Artificial Intelligence: एआई का तेजी से क्यों बढ़ रहा है इस्तेमाल, जानिए फायदे और नुकसान

 

Artificial intelligence: आर्टिफिशियल इंटेजिलेंस का हर क्षेत्र में विस्तार तेजी से हो रहा है। अगामी वर्षों में यह मानवीय जीवन का अभिन्न हिस्सा हो जाएगा। इंटरनेशनल डेटा कॉरपोरेशन (IDC) वर्ल्डवाइड सेमेनुअल की हालिया रिपोर्ट के मुताबिक एआई का कारोबार 2024 तक $554.3 बिलियन होने की उम्मीद है।

By: Dhirendra

Updated: 25 Aug 2021, 07:49 PM IST

नई दिल्ली। सात दशक पहले पहली बार आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस ( Artificial intelligence ) टर्म अस्तित्व में आया था। अब इसका हर क्षेत्र में तेजी से इस्तेमाल बढ़ता जा रहा है। यह भागमभाग वाली इंसानी जिंदगी का एक तरह से पहिया बनता जा रहा है। यही वजह है कि AI का कारोबार तेजी से विस्तार ले रहा है। यह तकनीक फोन या कंप्यूटर में उपलब्ध शतरंज जैसे गेम, गूगल और एलेक्सा वॉयस असिस्टेंट समेत रोबोट जैसे डिवाइस के रूप में भी अस्तित्व में आ गए हैं। इसलिए एआई ( AI ) के लाभ और नुकसान के बारे जानना भी सभी के लिए जरूरी है।

क्या है Artificial intelligence?

कृत्रिम बुद्धिमता ( Artificial intelligence ) दुनिया की श्रेष्ठ तकनीकों में से एक है। इस तकनीक की सहायता से ऐसा सिस्टम तैयार किया जा सकता है जो मानव बुद्धिमत्ता यानी इंटेलिजेंस के बराबर होगा। इस तकनीक के माध्यम से अल्गोरिदम सीखने, पहचानने, समस्या-समाधान, भाषा, लाजिकल रीजनिंग, डिजिटल डेटा प्रोसेसिंग,बायो.इंफार्मेटिक्‍स तथा मशीन बायोलाजी को आसानी से समझा जा सकता है। यह तकनीक खुद सोचने, समझने और कार्य करने में सक्षम है। पहली बार 1955 में जॉन मेकार्थी ने आधिकारिक तौर पर इस तकनीक को आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का नाम दिया था। जॉन मेकार्थी अमरीकी कंप्यूटर वैज्ञानिक थे। मशीनों को स्मार्ट बनाने के लिए उन्होंने आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस टर्म का इस्तेमाल किया था।

Read More: आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस और मशीन लर्निंग में बनाए कॅरियर, विदेश में मिलेगी जॉब्स

2024: 554.3 बिलियन डॉलर हो जाएगा एआई का कारोबार

इंटरनेशनल डेटा कॉरपोरेशन ( IDC ) वर्ल्डवाइड सेमेनुअल की हालिया आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस रिपोर्ट ( Artificial Intelligence Report ) के मुताबिक सॉफ्टवेयर, हार्डवेयर और सेवाओं सहित का राजस्व 2021 में 16.4% बढ़कर 327.5 बिलियन डॉलर होने की संभावना है। 2024 तक $554.3 बिलियन तक पहुंचने की उम्मीद है।

एआई के फायदे

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस ( Artificial intelligence ) तकनीक से देश के मेडिकल और बीमा सेक्टर को सबसे ज्यादा लाभ होने वाला है। इस तकनीक से एक्सरे रीडिंग जैसे तमाम काम आसान हो जाएंगे। डॉक्टर्स को अनुसंधान में मदद मिलेगी। इसकी मदद से मरीजों का बेहतर तरीके से इलाज किया जा सकेगा। स्पोर्ट्स के क्षेत्र को भी आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस की मदद से बहुत फायदा होगा। खिलाड़ी इस तकनीक के जरिए अपनी परफॉर्मेंस पर नजर रख सकेंगे। इसके अलावा लोगों को तकनीक से खेल को आसानी से समझने की सुविधा मिलेगी। आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस से स्कूल और कॉलेज से लेकर कृषि के क्षेत्र से जुड़े लोगों की जिंदगी में भी बड़ा बदलाव आने वाला है।

Read More: Virtual School of NIOS: जानें क्या है वर्चुअल स्कूल, बच्चों को कैसे मिलेगा इसका लाभ?

Artificial intelligence के नुकसान

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के आने से सबसे ज्यादा बेरोजगारी बढ़ेगी, क्योंकि आने वाले वक्त में इंसानों की जगह मशीनों से काम कराया जाएगा। आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के आने से मानव जाति का अंत हो सकता है, क्योंकि रोबोट्स इस तकनीक के जरिए अपने आप को विकसीत करके खुद खतरनाक हथियार बना सकते हैं।

Dhirendra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned