भारत में पाए गए कोरोना के नए वेरिएंट को WHO ने बताया डेल्टा और काप्पा

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कहा कि भारत में दो नए कोरोना वेरिएंट पाए गए हैं। इन दोनों वेरिएंट को 'डेल्टा' और 'काप्पा' के रूप में संदर्भित किया गया है।

नई दिल्ली। कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच नए-नए वेरिएंट सामने आने के बाद से चिंताएं बढ़ती जा रही है। कोरोना के नए वेरिएंट ने भारत में दूसरी लहर में तबाही मचाया। अब विश्व स्वास्थ्य संगठन ने इस नए स्ट्रेन को लेबल (नामकरण) किया है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कहा कि भारत में दो नए कोरोना वेरिएंट पाए गए हैं। इन दोनों वेरिएंट को 'डेल्टा' और 'काप्पा' के रूप में संदर्भित किया गया है। सोमवार को विश्व स्वास्थ्य संगठन ने ग्रीक वर्णमाला के अक्षरों का उपयोग करते हुए कोरोना के इन दोनों वेरिएंट के लिए नए लेबल की घोषणा की और साथ ही चिंता भी जाहिर की।

यह भी पढ़ें :- कोरोना का 'इंडियन वेरिएंट' शब्द इस्तेमाल करने पर केंद्र सरकार सख्त, सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म को हटाने के निर्देश

डब्ल्यूएचओ ने कहा कि लेबल मौजूदा वैज्ञानिक नामों को प्रतिस्थापित नहीं करते हैं, जो महत्वपूर्ण वैज्ञानिक जानकारी देते हैं और अनुसंधान में उपयोग किए जाते रहेंगे। WHO में COVID-19 के तकनीकी नेतृत्व डॉ मारिया वान केरखोव ने कहा कि किसी भी देश को कोविड वेरिएंट का पता लगाने और रिपोर्ट करने के लिए कलंकित नहीं किया जाना चाहिए।

डब्ल्यूएचओ ने कहा कि B .1.617.2 स्ट्रेन या डेल्टा और बी.1.617.1 स्ट्रेन या काप्पा दोनों का पहली बार भारत में अक्टूबर 2020 में पता चला था। दूसरी लहर में भारत नए वेरिएंट के मामलों का अनुपात बढ़ता जा रहा है।

Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned