scriptVHP plans to organise 1000 Ram Navami rallies across Bengal | VHP ने बनाया बड़ा प्लान, पश्चिम बंगाल में रामनवमी पर करने जा रही है यह काम | Patrika News

VHP ने बनाया बड़ा प्लान, पश्चिम बंगाल में रामनवमी पर करने जा रही है यह काम

VHP ने राम नवमी पर पूरे पश्चिम बंगाल में 1,000 से अधिक रैलियां या शोभा यात्रा निकालने की योजना बनाई है। विश्व हिंदू परिषद (VHP) ने राम नवमी पर पूरे पश्चिम बंगाल में 1,000 से अधिक रैलियां या शोभा यात्रा निकालने की योजना बनाई है।

Published: April 06, 2022 11:10:36 am

राम नवमी पर पूरे पश्चिम बंगाल में विश्व हिंदू परिषद (VHP) ने 1,000 से अधिक रैलियाँ या शोभा यात्रा निकालने की योजना बनाई है। ऐसा बंगाल में हिन्दुओं का मनोबल बढ़ाने के लिए अहम माना जा रहा है। वहीं बंगाल में लगातार होती हिंसा को देखते हुए भी इन शोभायात्राओं को सकुशल संपन्न कराना एक चुनौती भरा काम है।
VHP ने बनाया बड़ा प्लान, पश्चिम बंगाल में रामनवमी पर करने जा रही है यह काम
VHP ने बनाया बड़ा प्लान, पश्चिम बंगाल में रामनवमी पर करने जा रही है यह काम
VHP के बंगाल मंडल के वरिष्ठ प्रवक्ता, सौरीश मुखर्जी ने कहा कि वे रामनवमी को भव्य तरीके से नहीं मना सकते थे क्योंकि अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण कोविड की स्थिति के कारण शुरू हुआ था, इसलिए उन्होंने 2022 में सभी भव्य जाने की योजना बनाई है।
तो वहीं, सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस (TMC) ने रामनवमी रैलियों के आयोजन के विहिप के प्रस्ताव पर नाराजगी जताई और दावा किया कि उनका उद्देश्य 'धर्म को राजनीति के साथ मिलाना' है। TMC के प्रवक्ता सुखेंदु शेखर राय ने कहा, "VHP जो कर रही है, वह नया काम नहीं है। राम नवमी रैलियां पश्चिम बंगाल में पहले भी आयोजित की गई है।"
दूसरी तरफ, VHP के अनुसार, वे पुलिस की अनुमति नहीं मांगेंगे। लेकिन इसकी सूचना स्थानीय प्रशासन और पुलिस थानों को दी जाएगी। सवाल उठता है कि अगर पुलिस ने अनुमति नहीं दी तो VHP क्या करेगी?

यह भी पढ़ें

इन 3 बैंकों पर RBI ने लगाया लाखों का जुर्माना, जानिए क्या होगा खाताधरकों पर असर

आपको बता दें, रामनवमी की शोभायात्रा में परंपरा के अनुसार आयुध पूजा या अस्त्र-शास्त्रों की पूजा का भी वुधान है। ऐसे में बंगाल में हिंसा की हालिया घटनाओं को देखते हुए प्रशासन के सहयोग पर जोर दिया जा रहै है।
मुखर्जी ने कहा, कि पुलिस प्रशासन को यह सुनिश्चित करने की जरूरत है कि रामनवमी के दौरान VHP के किसी भी कार्यक्रम में उपद्रवी बाधा न बनें। ऐसे में देखना होगा कि आने वाले समय में VHP की रैली को लेकर राज्य सरकार की कैसी प्रतिक्रिया होती है।

यह भी पढ़ें

42 सालों तक इस स्टेशन पर नहीं रुकी कोई ट्रेन, शाम ढलने के बाद आज भी नहीं जाता कोई

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

मौसम अलर्ट: जल्द दस्तक देगा मानसून, राजस्थान के 7 जिलों में होगी बारिशइन 4 राशियों के लोग होते हैं सबसे ज्यादा बुद्धिमान, देखें क्या आपकी राशि भी है इसमें शामिलस्कूलों में तीन दिन की छुट्टी, जानिये क्यों बंद रहेंगे स्कूल, जारी हो गया आदेश1 जुलाई से बदल जाएगा इंदौरी खान-पान का तरीका, जानिये क्यों हो रहा है ये बड़ा बदलावNumerology: इस मूलांक वालों के पास धन की नहीं होती कमी, स्वभाव से होते हैं थोड़े घमंडीबुध जल्द अपनी स्वराशि मिथुन में करेंगे प्रवेश, जानें किन राशि वालों का होगा भाग्योदयमोदी सरकार ने एलपीजी गैस सिलेण्डर पर दिया चुपके से तगड़ा झटकाजयपुर में रात 8 बजते ही घर में आ जाते है 40-50 सांप, कमरे में दुबक जाता है परिवार

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: खतरे में MVA सरकार! समर्थन वापस लेने की तैयारी में शिंदे खेमा, राज्यपाल से जल्द करेंगे संपर्क?Maharashtra Political Crisis: एकनाथ शिंदे की याचिका पर SC ने डिप्टी स्पीकर, महाराष्ट्र पुलिस और केंद्र को भेजा नोटिस, 5 दिन के भीतर जवाब मांगाMaharashtra Political Crisis: सुप्रीम कोर्ट से शिंदे खेमे को मिली राहत, अब 12 जुलाई तक दे सकते है डिप्टी स्पीकर के अयोग्यता नोटिस का जवाब"BJP से डर रही", तीस्ता की गिरफ़्तारी पर पिनाराई विजयन ने कांग्रेस की चुप्पी पर साधा निशानाअंबानी परिवार की सुरक्षा को लेकर सुप्रीम कोर्ट कल करेगा सुनवाई, जानिए क्या है पूरा मामलाMumbai News Live Updates: सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर एकनाथ शिंदे ने कहा- यह बालासाहेब के हिंदुत्व और आनंद दिघे के विचारों की जीत हैMaharashtra Political Crisis: शिंदे खेमा काफी ताकतवर, उद्धव ठाकरे के लिए मुश्किल होगा दोबारा शिवसेना को खड़ा करनासचिन पायलट बोले-गहलोत मेरे पितातुल्य, उनकी बातों को अदरवाइज नहीं लेता
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.