रास्ता खोलो अभियान में बाधा डालने वालों पर होगी कार्रवाई

जिला कलक्टर ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से दिए भूमि आवंटन संबंधी प्रकरणों का निपटारा करने के निर्देश

 

By: shyam choudhary

Published: 21 Jul 2021, 10:48 PM IST

नागौर. जिले में जिला प्रशासन की ओर से पिछले एक साल से चलाए जा रहे रास्ता खोलो अभियान के तहत एक और जहां 4 हजार से अधिक रास्ते खोले जा चुके हैं, वहीं सैकड़ों परिवाद जिला प्रशासन के पास लम्बित हैं, जिनका निस्तारण करने की कार्रवाई की जा रही है। इस बीच जो लोग इस अभियान में रोड़ा बन रहे हैं, उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के लिए जिला कलक्टर ने अधीनस्थ अधिकारियों को निर्देश जारी किए हैं।

जिला कलक्टर डॉ. जितेन्द्र कुमार सोनी ने मंगलवार को कलक्ट्रेट परिसर स्थित भारत निर्माण राजीव गांधी सेवा केन्द्र में जिले के समस्त उपखण्ड अधिकारियों, तहसीलदार, नगर निकाय अधिशासी अधिकारियों एवं अन्य अधिकारियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से संवाद कर आवश्यक दिशा-निर्देश दिए गए।
वीसी के दौरान जिला कलक्टर ने संपर्क पोर्टल पर लंबित प्रकरणों का शीघ्रता से निपटारा करने के निर्देश दिए। उन्होंने स्पोट्र्स सेंटर, कॉलेज एवं हॉस्पिटल व चिकित्सा संस्थाओं की स्थापना के लिए एसडीओ व तहसीलदार को भूमि आवंटन संबंधी बकाया प्रकरणों का जल्द निपटारा करने के निर्देश दिए।
डॉ. सोनी ने कहा कि ब्लॉक स्तर तक किसी भी अधिकारी के पास छह माह से अधिक पुराने प्रकरण लंबित हैं, तो उनका शीघ्र निस्तारण किया जाएं। इसके लिए सभी संबंधित अधिकारी तत्परता से कार्य करें। इस दौरान कलक्टर ने खींवसर उपखण्ड अधिकारी व तहसीलदार को टांकला व लालाप ग्राम पंचायत स्थित स्कूल भवन की प्रगति रिपोर्ट लेकर स्कूल संचालन में आने वाली समस्या पर चर्चा करते हुए टांकला स्कूल को एक सप्ताह के अंदर शिफ्ट करवाने के निर्देश दिए। इस दौरान उन्होंने कहा कि ब्लॉक स्तर पर उपखण्ड अधिकारी अपने कर्तव्य का निर्वहन करते हुए किसी भी प्रकार की समस्या का तुरंत निस्तारण करवाने के प्रयास करें।

कलक्टर ने रास्ता खोलो अभियान की प्रगति रिपोर्ट लेते हुए अभियान के दौरान आने वाली विभिन्न समस्याओं व आमजन की शिकायतों पर जिम्मेदारी से कार्य करने के निर्देश दिए। डॉ. सोनी ने कहा कि लोगों से समझाइश कर रास्ता खोलो अभियान को प्रभावी बनाकर कार्य करें तथा रास्ता खुलने के बाद ग्रेवल सडक़ निर्माण कार्य भी किया जाएं। उन्होंने कहा कि प्रशासन द्वारा खोले गए रास्ते खेत मालिक द्वारा पुन: बंद कर दिए जाते हैं तो उनके खिलाफ कठोर कार्रवाई करें।

प्रशासन गांवों के संग अभियान की तैयारी करें
जिला कलक्टर ने प्रशासन गांवों के संग अभियान पर चर्चा करते हुए पूर्व तैयारियों के रूप में उपखण्ड अधिकारियों को शिविर आयोजित कर आमजन की समस्याएं सुनने तथा उनका रिकॉर्ड तैयार करने के निर्देश दिए, ताकि अभियान शुरू होते ही तुरंत निस्तारण किया जा सके। इसके लिए शिविर के विभिन्न कार्यों का चिह्नीकरण करने की तैयारी करने के निर्देश दिए। साथ ही शहर में अभियान प्रशासन शहरों के संग को प्रभावी बनाने के लिए नगर निकाय के अधिकारियों को नगरीय योग्य सीमा में मास्टर प्लान बनाकर कार्य करने के निर्देश दिए तथा जो खसरे वंचित है उनकी सूचना भिजवाने के लिए कहा।

लंबित आवेदनों का निस्तारण करें
जिला कलक्टर ने वीसी के दौरान डीएसओ को खाद्य सुरक्षा योजना के तहत 18 मई 2020 तक के लंबित आवेदनों का निस्तारण करने के निर्देश देते हुए कहा कि उचित मूल्य दुकानदार ई-मित्र पर जाकर लंबित प्रकरणों का निस्तारण करवाने के लिए ग्रामीणों से सहयोग लेकर कमी पूर्ति करवाएं। डॉ. सोनी ने सभी उपखण्ड अधिकारियों को राजकीय नजूल सम्पत्तियों का डेटा ऑनलाइन अपडेट करने तथा लंबित प्रकरणों की प्रगति रिपोर्ट लेकर शीघ्रता से निस्तारण करने के निर्देश भी दिए। बैठक के दौरान अतिरिक्त जिला कलक्टर मनोज कुमार, जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी जवाहर चौधरी, उपखण्ड अधिकारी अमित चौधरी, सहायक कलक्टर रामजस बिश्नोई, जिला रसद अधिकारी पार्थ सारथी सहित अन्य जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद रहे।

shyam choudhary Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned