Coronavirus पर WHO की रिपोर्ट, प्रयोगशाला से इंसानों को नहीं किया गया संक्रमित

कोरोना वायरस के स्रोत को लेकर विश्व स्वास्थ्य संगठन की की संयुक्त शोध रिपोर्ट में कहा गया है कि प्रयोगशाला से इंसानों को संक्रमित किए जाने की संभावना नहीं है।

 

बीजिंग। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने जिनेवा में 30 मार्च को कोरोना वायरस के मूल स्रोत संबंधी संयुक्त शोध रिपोर्ट जारी की है। इस ताजा रिपोर्ट में यह भी बताया गया है कि कोरोना वायरस की प्रयोगशाला से इंसानों को संक्रमित किए जाने की संभावना नहीं है।

जरूर पढ़ेंः एक साल में खत्म हो सकता है कोरोना वैक्सीन का असर, वैज्ञानिकों ने बताई बड़ी वजह

बताया जा रहा है कि इस साल 14 जनवरी से 10 फरवरी तक 17 चीनी विशेषज्ञों और 17 विदेशी विशेषज्ञों को लेकर बनाए गए एक संयुक्त दल ने महामारी विज्ञान, एटॉमिक ट्रेसबिलिटी और जानवर व पर्यावरण तीन समूहों में वुहान में वायरस के स्रोत का अध्ययन किया। यह अध्ययन 28 दिनों तक चला। चीनी और विदेशी विशेषज्ञों ने इस अनुसंधान के आधार पर शोध रिपोर्ट पूरी की।

इस संयुक्त रिपोर्ट में आगे किए जाने वाले अनुसंधान का सुझाव भी पेश किया गया। जैसा कि वर्ल्डवाइड इंटिग्रेटेड डेटाबेस स्थापित किया जाएगा। फिर लगातार पूरी दुनिया में शुरुआती मामले का पता लगाया जाएगा।

जरूर पढ़ेंः 2015 में दी थी कोरोना महामारी की चेतावनी और अब बिल गेट्स ने की दो आपदाओं की भविष्यवाणी

कई देशों और जगहों में वायरस पोषक बनने के संभावित जानवर ढूंढ़े जाएंगे। साथ ही वायरस के फैलाव में कोल्ड चेन व जमे हुए भोजन की भूमिका का पता लगाया जाएगा।

संयुक्त विशेषज्ञ दल के विदेशी पक्ष के प्रमुख पीटर एंबरेक ने वुहान में रिसर्च का स्टेटस बताया और चीन सरकार व चीनी विशेषज्ञों के समर्थन के लिए आभार जताया।

Coronavirus Pandemic
अमित कुमार बाजपेयी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned