scriptExperts says Health Emergency and Advised to Impose Lockdown by Closing Schools In Delhi | Delhi: एक्सपर्ट्स ने की स्कूल बंद कर लॉकडाउन लगाने की अपील, बताई हेल्थ इमरजेंसी | Patrika News

Delhi: एक्सपर्ट्स ने की स्कूल बंद कर लॉकडाउन लगाने की अपील, बताई हेल्थ इमरजेंसी

Delhi पर्यावरणविद विमलेंदु के मुताबिक वायु प्रदूषण जानलेवा साबित हो सकता है, अगर समय रहते सही कदम नहीं उठाए गए। उन्होंने सलाह दी कि प्रदूषण के संकट को देखते हुए दिल्ली-एनसीआर और उसके आसपास स्कूलों को बंद कर देना चाहिए। वाहनों की आवाजाही को नियंत्रित करने के लिए लॉकडाउन जैसे उपाय किए जाने चाहिए

नई दिल्ली

Published: November 07, 2021 04:12:52 pm

नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली ( Delhi ) की हवा लगातार खराब हो रही है। शनिवार के बाद रविवार को भी दिल्ली की हवा गंभीर श्रेणी में दर्ज की गई। दिल्ली में बढ़ते वायु प्रदूषण ( Delhi Air Pollution ) के एक्सपर्ट्स ने दिल्ली में स्कूलों को बंद करने के साथ ही लॉकडाउन लगाने की सलाह दी है।
356.jpg
दिल्ली-एनसीआर की बिगड़ी आबोहवा को लेकर डॉक्टर और पर्यावरण विशेषज्ञ लगातार चिंता जता रहे हैं। पर्यावरणविद् विमलेन्दु झा का कहना है कि यह महत्वपूर्ण है कि हम उत्तर भारत में वर्तमान वायु प्रदूषण संकट की गंभीरता को समझें। यह एक हेल्थ इमरजेंसी जैसी स्थिति है।
यह भी पढ़ेँः Delhi Air Pollution: दिल्ली में आज भी गंभीर श्रेणी में हवा, सरकार ने तैनात किए 114 पानी के टैंकर, लगाए स्मॉग गन

जानलेवा साबितहो सकता है वायु प्रदूषण
पर्यावरणविद विमलेंदु के मुताबिक वायु प्रदूषण जानलेवा साबित हो सकता है, अगर समय रहते सही कदम नहीं उठाए गए। उन्होंने सलाह दी कि प्रदूषण के संकट को देखते हुए दिल्ली-एनसीआर और उसके आसपास स्कूलों को बंद कर देना चाहिए।
यही नहीं वाहनों की आवाजाही को नियंत्रित करने के लिए लॉकडाउन जैसे उपाय किए जाने चाहिए। इसके साथ ही निर्माण गतिविधियों पर भी रोक लगे।

बता दें कि दिल्ली सरकार लगातार प्रदूषण से निपटने के लिए कड़े कदम उठा रही है। हालांकि राजधानी में 1 नवंबर से ही सभी कक्षाओं को शुरू किया गया है। ऐसे में अगर एक्स्पर्ट्स की सलाह मानी जाती है तो 19 महीनों बाद खोले गए स्कूल एक बार फिर बंद हो सकते हैं। इसके साथ ही ऑफिस और अन्य संस्थानों को भी ट्रैफिक ना बढ़े और इससे प्रदूषण ना हो बंद किया जा सकता है।
विमलेन्दु झा ने कहा था कि वायु प्रदूषण से हर साल 15 लाख लोगों की मौत होती है। एक रिपोर्ट में कहा गया है कि दिल्ली-एनसीआर में रहने वाले लोग वायु प्रदूषण के कारण अपने जीवन के 9.5 साल खो देते हैं।
लंग केयर फाउंडेशन का कहना है कि वायु प्रदूषण के कारण हर तीसरे बच्चे को अस्थमा है।
बता दें कि दिल्ली में लगातार तीसरे दिन हवा का स्तर काफी खराब रहा है। शुक्रवार और शनिवार के बाद रविवार की सुबह ठंड रही और न्यूनतम तापमान 14.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो इस मौसम के हिसाब से सामान्य है।
यह भी पढ़ेंः Delhi: यमुना में बढ़ा अमोनिया का स्तर, कई इलाकों में आज प्रभावित रहेगी पानी की सप्लाई

वहीं वायु गुणवत्ता में गिरावट दर्ज की गई और वायु गुणवत्ता सूचकांक (AQI) 433 दर्ज किया गया। केंद्र द्वारा संचालित वायु गुणवत्ता प्रणाली और मौसम पूर्वानुमान एवं अनुसंधान डेटा (सफर) ने बताया कि सोमवार तक वायु गुणवत्ता में सुधार होने की संभावना है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

सीएम Yogi का बड़ा ऐलान, हर परिवार के एक सदस्य को मिलेगी सरकारी नौकरीचंडीमंदिर वेस्टर्न कमांड लाए गए श्योक नदी हादसे में बचे 19 सैनिकआय से अधिक संपत्ति मामले में हरियाणा के पूर्व CM ओमप्रकाश चौटाला को 4 साल की जेल, 50 लाख रुपए जुर्माना31 मई को सत्ता के 8 साल पूरा होने पर पीएम मोदी शिमला में करेंगे रोड शो, किसानों को करेंगे संबोधितराहुल गांधी ने बीजेपी पर साधा निशाना, कहा - 'नेहरू ने लोकतंत्र की जड़ों को किया मजबूत, 8 वर्षों में भाजपा ने किया कमजोर'Renault Kiger: फैमिली के लिए बेस्ट है ये किफायती सब-कॉम्पैक्ट SUV, कम दाम में बेहतर सेफ़्टी और महज 40 पैसे/Km का मेंटनेंस खर्चIPL 2022, RR vs RCB Qualifier 2: राजस्थान ने बैंगलोर को 7 विकेट से हराया, दूसरी बार IPL फाइनल में बनाई जगहपूर्व विधायक पीसी जार्ज को बड़ी राहत, हेट स्पीच के मामले में केरल हाईकोर्ट ने इस शर्त पर दी जमानत
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.