Coronavirus को लेकर वैज्ञानिकों की सबसे बड़ी चेतावनी, सर्दियों कई महामारी से गुजरना पड़ेगा लोगों को, रहना होगा सावधान

Highlights
- वैज्ञानिकों का कहना है कि कोरोना वायरस महामारी और विकराल होता जाएगा
- सर्दियों में दुनिया में डबल महामारी जैसी स्थिति होने के संकेत दिए हैं
- पब्लिक हेल्थ (Public Health) से जुड़े एक्सपोर्ट चौंका देने वाला खुलासा करते हुए कहा कि कोविड-19 के साथ-साथ सीजनल फ्लू (flu season) भी तबाही मचाने के लिए तैयार है

नई दिल्ली.कोरोना वायरस (Coronavirus Update) का कहर लगातार बढ़ता ही जा रहा है। भारत में कोरोना वायरस (Coronavirus in India) से संक्रमित लोगों की संख्या 26 लाख के पार हो गई है। वहीं इस महामारी से मृतकों की संख्या 50 हजार पहुंच गई है। कोरोना वायरस (Coronavirus Outbreak) के मामले में अमेरिका (America) पहले पायदान पर है, ब्राजील (Brazil) दूसरे और वहीं भारत की बात करें तो भारत तीसरे पायदान पर है।

इसी क्रम में कोरोना वायरस की वैक्सीन (Coronavirus vaccine) हासिल करने के लिए भारत सरकार ने कोशिशें तेज कर दी है। यूनाइटेड किंग्डम की यूनिवर्सिटी ऑफ ऑक्सफोर्ड अस्‍त्राजेनेका (Oxford-AstraZeneca) और अमेरिका की मॉडर्ना-NIAD (Moderna-NIAID) वैक्‍सीन पाने की तैयारी है।

सर्दियों में डबल महामारी जैसी स्थिति

इस बीच वैज्ञानिकों (Coronavirus Scientists) ने बड़ी चेतावनी दी है। वैज्ञानिकों का कहना है कि कोरोना वायरस महामारी और विकराल होता जाएगा। सर्दियों में दुनिया में डबल महामारी जैसी स्थिति होने के संकेत दिए हैं।


सीजनल फ्लू भी मचाएगा तबाही

पब्लिक हेल्थ (Public Health) से जुड़े एक्सपोर्ट चौंका देने वाला खुलासा करते हुए कहा कि कोविड-19 के साथ-साथ सीजनल फ्लू (flu season) भी तबाही मचाने के लिए तैयार है। इस स्थिति को वौज्ञानिक 'ट्विनडेमिक' कह रहे हैं।

बीमारियों में होगी कन्फ्यूजन पैदा

विदेश में छपी एक रिपोर्ट के मुताबिक सर्दियों के मौसम में सीजनल फ्लू काफी आम बीमारी है, लेकिन ज्यादातर अस्पताल इसके मरीजों से भरे रहते हैं। हालांकि ये साल अलग है और सभी अस्पताल पहले ही कोविड-19 के मरीजों से भरे हुए हैं। ऐसे में सीजनल फ्लू के मरीजों का इलाज कहां होगा? दूसरा सवाल ये है कि कोविड-19 और सीजनल फ्लू के शुरुआती लक्षण भी एक जैसे हैं, ऐसे में अस्पतालों में भीड़ तो बढ़ेगी ही कन्फ्यूजन की स्थिति भी पैदा होने जा रही है।

मरीजों में होगी तेजी से इजाफा

सीजनल फ्लू से बचने के लिए लोगों को 'फ्लू शॉट' दिए जाते थे, जो इस साल संभव नहीं है। इससे मरीजों की संख्या में तेजी से इजाफा होगा। एक्सपर्ट्स के मुताबिक फ्लू के लक्षण भी- बुखार, सिरदर्द, कफ, गले में दर्द, बदन दर्द हैं। एक तो ये आसानी से कोविड-19 जैसा नज़र आता है साथ ही ये कोरोना संक्रमण के खतरे को कई गुना और बढ़ा देता है।

Coronavirus Outbreak
Ruchi Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned