Coal Scam: ममता के मंत्री मलय घटक ED के सामने नहीं हुए पेश, जानिए क्या बताई वजह

Coal Scam पश्चिम बंगाल में कोयला तस्करी मामले की जांच सीबीआई और ईडी दोनों एजेंसियां कर रही हैं, ED ने मलय घटक को दिल्ली तलब किया, लेकिन उन्होंने आने में असमर्थता जताई

By: धीरज शर्मा

Published: 14 Sep 2021, 01:41 PM IST

नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल ( West Bengal ) के कथित कोयला घोटाले ( Coal Scam ) की जांच कर रही ईडी ( ED ) ने ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) के कानून मंत्री मलय घटक (Law Minister Moloy Ghatak) को मंगलवार को दिल्ली दफ्तर तलप किया था। लेकिन मलय घटक ईडी के ऑफिस में हाजिर नहीं हुए।

टीएमसी नेता ने कहा कि वे ईडी पूछताछ करना चाहती है तो कोलकाता आकर करे या फिर वीडियो कॉन्फ्रेंसिं के जरिए वे उपलब्ध हो सकते हैं। इससे पहले ईडी ने इस मामले में सीएम ममता बनर्जी के भतीजे और महासचिव अभिषेक बनर्जी से पूछताछ की थी।

यह भी पढ़ेंः West Bengal: एक हफ्ते में दूसरी बार बीजेपी सांसद अर्जुन सिंह के घर के बाहर धमाका, कल ही NIA जांच के दिए थे आदेश

ममता सरकार में कानून मंत्री मलय घटक ने ईडी को लिखे पत्र में कहा है कि उनके लिए इतने कम समय में यात्रा करना संभव नहीं है। हालांकि, उन्होंने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए पेश होने या कोलकाता में जांच कराने का अनुरोध किया।

दरअसल टीएमसी सांसद अभिषेक बनर्जी कोयला घोटाले में पूछताछ के लिए 6 सितंबर को नई दिल्ली मे ईडी के सामने पेश हुए थे। इस दौरान उनसे 9 घंटे तक पूछताछ हुई थी।

अभिषेक बनर्जी ने इस जांच को राजनीति से प्रेरित बताया था। यही नहीं उन्होंने बीजेपी पर हमला बोलते हुए कहा था कि जांच एजेंसियों का इस्तेमाल करके कभी बंगाल की सत्ता में नहीं आ पाएंगे। इसके बाद ईडी ने अभिषेक बनर्जी से दोबारा पूछताछ के लिए 21 सितंबर को हाजिर होने का नया समन भेजा है।

यह भी पढ़ेंः West Bengal By Election: शुभेंदु अधिकारी बोले-BJP के लिए भवानीपुर में जीतना मुश्किल, जानिए क्या बताई वजह

दो एजेंसियां कर रही कोयला तस्करी की जांच
पश्चिम बंगाल में कोयला तस्करी मामले की जांच दो एजेंसियां कर रही हैं। एक सीबीआई और दूसरी ईडी। बता दें कि बंगाल के पश्चिमी हिस्सों में ईस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड कई खदानें चलाती है। इस मामले में आरोप है कि एक रैकेट के दौरान कई वर्षों से अवैध रूप से खनन किए गए कोयले को काला बाजार में बेचा गया।

प्रमुख आरोपी कोयला तस्कर लाला है। इसे अभिषेक बनर्जी का करीबी माना जाता है। केंद्रीय एजेंसियां बिनय मिश्रा की तलाश कर रही है। हालांकि ये खबरें भी सामने आई हैं कि मिश्रा देश छोड़कर जा चुका है।
केंद्रीय एजेंसियां इस मामले में अभिषेक बनर्जी की पत्नी रूजिरा बनर्जी को भी पूछताछ के लिए बुलाया था, लेकिन वह हाजिर नहीं हुई थी।

धीरज शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned