Research में दावा, जिस मलेरिया की दवा की तारीफ कर रहे हैं Donald Trump उससे हो रहीं हैं ज्यादा मौतें

Highlights

  • 96000 कोविड-19 (Covid-19) रोगियों पर किए एक अध्ययन में पाया गया कि इसके द्वारा इलाज के दौरान मौत का खतरा बढ़ जाता है।
  • हाल ही में अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) ने दावा किया था कि वह इसका रोजना सेवन करते हैं, ताकि इस बीमारी से बचा जा सके।

वाशिंगटन। अमरीका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) ने बीते दिनों एक प्रेस कांफ्रेंस में कहा था वे रोजना मलेरिया की दवा हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन (Hydroxychloroquine) का सेवन करते हैं। इससे वे कोरोना वायरस से अपना बचाव करते हैं। उन्होंने दावा किया था ये दवा कोविड-19 (Covid-19) से लड़ने में कारगर साबित हो सकती है। मगर एक अध्ययन में सामने आया है कि इस दवा से मौत का खतरा भी बढ़ा है।

Coronavirus से बचने के लिए रोजाना ले रहे Hydroxychloroquine की खुराक

लांसेट में प्रकाशित एक अध्ययन में दावा किया गया है कि ये दवा महामारी के इलाज के लिए हानिकारक है। करीब 96000 कोविड-19 रोगियों पर किए एक अध्ययन में पाया गया कि इससे मौत का खतरा बढ़ जाता है। अध्ययन में पाया गया है कि जिन लोगों का इलाज हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन या क्लोरोक्वीन की दवा से किया गया। उन्हें हार्ट से संबंधित समस्या का सामना करना पड़ा। इलाज के दौरान ही उनकी तबीयत बिगड़ने लगी। जिन्हें यह दवा नहीं दी गई, उनमें इस तरह की समस्या नहीं देखी गई।

ट्रंप ने खुद कही थी दवा लेने की बात

गौरतलब है कि हाल ही में अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने खुलासा किया था कि वे संभावित गंभीर दुष्प्रभावों के बारे में चेतावनी मिलने के बावजूद हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्विन की दवा ले रहे हैं। उनका कहना था कि डॉक्टरों और स्वास्थ्य अधिकारियों के मना करने के बाद भी वे इसका सेवन कर रहे हैं। ये उनके लिए फायदेमंद भी है। उनका दावा था कि इस दवा से ही वे अब तक कोरोना वायरस से बचने में कामयाब हुए हैं।

गौरतलब है कि जानलेवा कोरोना वायरस का कहर दुनिया भर में जारी है। वैश्विक स्तर पर जानलेवा महामारी से संक्रमित लोगों की संख्या 51 लाख से अधिक हो चुकी है। अब तक 3 लाख 32 हजार से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। दुनियाभर में कोरोना के सबसे अधिक मामले अमरीका में हैं। जबकि भारत 1.18 लाख मामलों के साथ 11 वे स्थान पर है। अमरीका में कोरोना वायरस के संक्रमण के 15 लाख 77 हजार से अधिक मामले हैं। वहीं 94 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है।

Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned