scriptOmicron Fear Restrictions Extended In Mumbai Till January 15 citizen prohibited to Pulic Places | Omicron के खतरे के बीच मुंबई में हर दिन 12 घंटे पाबंदी, सरकार ने 15 जनवरी तक जारी की खास गाइडलाइन | Patrika News

Omicron के खतरे के बीच मुंबई में हर दिन 12 घंटे पाबंदी, सरकार ने 15 जनवरी तक जारी की खास गाइडलाइन

Omicron के बढ़ते खतरे के बीच महाराष्ट्र में पाबंदियों का दायरा बढ़ता जा रहा है। खास तौर पर मुंबई में 12 घंटे तक की पाबंदियां लागू कर दी गई है। इसके साथ ही पिछले सभी पाबंदियों को भी 15 जनवरी तक आगे बढ़ा दिया गया है। नियमों के उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

नई दिल्ली

Published: December 31, 2021 04:06:05 pm

नई दिल्ली। देशभर में कोरोना वायरस ( Coronavirus ) और उसका नया वैरिएंट ओमिक्रॉन ( Omicron Variant ) अपने पैर पसार रहा है। देश के 21 राज्यों में ओमिक्रॉन की दहशत फैल चुकी है। कुछ राज्यों के हालात तो काफी चिंताजनक बने हुए हैं। वहीं देश में अब तक ओमिक्रॉन से 2 लोगों की मौत भी हो चुकी है। पहली मौत महाराष्ट्र में तो दूसरी राजस्थान में हुई है। एक महीने के अंदर ओमिक्रॉन ने अपना कहर बरपाना शुरू कर दिया है। वहीं इसका सबसे ज्यादा असर महाराष्ट्र में देखने को मिल रहा है। यही वजह है कि यहां सरकार लगातार कड़े प्रतिबंद लगा रही है। देश की आर्थिक राजधानी मुंबई ( Mumbai )के लिए भी शनिवार 31 दिसंबर को खास गाइडलाइन जारी की गई है। इसके मुताबिक माया नगरी में रोजाना 12 घंटे तक की पाबंदियां शामिल हैं।
Omicron Fear Restrictions Extended In Mumbai Till January 15 citizen probihated to Pulic Places
कोरोना वायरस के मामलों को देखते हुए मुंबई में प्रतिबंधों को 15 जनवरी तक बढ़ा दिया गया है। प्रशासन की ओर से इसको लेकर नए दिशा निर्देश भी जारी कर दिए गए हैं। नए आदेश के मुताबिक अब सार्वजनिक स्थानों पर भी जाने को लेकर पाबंदियां लागू रहेंगी। इसके साथ ही मुंबई में CRPC की धारा 144 के तहत प्रतिबंधों को 15 जनवरी तक बढ़ा दिया गया है।

यह भी पढ़ेँः देश में Omicron से पहली मौत, महाराष्ट्र में नाइजीरिया से लौटे शख्स ने गंवाई जान

पाबंदियों का करना होगा पालन


- मुंबई पुलिस ने नागरिकों को बीचेस, खुले मैदानों, समुद्र के किनारों, सैरगाहों, गार्डन्स, पार्कों या इसी तरह के सार्वजनिक स्थानों पर शाम 5 बजे से सुबह 5 बजे तक (12 घंटें) जाने पर रोक लगा दी है।

- आदेश में कहा गया है, 'मामलों में वृद्धि और नए ओमिक्रॉन वैरिएंट के उभरने से शहर को कोविड-19 महामारी से खतरा बना हुआ है। नए साल से पहले सभी बड़े समारोहों पर प्रतिबंध लगा दिया गया है।

- शादी-विवाहों के मामले में चाहे बंद स्थान में हो या खुले स्थान में सिर्फ 50 लोगों की उपस्थिति तक सीमित कर दिया गया है।

- किसी भी सभा या कार्यक्रम के मामले में उपस्थित लोगों की अधिकतम संख्या भी 50 व्यक्तियों तक सीमित कर दी गई है।

- अंतिम संस्कार के मामले में, उपस्थित लोगों की अधिकतम संख्या 20 व्यक्तियों तक सीमित रहेगी। पहले से मौजूद अन्य सभी निर्देश अगले आदेश तक लागू रहेंगे।
बता दें कि मुंबई में यह आदेश पुलिस आयुक्त, ग्रेटर मुंबई के नियंत्रण वाले क्षेत्रों में, 31 दिसंबर 2021 के दिन में 1 बजे से लागू हो चुके हैं, जो 15 जनवरी 2022 की रात 12.00 बजे तक लागू रहेंगे।
यह भी पढ़ेँः कोरोना के बढ़ते खतरे के बीच दो राज्यों में R Value ने पार किया दो का आंकड़ा, जानिए क्या है इसका मतलब

नियमों के उल्लंघन पर होगी कड़ी कार्रवाई


इस आदेश का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। कोई भी व्यक्ति महामारी रोग अधिनियम 1897 और राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 और अन्य कानूनी प्रावधानों के तहत दंड प्रावधानों के अलावा भारतीय दंड संहिता 1860 की धारा 188 के तहत दंडनीय होगा।
सरकार ने बताया कि मानव जीवन, स्वास्थ्य या सुरक्षा के लिए खतरे को रोकने और कोविड-19 वायरस के प्रसार को कम करने की दृष्टि से ये प्रतिबंध लगाए गए हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Republic Day 2022: 939 वीरों को मिलेंगे गैलेंट्री अवॉर्ड, सबसे ज्यादा मेडल जम्मू-कश्मीर पुलिस कोस्वास्थ्य मंत्री ने कोरोना हालातों पर राज्यों के साथ की बैठक, बोले- समय पर भेजें जांच और वैक्सीनेशन डाटाBudget 2022: कोरोना काल में दूसरी बार बजट पेश करेंगी निर्मला सीतारमण, जानिए तारीख और समयमुख्यमंत्री नितीश कुमार ने छोड़ा BJP का साथ, UP चुनावों में घोषित कर दिये 20 प्रत्याशीUP Assembly Elections 2022 : हेमा, जया, स्मृति और राजबब्बर रिझाएंगें मतदाताओं को, स्टार प्रचारकों की लिस्ट में हैं शामिलस्वास्थ्य मंत्री ने कोरोना हालातों पर राज्यों के साथ की बैठक, बोले- समय पर भेजें जांच और वैक्सीनेशन डाटाUttar Pradesh Assembly Elections 2022: सपा का महा गठबंधन अखिलेश के लिए बड़ी चुनौतीबजट से पहले 1 फरवरी को बुलाई गई विधायक दल की बैठक, यह है अहम कारण
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.