scriptOdisha Elderly Woman Gave Property Worth Crores In the Name of Rickshaw Driver In Katak | Odisha: बुजुर्ग महिला ने रिक्शा चालक के नाम कर दी करोड़ों की संपत्ति, जानिए क्या है पूरा मामला | Patrika News

Odisha: बुजुर्ग महिला ने रिक्शा चालक के नाम कर दी करोड़ों की संपत्ति, जानिए क्या है पूरा मामला

Odisha हर कोई जीवनभर दौलत कमाने में जुटा रहता है ताकि बुढ़ापे में आकर चैन की नींद सो सके और मरने के बाद उसके बच्चों को कोई तकलीफ ना हो। लेकिन कटक की एक बुजुर्ग महिला ने अपनी और अपने परिवार की 25 साल की सेवा के सम्मान में अपनी सारी संपत्ति एक रिक्शा चालक को दान में दे दी

नई दिल्ली

Published: November 15, 2021 04:57:10 pm

नई दिल्ली। ओडिशा ( Odisha ) के कटक में एक बुजुर्ग महिला ने कुछ ऐसा कदम उठाया कि हर कोई दंग रह गया। दरअसल हर कोई जीवनभर दौलत कमाने में जुटा रहता है ताकि बुढ़ापे में आकर चैन की नींद सो सके और मरने के बाद उसके बच्चों को कोई तकलीफ ना हो। लेकिन कटक की एक बुजुर्ग महिला ने अपनी और अपने परिवार की 25 साल की सेवा के सम्मान में अपनी सारी संपत्ति एक रिक्शा चालक को दान में दे दी।
445.jpg
जिस किस ने सुना वो हैरान रह गया कि आखिर अपनी करोड़ों की संपत्ति इस महिला ने एक रिक्शा वाले को क्यों दान में दे दी।

यह भी पढ़ेँः कोरोना से जंग के बीच इस बीमारी ने बरपाया कहर, जानिए कितने साल का टूटा रिकॉर्ड
कटक के सुताहाट की 63 वर्षीय मिनाती पटनायक ने अपना तीन मंजिला घर, सोने के गहने और अपनी सारी संपत्ति एक रिक्शा चालक बुद्ध सामल को दान कर दी है।

दरअसल बुद्ध सामल कई दशकों ने इस परिवार की सेवा करता था। बुजुर्ग महिला इस रिक्शा चाल की सेवा से इतनी ज्यादा प्रभावित हुई कि उसने अपनी करोड़ों की संपत्ति उसे दान में दे दी।
पिछले पति की हो गई थी मृत्यु
मिनाती ने पिछले साल अपने पति को गुर्दे के फेल हो जाने के कारण खो दिया था। यही नहीं उनकी बेटी की हाल में ही हृदय गति रुकने से मृत्यु हो गई थी। रिक्शा चालक और उसके परिवार ने 25 साल तक मिनाती और उसके पति की सेवा की थी।
मिनाती पटनायक के मुताबिक, वो अपने पति और बेटी की मृत्यु के बाद बिखर गईं और दुख में जी रही थी। मिनाती ने बताया कि, 'इस दुखद नुकसान के बाद, मेरे किसी भी रिश्तेदार ने मेरा साथ नहीं दिया। मैं पूरी तरह से अकेली थी। हालांकि, यह रिक्शा चालक और उसका परिवार मेरे मुश्किल समय में मेरे साथ खड़ा रहा और बदले में कुछ भी उम्मीद किए बिना मेरे स्वास्थ्य का ख्याल रखा।'
मिनाती ने कहा, 'मेरे रिश्तेदारों के पास पर्याप्त संपत्ति है। मैं हमेशा एक गरीब परिवार को अपनी संपत्ति देना चाहती थी, यही वजह है कि मैंने कानूनी रूप से सब कुछ बुद्ध सामल और उसके परिवार के नाम करने का फैसला लिया। ताकि मेरी मृत्यु के बाद उन्हें किसी तरह की तकलीफ ना हो।
मिनाती को दो बहनों ने जताई आपत्ति
बता दें कि मिनाती की तीन बहनों में से दो ने अपनी संपत्ति रिक्शा चालक और उसके परिवार को देने के उसके फैसले पर आपत्ति जताई, लेकिन मिनाती अपने फैसले से डिगी नहीं।
बुद्ध सामल के घर में उनके माता-पिता के अलावा, पत्नी और तीन बच्चे, दो बेटे और एक बेटी है।

यह भी पढ़ेंः Inflation In India: आम आदमी को बड़ा झटका, महंगाई का नया आंकड़ा आपको कर देगा हैरान

क्या बोला बुद्ध सामल
बुद्ध सामल मिनाती को मां की मानता है। उसने कहा कि जब उन्होंने मुझे अपनी संपत्ति देने के बारे में बताया तो मैं हैरान रह गया। दो दशकों से ज्यादा समय से मैंने इस परिवार की सेवा की। जब तक जिंदा हूं उनकी सेवा करता रहूंगा।
बता दें कि मिनाती के कहने के बाद बुद्ध ने दो साल पहले रिक्शा चलाना छोड़ दिया। वह चार महीने पहले मिनाती के अनुरोध पर अपनी पत्नी और बच्चों के साथ मिनाती के घर रहने लगा।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीजब हनीमून पर ताहिरा का ब्रेस्ट मिल्क पी गए थे आयुष्मान खुराना, बताया था पौष्टिकIndian Railways : अब ट्रेन में यात्रा करना मुश्किल, रेलवे ने जारी की नयी गाइडलाइन, ज़रूर पढ़ें ये नियमधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजशेखावाटी सहित राजस्थान के 12 जिलों में होगी बरसातदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ

बड़ी खबरें

देश में वैक्‍सीनेशन की रफ्तार हुई और तेज, आंकड़ा पहुंचा 160 करोड़ के पारपाकिस्तान के लाहौर में जोरदार बम धमाका, तीन की नौत, कई घायलजम्मू कश्मीर में सुरक्षाबलों को मिली बड़ी कामयाबी, लश्कर-ए-तैयबा का आतंकी जहांगीर नाइकू आया गिरफ्त मेंCovid-19 Update: दिल्ली में बीते 24 घंटे के भीतर आए कोरोना के 12306 नए मामले, संक्रमण दर पहुंचा 21.48%घर खरीदारों को बड़ा झटका, साल 2022 में 30% बढ़ेंगे मकान-फ्लैट के दाम, जानिए क्या है वजहचुनावी तैयारी में भाजपा: पीएम मोदी 25 को पेज समिति सदस्यों में भरेंगे जोशखाताधारकों के अधूरे पतों ने डाक विभाग को उलझायाकोरोना महामारी का कहर गुजरात में अब एक्टिव मरीज एक लाख के पार, कुल केस 1000000 से अधिक
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.