scriptlalkrishna Advani got ramlala mandir inauguration invitation | आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी को मिला राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा समारोह का न्यौता, चंपत राय ने की न आने की अपील | Patrika News

आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी को मिला राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा समारोह का न्यौता, चंपत राय ने की न आने की अपील

locationनई दिल्लीPublished: Dec 19, 2023 12:06:03 pm

Submitted by:

Prashant Tiwari

Ram Mandir inauguration: भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी को रामलला की प्राण प्रतिष्ठा समारोह का न्यौता दिया गया है।

 lalkrishna Advani got ramlala mandir inauguration invitation

अयोध्या में भगवान श्रीराम के मंदिर का निर्माण कार्य अब अपने अंतिम चरण में पहुंच चुका है। 22 जनवरी को खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी प्राण प्रतिष्ठा समारोह में मुख्य यजमान के रूप में शामिल होंगे। ऐसे में सारी तैयारियों को जल्द से जल्द पूरा किया जा रहा है। वहीं, अब प्राण प्रतिष्ठा में आने वाले मुख्य अतिथीयों को लेकर एक महत्वपूर्ण अपडेट आया है। मंगलवार को संघ से डॉ कृष्णगोपाल, रामलाल और विश्व हिंदू परिषद के आलोक कुमार ने लालकृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी के घर पर जाकर 22 जनवरी को होने वाली प्राण प्रतिष्ठा समारोह में शामिल होने के लिए न्यौता दिया। हालांकि मंगलवार सुबह मंदिर ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने बताया कि प्राण प्रतिष्ठा समारोह में भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता और राम मंदिर के ध्वाजावाहक रहें लालकृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी को कार्यक्रम उद्घाटन समारोह में ना पहुंचने की अपील की गई है।

उद्घाटन समारोह में न आने की अपील- चंपत राय

राम मंदिर ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने मंगलवार को प्रेस कांफ्रेंस कर कहा है कि मुरली मनोहर जोशी और लाल कृष्ण आडवाणी स्वास्थ्य और उम्र संबंधी कारणों के चलते उद्घाटन समारोह में शामिल नहीं हो पाएंगे। दोनों बुजुर्ग हैं, इसलिए उनकी उम्र को देखते हुए उनसे न आने का अनुरोध किया गया है, जिसे दोनों ने स्वीकार भी कर लिया है।

उम्र संबंधी कारणों का दिया हवाला
चंपत राय ने प्रेस कांफ्रेंस के दौरान बताया कि मंदिर के प्राण प्रतिष्ठा समारोह के दौरान आडवाणीजी का होना अनिवार्य है, लेकिन उनकी उम्र को देखते हुए हम कहेंगे कि वे कृपया ना आएं। वहीं, जब मुरली मनोहर जोशी को लेकर उनसे सवाव किया गया तो उन्होंने कहा कि डॉ. मुरली मनोहर जोशी से मेरी स्वयं बात हुई है। मैंने उनसे फोन पर यही कहता रहा कि आप मत आइए और वो जिद करते रहे कि मैं आऊंगा। मैं बार-बार निवेदन करता रहा कि गुरुजी मत आइये। आपकी उम्र और सर्दी के कारण आपको दिक्कत हो सकती है। आपने अभी घुटने भी बदलवाए हैं।
घर के बुजुर्गों को समझाने में होती है दिक्कत

इस दौरान चंपत राय ने राम मंदिर के शिलान्यास से जुड़े एक घटना का जिक्र करते हुए बताया कि राम मंदिर के शिलान्यास के समय 5 अगस्त को कल्याण सिंह जिद करने लगे की वे जरूर आयेंगे। इस पर मैंने उनके (कल्याण सिंह) लड़के जयवीर सिंह को कहा कि उन्हें हां-हां करते रहो इस बारे में आखिरी के दिन सोचा जाएगा और आखिरी दिन हमने उन्हें कहा कि आपको नहीं आना है। उन्होंने यह बात मान ली। घर के बुजुर्गों को इसी तरह समझाया जाता है।

राम मंदिर समारोह में शामिल होंगे ये VVIP

बता दें कि राम मंदिर समारोह में शामिल होने के लिए मंदिर ट्रस्ट की तरफ से कई VVIP लोगों को न्यौता भेजा गया है। स्वयं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी प्राण प्रतिष्ठा समारोह में मुख्य यजमान के रूप में शामिल होने वाले हैं। पीएम मोदी ठीक 11 बजे रामजन्मभूमि परिसर में प्रवेश करेंगे। फिर साढ़े 11 बजे तक भगवान रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के लिए पहुंचेंगे। उनके अलावा सर संघचालक मोहन भागवत, यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ, राज्यपाल और सभी ट्रस्टी राम मंदिर के प्रांगण में उपस्थित रहेंगे. इसके अलावा कई अन्य गणमान्य भी राम मंदिर के उद्घाटन कार्यक्रम के साक्षी बनेंगे।

सारी तैयारियों को जल्द से जल्द पूरा करने का निर्देश

बता दें कि 22 जनवरी को राम मंदिर का उद्धघाटन होगा। इसके लिए अभी बची हुई सारी तैयारियों को जल्द से जल्द पूरा करने का निर्देश दिया गया है। उद्घाटन के अगले ही दिन यानी 23 जनवरी से ही आम जनता को भगवान राम के दर्शन की अनुमति दे दी जाएगी।

1000 कमरों को किया गया बुक

चंपत राय ने बताया कि अयोध्या के कारसेवकपुरम में 1000 लोगों के लिए रैनबसेरा टाइप (Dormitory) रुकने की व्यवस्था होगी। इसके अलावा 850 लोगों के रुकने की व्यवस्था टिन कंपार्टमेंट में होगी। धर्मशाला और दूसरे स्थानों पर 600 कमरे मिल गए हैं। उम्मीद है कि यह संख्या 1000 कमरे की हो जाएगी।

प्राण प्रतिष्ठा के दिन छावनी में तब्दील हो जाएगी अयोध्या

बता दें कि अयोध्या में भगवान श्रीराम के मंदिर उद्घघाटन समारोह के दौरान अयोध्य में देश की बड़ी शख्सियत मौजूद होंगे। इस दौरान उनकी सुरक्षा को ध्यान में रखकर एसपीजी और कई सुरक्षा एजेंसियां अभी से अयोध्या में डेरा डाल चुकी है। अयोध्या के कोने-कोने पर नजर रखा जा रहा है। छोटी से छोटी इनपुट पर कार्रवाई की जा रही है। वहीं, प्राण प्रतिष्ठा के दिन सुरक्षा की दृष्टी से अतिरिक्त फोर्स मंगाने की तैयारी की जा रही है।

ट्रेंडिंग वीडियो