गमगीन माहौल में एक साथ जली चार चिताएं ताे मानों राे पड़ा पूरा गांव

  • पंजाब जा रहे भट्टा मजदूरों को ट्रक ने कुचला
  • चार की मौके पर ही दर्दनाक मौत
  • बच्चे सहित कई लोग घायल

chita.jpg

मुजफ्फरनगर ( Muzaffarnagar ) सहारनपुर में हुए भीषण सड़क हादसे में चार भट्टा मजदूरों की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई। सभी मृतक जनपद मुज़फ्फरनगर के थाना तितावी क्षेत्र गांव पीपल हेड़ा के रहने वाले थे। रविवार शाम जब गांव में चारों की चिताएं एक साथ जली ताे पूरे गांव में मातम सा पसर गया।

यह भी पढ़ें: माेदीनगर काे बंदरों से मुक्त कराने की तैयारी में पालिका, दाे हजार से अधिक बंदर चिन्हित

घटना की सूचना जैसे ही गांव में पहुंची तो पूरे गांव में कोहराम मच गया। बताया जा रहा है कि हादसे के बाद आरोपी ट्रक चालक ट्रक लेकर मौके से फरार हो गया पुलिस उसकी तलाश में जुट गई है। दरअसल जनपद मुजफ्फरनगर के थाना तितावी क्षेत्र के गांव पीपलहेड़ा के रहने वाले कुछ मजूदर पंजाब में ईंट के भट्टे पर मजदूरी का कार्य करते हैं। रविवार को सभी मजदूर एक डीसीएम में सवार होकर मजदूरी करने के लिए निकले थे। ये जैसे ही जनपद सहारनपुर के थाना तीतरो क्षेत्र में कुछ देर के लिए वाहन को सड़क के किनारे पर खड़ा कर आपस मे बाते कर रहे थे । इसी दौरान पीछे से तेज गति से आ रहे एक ट्रक ने इनके डीसीएम को जोरदार टक्कर मार दी। इस भीषण दुर्घटना में चार मजदूरों की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई जबकि कई घायल हो गए। इस दुर्घटना में विपिन पुत्र दरिया सिंह, नीतू पुत्र दरिया सिंह, सोनू पुत्र छत्रपाल, लाला पुत्र कदरु की मौके पर ही मौत हो गई। बबीता पत्नी ऋषिपाल गंभीर रूप से घायल हो गई और डीसीएम में मौजूद बच्चों और महिलाएं सहित 30 लोग घायल हो गए।

यह भी पढ़ें: कोऑपरेटिव बैंक में एक हजार करोड़ का घोटाला ! 24 पर एफआईआर

घटना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने मौके पर मौजूद लोगों की मदद से घायलों को हॉस्पिटल में भर्ती कराया । घटना की जानकरी मिलते ही आनन-फानन में परिजन और ग्रामीण भी हॉस्पिटल पहुंचे। जिसमे मामूली रूप से घायलों को प्राथमिक उपचार के बाद घर भेज दिया गया दोपहर के बाद चारों मृतकों के शवों को जैसे ही गांव पीपलहेड़ा लाया गया तो एक साथ चार लाशें देखकर पूरा गांव सहम गया। जिसके बाद गमगीन माहौल में चारों मृतकों के शवों का अंतिम संस्कार किया गया। इस दौरान थाना तितावी सहित तीन थानों की पुलिस भी मौके पर मौजूद रही।

shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned