बड़ी खबर: यूपी-उत्तराखंड के बीस रेलवे स्टेशन उड़ाने की धमकी से मचा हडकंप, अलर्ट जारी

लश्कर ए तैयबा के आतंकी कमांडर बताकर मुरादाबाद समेत बीस रेलवे स्टेशन उड़ाने की धमकी भरा पत्र मिला। ये धमकी पत्र हरिद्वार रेलवे स्टेशन के अधीक्षक को मिला।

By: jai prakash

Updated: 09 Oct 2018, 05:21 PM IST

मुरादाबाद: मंडल रेल अधिकारीयों और खुफिया एजेंसियों के अधिकारीयों के कान तब खड़े हो गए जब खुद का लश्कर ए तैयबा के आतंकी कमांडर बताकर मुरादाबाद समेत बीस रेलवे स्टेशन उड़ाने की धमकी भरा पत्र मिला। ये धमकी भरा पत्र मुरादाबाद मंडल के अंतर्गत हरिद्वार रेलवे स्टेशन के अधीक्षक को मिला। जिसके बाद अलर्ट जारी किया गया है। स्थानीय रेल अधिकारीयों ने पत्र की पड़ताल के साथ सतर्कता बरतने के निर्देश दिए हैं। जिस पर जीआरपी और आरपीएफ ने रेलवे स्टेशन सघन चेकिंग अभियान चलाया और प्लेटफ़ॉर्म के साथ ट्रेनों को भी चेक किया गया। ये चेकिंग लगातार जारी रहेगी।

यूपीः जमीनी रंजिश में दाे भाईयाें काे मारी गाेली एक की माैत दूसरे की हालत गंभीर, देखे वीडियाे

यहां से आया पत्र

इंस्पेक्टर जीआरपी पंकज पन्त के मुताबिक ये धमकी भरा पत्र हरिद्वार और सहारनपुर रेलवे स्टेशन अधीक्षक को मिला है। ये पत्र इसी महीने की पांच तारीख को मिलना बताया जा रहा है। जानकारी के मुताबिक ये पत्र जम्मू कश्मीर के किस्तवाड़ा के आतंकी कमांडर मो. अमानी सलीम ने अपने हाथ से लिखा है। पत्र में साजिश रची गई है कि आतंकी 20 अक्टूबर को हरिद्वार, देहरादून, रुड़की, लक्सर, काठगोदाम, सहारनपुर, अलीगढ़, मेरठ, मुजफ्फरनगर, बरेली, रामपुर, मुरादाबाद के रेलवे जंक्शन पर ब्लास्ट की तैयारी कर रहे हैं।

विवेक तिवारी हत्याकांड के बाद डीजीपी ने उठाया बड़ा कदम, इन सिपाहियों अौर दरोगा की लिस्ट हो रही तैयार

इन जगहों को भी उड़ाने की धमकी

इसके साथ ही पत्र में यह भी लिखा है कि दस नवंबर को आतंकी हरिद्वार के लक्ष्मण झूला, हर की पैड़ी, चार धाम समेत भीड़ वाले स्थान रुड़की में ब्लास्ट करने की तैयारी में हैं। जब से उत्तराखंड के अधिकारियों को यह लेटर मिला है। तब से खुफिया विभाग उत्तराखंड और यूपी की जांच एजेंसिया भी सक्रिय हो गई हैं। इसके साथ ही आर्मी इंटेलिजेस को भी इस लेटर और ब्लास्ट की तारीख की तैयारियों की जानकारी दी गई है। इसके बाद आर्मी इंटेलीजेंस व लोकल जांच एजेंसियां भी सक्रिय हो गई हैं।

जब कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय में पहुंचे कलेक्टर तो वहां की हालत देखकर चौंक गए

अभी तक कोई नहीं पकड़ा गया

यहां बता दें कि रेल मंडल को पहले भी कई धमकी भरे पत्र मिल चुके हैं। जिसमें आज तक कोई पकड़ में नहीं आया। वहीँ रेल सूत्रों के मुताबिक ये किसी की शरारत भी हो सकती है। लेकिन फिर भी एजेंसियां पत्र भेजने वाले का पता लगाने में जुटीं हैं।

 

 

Show More
jai prakash
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned