scriptCOVID-19 3rd Wave: NITI Aayog Warn To Keep 2 lakh ICU Beds Ready, 5 Lakh Cases May Registerd Daily In September | COVID-19 3rd Wave: नीति आयोग की चेतवानी, तैयार रखें 2 लाख ICU बेड, सितंबर में रोजाना आ सकते हैं 5 लाख केस | Patrika News

COVID-19 3rd Wave: नीति आयोग की चेतवानी, तैयार रखें 2 लाख ICU बेड, सितंबर में रोजाना आ सकते हैं 5 लाख केस

COVID-19 3rd Wave: नीति आयोग (NITI Aayog) ने कोरोना की थर्ड वेब को लेकर चेतावनी जारी करते हुए कहा है कि सितंबर में प्रतिदिन कोरोना समक्रमण के 4-5 लाख नए केस सामने आ सकते हैं। ऐसे में अभी से ही दो लाख ICU बेड्स की व्यवस्था कर रखने की जरूरत है।

नई दिल्ली

Updated: August 22, 2021 04:48:23 pm

नई दिल्‍ली। कोरोना संक्रमण (Corona Pendamic) के खिलाफ लडा़ई के लिए तेजी के साथ टीकाकरण अभियान को आगे बढ़ाया जा रहा है। वर्तमान समय में कोरोना के नए मामलों में लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है। लेकिन तमाम स्वास्थ्य विशेषज्ञ और डॉक्टर्स कोरोना की तीसरी लहर (Covid-19 Third Wave) की संभावनाओं को लेकर चेतावनी जारी कर रहे हैं।

covid19_icu_beds.jpg
COVID-19 3rd Wave: NITI Aayog Warns To Keep 2 lakh ICU Beds Ready, 5 Lakh Cases May Registered Will In September

अब नीति आयोग ने भी कोरोना की थर्ड वेब को लेकर चेतावनी जारी की है। नीति आयोग ने कहा है कि सितंबर में प्रतिदिन कोरोना समक्रमण के 4-5 लाख नए केस सामने आ सकते हैं। ऐसे में अभी से ही दो लाख ICU बेड्स की व्यवस्था कर रखने की जरूरत है।

यह भी पढ़ें
-

उपलब्धि: सात राज्यों में तीन करोड़ से अधिक टीकाकरण, देशभर में वैक्सीनेशन का आंकड़ा 50 करोड़ पार

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, इससे पहले नीति आयोग ने पिछले साल सितंबर 2020 में दूसरी लहर से पहले अनुमान लगाया था कि गंभीर/मध्यम गंभीर लक्षणों वाले लगभग 20 फीसदी रोगियों को अस्पताल में भर्ती होने की आवश्यकता पड़ सकती है। लेकिन अब जो अनुमान लगाया गया है वह पहले की अपेक्षा काफी अधिक है।

नीति आयोग (NITI Aayog) के सदस्‍य वीके पॉल ने कोरोना संक्रमण से निपटने के लिए पिछले महीने ही केंद्र सरकार को कुछ सुझाव दिए थे। उन्होंने कहा था कि तीसरी लहर में 100 मरीजों में से 100 को अस्पतालों में भर्ती करने की जरूरत पड़ सकती है।

हर दिन आ सकते हैं चार लाख नए केस

नीति आयोग का कहना है कि कोरोना की तीसरी लहर में हालात और भी अधिक खराब हो सकते हैं, इसके लिए हमें पहले से ही तैयार रहना होगा। नीति आयोग ने एक दिन में 4 से 5 लाख नए कोरोना केस दर्ज किए जाने का अनुमान लगाया है। ऐसे में जरूरी है कि अगले महीने तक दो लाख ICU बेड तैयार किए जाएं। इनमें वेंटिलेटर के साथ 1.2 लाख ICU बेड, 7 लाख बिना ICU अस्पताल के बेड (इनमें से 5 लाख ऑक्सीजन वाले बेड) और 10 लाख कोविड आइसोलेशन केयर बेड होने चाहिए।

यह भी पढ़ें
-

भारत में आज भी छह कोरोना वैक्सीन, कई विकसित देशों में एक भी नहीं : निर्मला सीतारमण

नीति आयोग ने यह अनुमान कोरोना की दूसरी लहर के बाद देशभर के अलग-अलग अस्पतालों में भर्ती हुए मरीजों के पैटर्न के आधार पर लगाया है। दूसरी लहर के दौरान दस राज्यों में अधिकतम 21.74 फीसदी मामले दर्ज हुए थे। इनमें से 2.2 फीसदी लोगों को आईसीयू में भर्ती किए जाने की जरूरत पड़ी थी।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ससुराल में इस अक्षर के नाम की लडकियां बरसाती हैं खूब धन-दौलत, किस्मत की धनी इन्हें मिलते हैं सारे सुखGod Power- इन तारीखों में जन्मे लोग पहचानें अपनी छिपी हुई ताकत“बेड पर भी ज्यादा टाइम लगाते हैं” दीपिका पादुकोण ने खोला रणवीर सिंह का बेडरूम सीक्रेटइन 4 राशियों की लड़कियां जिस घर में करती हैं शादी वहां धन-धान्य की नहीं रहती कमीकरोड़पति बनना है तो यहां करे रोजाना 10 रुपये का निवेशSharp Brain- दिमाग से बहुत तेज होते हैं इन राशियों की लड़कियां और लड़के, जीवन भर रहता है इस चीज का प्रभावमौसम विभाग का बड़ा अलर्ट जारी, शीतलहर छुड़ाएगी कंपकंपी, पारा सामान्य से 5 डिग्री नीचेइन 4 नाम वाले लोगों को लाइफ में एक बार ही होता है सच्चा प्यार, अपने पार्टनर के दिल पर करते हैं राज

बड़ी खबरें

Corona cases in india: पिछले 24 घंटे में कोरोना के 2.35 लाख केस, 871 की मौत, संक्रमण दर हुई 13.39%UP Assembly Elections 2022: भाजपा ने किसानों से झूठा वादा किया, उन्हें धोखा दिया, प्रेस कांफ्रेंस में बोले अखिलेशदिल्ली में वीकेंड कर्फ्यू खत्म, आज से नई गाइडलाइंस के साथ मेट्रो सेवाएं शुरूउत्तर प्रदेश विधान परिषद चुनाव 2022 की डेट का ऐलान, जानें कितने सीटों के लिए और कब आएगा रिजल्टमुस्लिम वोटों को लुभाने के लिए बसपा ने किया बड़ा खेल, बाकी हैरानखतरनाक साइड इफैक्ट : इलाज के बाद ठीक हुए मरीजों पर आइआइटी का शोध, खराब हो रहे ये अंगओमिक्रॉन के नए वैरिएंट की एंट्री, मरीजों के सैंपल भेजे दिल्ली, 1418 पुलिसवाले भी संक्रमितछत्तीसगढ़ में कोरोना का कहर, 48 घंटे में 30 मरीजों की मौत, सबसे ज्यादा 8 संक्रमितों की मौत दुर्ग में
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.