नागौर में रीट परीक्षार्थियों की ‘अतिथियों’ की तरह होगी ‘आवभगत’

बाहर से आने वाले परीक्षार्थियों के रहने व खाने की नि:शुल्क सेवा में जुटे प्रशासन और सामाजिक संगठन
- राजस्थान अध्यापक पात्रता परीक्षा 26 को, जिला प्रशासन के निर्देशन में परीक्षा की तैयारियां अंतिम चरण में
- प्रत्येक परीक्षा केन्द्र पर दो-दो पुरूष व महिला कांस्टेबल तथा दो होमगार्ड के जवान तैनात रहेंगे
- जिला मुख्यालय सहित डीडवाना, कुचामन व लाडनूं में हैल्प डेस्क बताएगी परीक्षा केन्द्रों का पता

By: shyam choudhary

Published: 24 Sep 2021, 09:49 PM IST

नागौर. राजस्थान अध्यापक पात्रता परीक्षा (रीट) देने के लिए दूसरे जिलों से आने वाले परीक्षार्थियों की यहां अतिथियों की तरह आवभगत करने की तैयारी चल रही है, ताकि उन्हें किसी प्रकार की परेशानी का सामना नहीं करना पड़े। राज्य सरकार ने एक ओर जहां परीक्षार्थियों को रोडवेज एवं निजी बसों में नि:शुल्क यात्रा की घोषणा की है, वहीं परीक्षा वाले शहरों में आने के बाद उन्हें परीक्षा केन्द्र तक पहुंचने, ठहरने व खाने-पीने के लिए भटकना नहीं पड़े, इसको लेकर भी जिला प्रशासन एवं सामाजिक संगठनों ने न केवल व्यवस्था की है, बल्कि इसके बदले परीक्षार्थियों से किसी प्रकार का शुल्क भी नहीं वसूला जाएगा।

जिला मुख्यालय पर विभिन्न समाजों ने अपने-अपने छात्रावासों, धर्मशालाओं एवं समाज भवनों में परीक्षार्थियों के रहने व खाने की व्यवस्था की है तो नगर परिषद की ओर से परीक्षार्थियों को इंदिरा रसोई का भोजन नि:शुल्क उपलब्ध करवाया जाएगा। वहीं कुछ समाजसेवी परीक्षार्थियों को परीक्षा केन्द्र के बाहर ही भोजन एवं अल्पाहार उपलब्ध कराने की व्यवस्था में जुट गए हैं।

सीसी टीवी कैमरों से होगी निगरानी
26 सितम्बर को जिले के 85 परीक्षा केन्द्रों पर आयोजित होने वाली रीट के सफलतापूर्वक आयोजन को लेकर जिला कलक्टर डॉ. जितेन्द्र कुमार सोनी के निर्देशन में सभी प्रकार की तैयारियों को अंतिम रूप दिया जा रहा है। एडीएम मोहनलाल खटनावलिया ने बताया कि रीट के आयोजन को लेकर जिला कलक्टर के मार्गदर्शन में संबंधित विभागों के अधिकारियों ने अपने-अपने स्तर की तैयारियों को पूर्ण कर लिया है। खटनावलिया ने बताया कि परीक्षा को लेकर नागौर जिले में 85 केन्द्र बनाए गए हैं, इनमें से 25 सरकारी शिक्षण संस्थानों तथा 60 निजी शिक्षण संस्थानों के भवनों में बनाए गए हैं। एडीएम ने बताया कि परीक्षा केन्द्रों पर पूर्ण सुरक्षा इंतजाम रहेंगे। प्रत्येक परीक्षा कक्ष में सीसीटीवी से भी निगरानी रहेगी। परीक्षा के दौरान जिला मुख्यालय सहित संबंधित उपखण्ड मुख्यालय के उपखण्ड अधिकारी व तहसीलदार भी मॉनिटरिंग करते हुए पूर्ण निगरानी रखेंगे।

हैल्प डेस्क देगी परीक्षा केन्द्र की जानकारी
नागौर सहित डीडवाना, कुचामन तथा लाडनूं में निर्धारित किए गए केन्द्रों की जानकारी अभ्यर्थियों को देने के लिए सभी शहरों में रेलवे स्टेशन, बस स्टैण्ड व निर्धारित किए गए अस्थाई बस स्टैण्डों पर हैल्प डेस्क बनाई गई हैं, जो 25 सितम्बर की दोपहर से ही यहां पहुंचने वाले अभ्यर्थियों को परीक्षा केन्द्र के बारे में जानकारी देगी। इन हैल्प डेस्क पर शिक्षा, राजस्व विभाग तथा पुलिस तथा स्थानीय निकाय विभाग के कार्मिक तैनात रहेंगे। हैल्प डेस्क पर प्रभारी अधिकारियों की नियुक्ति भी की गई है। प्रत्येक हैल्प शहर पर संबंधित शहर में निर्धारित किए गए रीट परीक्षा केन्द्रों का रोडमेप भी उपलब्ध रहेगा।

पुलिस का जाब्ता रहेगा तैनात
नागौर एएसपी राजेश मीणा ने बताया कि एसपी अभिजीतसिंह के निर्देशानुसार रीट परीक्षा को लेकर नागौर जिला मुख्यालय सहित डीडवाना, लाडनूं तथा कुचामन में निर्धारित परीक्षा केन्द्रों पर सुरक्षा जाप्ता तैनात रहेगा। इसके अतिरिक्त परीक्षा से जुड़ी प्रत्येक गतिविधि पुलिस सुरक्षा के बीच रहेगी, ताकि किसी भी प्रकार की कोई गड़बड़ी न हो। रीट का आयोजन शांतिपूर्वक व सफलतम तरीके से हो, इसके लिए 1100 पुलिस के जवान, 2 आरएसी की बटालियन, हाडी रानी बटालियन की एक प्लाटून तथा 300 होमगार्ड भी तैनात किए जाएंगे। इनके अलावा परीक्षा केन्द्रों से संबंधित शहर के पुलिस उपाधीक्षक, थानाधिकारी व फ्लाइंग स्क्वायड पूरी तरह निगरानी रखेंगे। परीक्षा केन्द्र पर प्रवेश करते समय महिला अभ्यर्थियों की जांच के लिए अलग से व्यवस्था की गई है, जहां महिला पुलिस स्टॉफ ही तैनात रहेगा।

पहले सत्र में होगी रीट लेवल-2 की परीक्षा
रीट के आयोजन को लेकर नागौर के कॉर्डिनेटर डॉ. रणजीत पूनिया ने बताया कि परीक्षा का आयोजन दो सत्रों में होगा। पहले सत्र में लेवल-2 की परीक्षा होगी, जिसका समय सुबह 10 बजे से दोपहर 12.30 बजे तक रखा गया है। वहीं दूसरे सत्र में दोपहर ढाई बजे से शाम पांच बजे लेवल-प्रथम की परीक्षा होगी। पूनिया ने बताया कि लेवल प्रथम की परीक्षा में 30 हजार 405 तथा लेवल द्वितीय में 30 हजार 406 अभ्यर्थी भाग लेंगे। परीक्षा केन्द्र का केन्द्राधीक्षक संबंधित शिक्षण संस्थान का संस्था प्रधान रहेगा। निजी शिक्षण संस्थान पर स्थापित किए गए केन्द्र पर एक अतिरिक्त केन्द्राधीक्षक नियुक्त किया गया है, जो सरकारी स्कूल के प्रिंसिपल रैंक का अधिकारी है।

24 अभ्यर्थियों पर दो वीक्षक, 4 कक्षों पर एक सुपरवाइजर
मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी राजेन्द्र कुमार शर्मा ने बताया कि राजस्थान अध्यापक पात्रता परीक्षा को लेकर केन्द्राधीक्षकों से लेकर वीक्षकों तक की सूची तैयार की जा चुकी है। जिला स्तर से इसकी पूरी मॉनिटरिंग जिला शिक्षा अधिकारी माध्यमिक सुरेन्द्रसिंह शेखावत व अतिरिक्त जिला शिक्षा अधिकारी सुरेश सोनी तथा उपखण्ड स्तर पर संबंधित ब्लॉक के सीबीईओ कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि प्रत्येक परीक्षा केन्द्र में 24 अभ्यर्थियों पर दो वीक्षक तथा चार कक्षों पर एक सुपरवाइजर की नियुक्ति की गई है। वहीं परीक्षा केन्द्र में 500 अथ्यर्थियों पर एक दो सदस्यीय फ्लाइंग दल निगरानी रखेगा। ऐसे केन्द्र जहां 500 से अधिक अभ्यर्थी परीक्षा में शामिल होंगे, वहां पर अगले 250 अभ्यर्थियों पर फ्लाइंग दल का सदस्य और नियुक्त रहेगा। इसके अतिरिक्त प्रत्येक प्रत्येक परीक्षा केन्द्र पर एक फिल्ड सुपरवाइजर की सुविधा रहेगी।

अभ्यर्थियों के लिए रहेगी परिवहन व्यवस्था
नागौर जिले में रीट-2021 में भाग लेने के लिए अन्य जिलों से आने एवं जाने वाले परीक्षार्थियों की खातिर सुरक्षित, सुलभ एवं सहज परिवहन व्यवस्था के संबंध में स्थायी बस स्टैण्ड के अलावा जिला मुख्यालय पर दो अस्थायी बस स्टैण्ड तथा डीडवाना, कुचामन व लाडनूं कस्बे में चार अस्थाई बस स्टैण्ड की व्यवस्था की गई है। जिला परिवहन अधिकारी ओमप्रकाश चौधरी ने बताया कि 25 सितम्बर को जिले से बाहर जाने वाले परीक्षार्थियों के लिए अस्थायी बस स्टैण्ड माडी बाई महिला कॉलेज ग्राउण्ड, नागौर से निजी बसों का संचालन होगा तथा रोडवेज नागौर की बसें यथास्थान केन्द्रीय बस स्टैण्ड, नागौर से संचालित होंगी। 26 सितम्बर को परीक्षा के बाद वापस जाने वाले परीक्षार्थियों के लिए निजी बसों का माडी बाई कॉलेज ग्राउण्ड तथा निगम की बसों का राजकीय स्टेडियम, नागौर से संचालन होगा। नागौर जिले के परीक्षार्थियों के लिए जिले में ही आने के लिए स्वीकृत निजी मार्गों पर संचालित बसों के अतिरिक्त प्रत्येक उपखण्ड मुख्यालय पर दो-दो निजी बसें रिजर्व के रूप में व्यवस्था की गई है। परीक्षा केन्द्रों से बस स्टैण्ड तक जाने के लिए प्रत्येक केन्द्र पर 7 ऑटो रिक्शाओं की व्यवस्था रहेगी। समन्वय के लिए जिला परिवहन कार्यालय, नागौर में कन्ट्रोल रूप (8890323550) स्थापित किया गया है तथा उडऩदस्ते भी तैनात किये गए हैं, ताकि परीक्षार्थियों को किसी प्रकार की कठिनाइयों का सामना न करना पड़े। जिला परिवहन अधिकारी ने बताया कि रीट के आयोजन को लेकर अभ्यर्थियों के परिवहन के लिए जिले में 262 निजी बसों को अधिग्रहित किया गया है। इसके साथ-साथ रोडवेज की 120 बसें रीट अभ्यर्थियों के परिवहन में काम आएगी। इन बसों पर रीट परीक्षा का लेबल रहेगा तथा अभ्यर्थी अपना परीक्षा प्रवेश पत्र दिखाकर नि:शुल्क यात्रा कर सकेंगे। वहीं जिले में नियमित तौर पर संचालित होने वाली बसें अपने सुचारू रूट पर चलेंगी।

प्रत्येक परीक्षा केन्द्र पर दो चिकित्साकर्मी नियुक्त रहेंगे
परीक्षा को लेकर निर्धारित किए गए प्रत्येक परीक्षा केन्द्र पर कोरोना से बचाव व रोकथाम संबंधी गाइडलाइन की पूर्ण पालना की जाएगी। उप मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. देवराज राव ने बताया कि जिला कलक्टर तथा मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी के निर्देशानुसार रीट परीक्षा को लेकर निर्धारित परीक्षा केन्द्र पर दो चिकित्सा कार्मिक मय थर्मल गन, मास्क व सेनेटाइजर तथा आवश्यक दवाइयों के साथ नियुक्त रहेंगे। इसके अतिरिक्त परीक्षा आयोजन से जुड़े उपखण्ड मुख्यालयों में से प्रत्येक पर दो-दो 108 एम्बुलेंस आपातकालीन सेवाओं के लिए मय पैरामेडिकल स्टॉफ तैनात रहेंगी। 108 एम्बुलेंस संबंधित उपखण्ड मुख्यालय पर 25 सितम्बर की रात्रि से 27 सितम्बर की सुबह तक तैनात रहेंगी।

इंदिरा रसोई पर नि:शुल्क मिलेगा पैक्ड फूड
परीक्षा देने के लिए नागौर सहित कुचामन, लाडनूं व डीडवाना में आ रहे अभ्यर्थियों के लिए राज्य सरकार के निर्देशानुसार इंदिरा रसोई पर नि:शुल्क पैक्ड फूड की व्यवस्था की गई है। नगर परिषद आयुक्त श्रवण चौधरी ने बताया कि जिला मुख्यालय पर रीट अभ्यर्थियों के लिए नकास दरवाजा, गांधी चौक तथा निजी बस स्टैण्ड पर संचालित इंदिरा रसोई के अतिरिक्त रतन बहन स्कूल, वाटर वक्र्स चौराहा तथा विजय वल्लभ चौराहा पर एक्सटेंशन ब्रांच पर भी निशुल्क पैक्ड फूड की सुविधा रहेगी। इसके अतिरिक्त कुचामन, डीडवाना तथा लाडनूं कस्बे में भी संचालित इंदिरा रसोई पर रीट अभ्यर्थियों के लिए पैक्ड फूड की सुविधा रहेगी। आयुक्त चौधरी ने बताया कि कुचामन कस्बे में बस स्टैण्ड पर संचालित इंदिरा रसोई के अतिरिक्त नेहरू पार्क, कनोई पार्क तथा नगर पालिका के पास इसकी एक्सटेंशन ब्रांच भी खोली जाएगी। नागौर सहित डीडवाना, लाडनूं व कुचामन सिटी में इंदिरा रसोई तथा रीट परीक्षा में अभ्यर्थियों की सुविधा के लिए 25 सितम्बर से स्थापित की जाने वाली इसकी अस्थाई एक्सटेंशन ब्रांचों पर निशुल्क पैक्ड फूड की सुविधा उपलब्ध रहेगी।
डीडवाना नगर पालिका की अधिशासी अधिकारी प्रियंका बुडानिया ने बताया कि शहर में नेहरू पार्क के पास स्थापित इंदिरा रसोई के अतिरिक्त राजकीय अस्पताल के पास इसकी एक्सटेंशन ब्रांच भी खोली जाएगी, जहां रीट के अभ्यर्थियों को नि:शुल्क पैक्ड फूड की सुविधा मिलेगी। इसी प्रकार लाडनूं में भी संचालित इंदिरा रसोई के अतिरिक्त दो जगह इसकी स्थाई एक्सटेंशन बं्राच 25 सितम्बर को स्थापित कर दी जाएगी, जहां रीट परीक्षा के अभ्यर्थियों को नि:शुल्क पैक्ड फूड मुहैया करवाया जाएगा।

अस्पताल संचालक देंगे रीट परीक्षार्थियों को अल्पाहार
नागौर शहर के 41 परीक्षा केन्द्रों पर महादेव अस्पताल व जिला प्रशासन नागौर के सहयोग से रीट की पहली पारी के बाद परीक्षार्थियों को परीक्षा सेंटर पर ही अस्पताल संचालक डॉ. हापुराम चौधरी द्वारा अल्पाहार की व्यवस्था की जाएगी। जिसमें फलाहार के साथ बिस्किट पैकेट का वितरण किया जाएगा, जिससे परीक्षार्थियों को भोजन के लिए अपना कीमती समय खराब ना करना पड़े।

shyam choudhary Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned