लॉक डाउन में अकेले थे बुजुर्ग दम्पत्ति, 50वीं सालगिरह पर पुलिस फूल और केक लेकर पहुंची, तो भर आयीं आंखें

Highlights
-पुलिस केक और फूल-माला लेकर पहुंची घर पर
-बुजुर्ग दम्पत्ति की 50 शादी की सालगिरह मनाई
-दम्पत्ति के नॉएडा में फंसे बेटे ने मांगी थी पुलिस से मदद

By: jai prakash

Updated: 08 May 2020, 03:05 PM IST

मुरादाबाद: कोरोना महामारी से निपटने के लिए देश भर में तीसरे चरण का लॉक डाउन चल रहा है। ऐसे में किसी को भी बाहर निकलने इजाजत नहीं है। वहीँ जरुरत मंदों के लिए पुलिस प्रशासन लगातार काम कर रहा है। वहीँ इस पूरे दौर में पुलिस के कई चेहरे सामने आए हैं, जिसने खाकी के लिए और मान बढ़ा दिया है। कुछ ऐसा ही नजारा आज कोतवाली क्षेत्र के लोहा गढ़ मोहल्ले में देखने मिला। यहां के बुजुर्ग दम्पत्ति की शादी की पचासवीं साल गिरह थी, लेकिन इकलौता बेटा नोएडा में फंसा हुआ था। उसने मुरादाबाद पुलिस से मदद मांगी। जिस पर कोतवाली इंस्पेक्टर फोर्स के साथ अचानक बुजुर्ग दम्पत्ति के घर पहुंचे और फूल-माला पहनाकर व केक काटकर उन्हें शुभकामनाएं दीं। पुलिस के इस रूप को देखकर दम्पत्ति भी भावुक हो गए।

लॉकडाउन में सैर करने निकले युवकों को दरोगा ने ऐसे सिखाया सबक, हंसते-हंसते हो जाएंगे लोटपोट

बेटे ने पुलिस से मांगी थी मदद
शहर के लोहागढ़ निवासी सुरेश चंद्र अग्रवाल के इकलौते नोयडा में रहने वाले पुत्र अनुज ने मुरादाबाद पुलिस की मदद से अपने माता पिता को ख़ुश कर दिया। अनुज ने मुरादाबाद पुलिस को जानकारी दी कि उनके बुज़ुर्ग माता-पिता की 50वीं शादी की सालगिरह है, वो लॉक डाउन के कारण नोएडा से सपरिवार अपने पिता की 50 वीं शादी की सालगिरह पर नहीं आ सकतें हैं। वो यह सालगिरह यादगार मनाना चाहते थे, लेकिन वो मजबूर हैं। ये सब सुनकर मुरादाबाद शहर कोतवाल शक्ति सिंह प्रभारी निरीक्षक थाना कोतवाली सदर व उनके साथ चौकी इंचार्ज मंडी चौक एसआई संदीप कुमार अपने साथ फोर्स तथा महिला कांस्टेबल के साथ फूलों की माला फूल केक लेकर बिना किसी पूर्व सूचना के बुज़ुर्ग दंपति के आवास पर पहुंच गए। सभी ने एक साथ मिलकर सुरेश चंद्र अग्रवाल एवं उनकी पत्नी सुषमा के साथ उनकी 50वीं शादी की सालगिरह को मनाया। जिससे सुरेश चंद्र अग्रवाल एवं उनकी पत्नी सुषमा ने पुलिस टीम के साथ खुशी खुशी अपनी शादी की 50 वी सालगिरह मनाई। इसके बाद अनुज ने भी कॉल कर मुरादाबाद पुलिस को धन्यवाद दिया।

Lockdown: सरकार ने राजस्व बढ़ाने के लिए खोली शराब की दुकानेंं, शराबी पहुंचने लगे अस्पताल

Show More
jai prakash
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned