की जंग में अब तक में मारे गए पांच हजार लोग

प्रदर्शनकारियों ने कई शहरों में रैलियां निकालीं। गौरतलब है कि पोलैंड की संवैधानिक अदालत ने गुरुवार को फैसला दिया कि गर्भपात की इजाजत देने वाला मौजूदा कानून जिंदगी की रक्षा करने में असमर्थ है। इस कानून के तहत ऐसे भ्रूण हटाने की इजाजत थी जो सही तरह से विकसित नहीं हो रहा हो।
देशभर में प्रदर्शनों का दौर जारी

इस फैसले के बाद से देशभर में प्रदर्शनों का दौर जारी है। फेडरेशन ऑफ वुमेन ऐंड फैमिली प्लानिंग की हेड क्रिस्टीना काकपुरा के अनुसार इस फैसले से पोलैंड में गर्भपात पर पाबंदी लग गई है। देश में करीब 98% वैध गर्भपात सही तरह से विकसित न हुए भ्रूणों के कारण होते रहे हैं। उन्होंने कहा कि यह पोलैंड सरकार की ओर से जनता के खिलाफ एक शर्मनाक फैसला है।
फैसले को राजनीतिक चालबाजी बताया

आदलत के फैसले की काउंसिल ऑफ यूरोप ने भी आलोचना की है। इस मानवाधिकार संगठन की प्रमुख ने इसे महिला अधिकारों का काला दिन करार दिया है। यूरोपियन पीपल्स पार्टी के अध्यक्ष डोनाल्ड टस्क इस मुद्दे को राजनीतिक चालबाजी बताया है। उन्होंने कहा कि कोरोना की महामारी के समय गर्भपात का मुद्दा उठाना और यह फैसला देना पागलपन है।
Joe Biden ने जनता के किया बड़ा वादा, राष्ट्रपति बने तो सबको मुफ्त में मिलेगी कोरोना वैक्सीन

रेप के मामले में गर्भपात की इजाजत

अब से गर्भपात की इजाजत सिर्फ रेप के मामले में ही होगा। ऐसे केस में जहां मां की जान को खतरा हो। पोलैंड में हर साल दो हजार से कम गर्भपात होते हैं लेकिन महिला अधिकार संगठनों का दावा है कि करीब दो लाख गर्भपात या तो अवैध तरीके से होते हैं या विदेश में कराए जाते हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

School Holidays in February 2022: जनवरी में खुले नहीं और फरवरी में इतने दिन की है छुट्टी, जानिए कितनी छुट्टियां हैं पूरे सालCash Limit in Bank: बैंक में ज्यादा पैसा रखें या नहीं, जानिए क्या हो सकती है दिक्कत“बेड पर भी ज्यादा टाइम लगाते हैं” दीपिका पादुकोण ने खोला रणवीर सिंह का बेडरूम सीक्रेटइन 4 राशियों की लड़कियां जिस घर में करती हैं शादी वहां धन-धान्य की नहीं रहती कमीइस एक्ट्रेस को किस करने पर घबरा जाते थे इमरान हाशमी, सीन के बात पूछते थे ये सवालजैक कैलिस ने चुनी इतिहास की सर्वश्रेष्ठ ऑलटाइम XI, 3 भारतीय खिलाड़ियों को दी जगहदुल्हन के लिबाज के साथ इलियाना डिक्रूज ने पहनी ऐसी चीज, जिसे देख सब हो गए हैरानकरोड़पति बनना है तो यहां करे रोजाना 10 रुपये का निवेश

बड़ी खबरें

RRB-NTPC Results: प्रेस कॉन्फ्रेंस में बोले रेल मंत्री, रेलवे आपकी संपत्ति है, इसको संभालकर रखेंयूपी चुनाव से रीवा का बम टाइमर कनेक्शननागालैंड में AFSPA कानून को खत्म करने पर विचार कर रही केंद्र सरकारRepublic Day 2022 LIVE updates: राजपथ पर दिखी संस्कृति और नारी शक्ति की झलक, 7 राफेल, 17 जगुआर और मिग-29 ने दिखाया जलवाजिनके नाम से ही कांपते थे आतंकी, जानिए कौन थे शहीद बाबू राम जिन्हें मिला अशोक चक्रCovid-19 Update: दिल्ली में बीते 24 घंटे में आए कोरोना के 7,498 नए मामले, संक्रमण दर पहुंचा 10.59%डायबिटीज के पेशेंट्स के लिए फायदेमंद हैं ये सब्जियां, रोजाना करें इनका सेवनक्या दुर्घटना होने पर Self-driving Car जाएगी जेल या ड्राइवर को किया जाएगा Blame? कौन होगा जिम्मेदार
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.