scriptDelhi Air Pollution air Deteriorated In 48 Hours AQI Increased more then three times | Delhi Air Pollution: महज 48 घंटे में बिगड़ी राजधानी की हवा, नमी में कमी के साथ तीन गुना से ज्यादा बढ़ा AQI | Patrika News

Delhi Air Pollution: महज 48 घंटे में बिगड़ी राजधानी की हवा, नमी में कमी के साथ तीन गुना से ज्यादा बढ़ा AQI

Delhi Air Pollution राजधानी में 48 घंटे के अंदर वायु गुणवत्ता सूचकांक ( AQI ) में 175 अंकों को उछाल आया और वह 46 से 221 पर जा पहुंचा। यानी तीन गुना से भी ज्यादा एक्यूआई बढ़ा है। सफर का पूर्वानुमान है कि बारिश नहीं होने की स्थिति में प्रदूषण का स्तर तेजी से बढ़ेगा

नई दिल्ली

Published: October 21, 2021 09:34:00 am

नई दिल्ली। देश की राजधानी दिल्ली में एक बार फिर हवा खराब ( Delhi Air Pollution ) हो रही है। बारिश बंद होने के बाद वातावरण की नमी कम होने से दिल्ली की हवा अच्छी से खराब हो रही गई है। इस बात का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि महज 48 घंटे के अंदर वायु गुणवत्ता सूचकांक ( AQI ) में 175 अंकों को उछाल आया और वह 46 से 221 पर जा पहुंचा।
Delhi Air Pollution
Delhi Air Pollution
यानी तीन गुना से भी ज्यादा एक्यूआई बढ़ा है। सफर का पूर्वानुमान है कि बारिश नहीं होने की स्थिति में प्रदूषण का स्तर तेजी से बढ़ेगा।

यह भी पढ़ेंः Delhi Weather News Updates Today: दिल्ली में तापमान गिरने से गर्मी से मिली राहत, जानिए आज के मौसम का हाल

209.jpgपांच दिन में और बिगड़ सकती है हवा
मौसम वैज्ञानिकों की मानें तो दिल्ली हवा आने वाले पांच दिन में और बिगड़ सकती है। इसकी बड़ी वजह बारिश बंद होने के बाद वातारवरण में नमी में आ रही कमी है।
दरअसल सोमवार की तेज बारिश से दिल्ली की हवा साफ हो गई थी। धूल के महीन कण पीएम10 हवा में पहुंचना बंद हो गए थे।

पड़ोसी राज्यों में पराली जलने के मामलों में भी कमी आई थी। इनके मिले-जुले असर से साल में पहली बार हवा की गुणवत्ता अच्छी श्रेणी में चली गई है। 18 अक्टूबर को सूचकांक 46 दर्ज किया गया था।
वहीं 19 अक्टूबर यानी मंगलवार की बात करें तो इस दिन भी बारिश का असर दिखा और हवा की गुणवत्ता बेहतर रही, लेकिन खिली धूप में बुधवार को हवा में नमी का स्तर 47 फीसदी तक पहुंच गया। इससे धूल के महीन कणों का धरती से निकलना संभव हो गया।
दूसरी तरफ पड़ोसी राज्यों में पराली जलाने के 746 मामले रिकार्ड होने से पीएम2.5 का हिस्सा 12 फीसदी चला गया। इससे वायु गुणवत्ता सूचकांक 221 दर्ज किया गया।

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ( CPCB ) के मुताबिक, दो दिन में प्रदूषण स्तर में तेजी से बढ़ोतरी हुई है। बुधवार को सूचकांक 221 पर पहुंच गया। हवा का यह स्तर खराब श्रेणी में आता है।
यह भी पढ़ेँः दिल्ली में बारिश ने तोड़ा 61 का रिकॉर्ड, जानिए आगे कैसा रहेगा मौसम का हाल

वहीं सफर का पूर्वानुमान है कि आने वाले दिनों में पड़ोसी राज्यों में पराली जलाने के मामले बढ़ने का अंदेशा है। हवा की दिशा उत्तर पश्चिम होने से पराली से निकलने वाले पीएम 2.5 की मात्रा भी बढ़ेगी। ऐसे में बारिश नहीं हुई तो अगले दो दिन में हवा खराब स्तर में पहुंच जाएगी। उसके बाद के तीन दिन में यह गंभीर स्तर तक पहुंच सकती है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

धन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोगशाहरुख खान को अपना बेटा मानने वाले दिलीप कुमार की 6800 करोड़ की संपत्ति पर अब इस शख्स का हैं अधिकारजब 57 की उम्र में सनी देओल ने मचाई सनसनी, 38 साल छोटी एक्ट्रेस के साथ किए थे बोल्ड सीनMaruti Alto हुई टॉप 5 की लिस्ट से बाहर! इस कार पर देश ने दिखाया भरोसा, कम कीमत में देती है 32Km का माइलेज़UP School News: छुट्टियाँ खत्म यूपी में 17 जनवरी से खुलेंगे स्कूल! मैनेजमेंट बच्चों को स्कूल आने के लिए नहीं कर सकता बाध्यअब वायरल फ्लू का रूप लेने लगा कोरोना, रिकवरी के दिन भी घटेइन 12 जिलों में पड़ने वाल...कोहरा, जारी हुआ यलो अलर्ट2022 का पहला ग्रहण 4 राशि वालों की जिंदगी में लाएगा बड़े बदलाव

बड़ी खबरें

Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.