scriptशहर की ट्रैफिक व्यवस्था सुधारने की कवायद, थाने के आसपास लगता जाम | Patrika News
मोरेना

शहर की ट्रैफिक व्यवस्था सुधारने की कवायद, थाने के आसपास लगता जाम

– सुबह समय पर नहीं पहुंचा ट्रैफिक स्टाफ, बैरियर चौराहे पर लगा जाम
– एम एस रोड, जौरा रोड और हाइवे पर रोजाना बनते जाम के हालात, फंसे रहते हैं दर्जनों वाहन

मोरेनाJul 05, 2024 / 10:02 pm

Ashok Sharma

मुरैना. यातायात पुलिस शहर की व्यवस्था सुदृढ़ करने का दंभ भरती है और थाने के आसपास आए दिन जाम के हालात बन रहे, उसमें सुधार नहीं हो पा रहा है। गुरुवार की सुबह समय पर स्टाफ नहीं पहुंचा तो बैरियर चौराहा अर्थात ट्रैफिक थाने के पास ही जाम लगा रहा, जिसमें दर्जनों वाहन फंसे रहे।
यातायात पुलिस का वाहन दिन भर शहर की एम एस रोड सहित अन्य मार्गों पर भ्रमण करता है और यातायात सुधार की कवायद करते हुए देखा जाता है हालांकि उसका कोई असर नहीं दिखता क्योंकि एम एस रोड पर ही कई ऐसे संस्थान व कार्यालय की बिल्डिंग बनी हैं, जिनके यहां पार्किंग है उसके बाद भी वाहन सडक़ पर पार्क हो रहे हैं जिससे अक्सर जाम के हालात बनते रहते हैं। खास बात यह है कि बैरियर चौराहे पर यातायात थाना है यहां थाना प्रभारी व सूबेदार सहित पर्याप्त स्टाफ है, बावजूद उसके यातायात व्यवस्था का ढर्रा पूरी तरह बिगड़ा हुआ है। सुबह आठ बजे यातायात के जवान बैरियर चौराहे पर तैनात हो जाते हैं लेकिन गुरुवार की सुबह सवा नौ बजे तक कोई स्टाफ नहीं पहुंचा और चौराहे पर जाम लगता रहा। यहां जौरा रोड, शहर, धौलपुर रोड और ग्वालियर की तरफ जाने वाले वाहन चौराहे पर फंसे रहे। अगर वहां जवान तैनात रहते तो जाम के हालात नहीं बनते।
पेट्रोल पंप के सामने हालात चिंताजनक
फ्लाईओवर के नीचे पेट्रोल पंप के सामने धौलपुर जाने वाले मार्ग पर दिन भर जाम के हालात बने रहते हैं। यहां दर्जनों डग्गामार वाहन जिनके पास परमिट नहीं, उसके बाद भी खुलेआम सडक़ पर खड़े होकर सवारियां भरते रहते हैं जिससे जाम के हालात निर्मित होते रहते हैं। ये डग्गामार वाहन और यहां लगने वाला जाम ट्रैफिक पुलिस को दिखाई नहीं देता जबकि यह स्पॉट थाने से कुछ ही दूरी पर है।
हाइवे पर यहां भी लगता है जाम
हाइवे पर के एस मिल चौराहे पर भी अक्सर जाम लगता रहता है। यहां ट्रैफिक पॉइंट आवश्यक है लेकिन लगाया नहीं गया है। यहां जाम लगने से धौलपुर रोड, नैनागढ़ रोड सहित पूरे चौराहे के हालात खराब रहते हैं। कब जाम लग जाए, कुछ कहा नहीं जा सकता। इस चौराहे पूर्व में दुर्घटना में एक स्कूली छात्रा की मौत हो चुकी है। यहां अक्सर ट्रैक्टर- ट्रॉली खड़े रहते हैं, इसलिए और जाम लगता रहता है।
  • इधर…. शहर से गुजर रहे ओवरलोड वाहन
    शहर के प्रमुख मार्ग एम एस रोड पर वैसे तो अक्सर यातायात व पुलिस के वाहन गुजरते रहते हैं जो आम लोगों के वाहन को रोककर चेक करते हैं लेकिन ओवरलोड वाहन दिन दहाड़े गुजरते रहते हैं, इनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की जाती। पूर्व में ओवरलोड वाहनों से दुर्घटना भी हो चुकी हैं, उसके बाद भी पुलिस प्रशासन जागरुक नहीं हैं।
    कथन
  • बैरियर चौराहे पर सुबह आठ बजे जवान तैनात हो जाते हैं, आज भी पहुंच गए होंगे। के एस चौराहे पर मोबाइल भ्रमण करती रहती है। पेट्रोल पंप के सामने सडक़ पर खड़े होने वाले वाहनों पर कार्रवाई की जाएगी।
    संतोष भदौरिया, टी आई, ट्रैफिक थाना

Hindi News/ Morena / शहर की ट्रैफिक व्यवस्था सुधारने की कवायद, थाने के आसपास लगता जाम

ट्रेंडिंग वीडियो