scriptSwati Maliwal : कई मुश्किलों में फंसे केजरीवाल, पहली बार सीएम के साथ राष्ट्रीय दल को ईडी ने बनाया घोटाले का आरोपी | Swati Maliwal: Kejriwal stuck in many troubles, first time ED has accused national party along with CM of scam | Patrika News
राष्ट्रीय

Swati Maliwal : कई मुश्किलों में फंसे केजरीवाल, पहली बार सीएम के साथ राष्ट्रीय दल को ईडी ने बनाया घोटाले का आरोपी

Swati Maliwal : आम चुनाव के छठे चरण में दिल्ली की सात लोकसभा सीटों के लिए 25 मई को होने वाले मतदान से ठीक नौ दिन पहले शुक्रवार को आम आदमी पार्टी की मुश्किलें बढ़ गईं।

नई दिल्लीMay 18, 2024 / 07:47 am

Shaitan Prajapat

Swati Maliwal : आम चुनाव के छठे चरण में दिल्ली की सात लोकसभा सीटों के लिए 25 मई को होने वाले मतदान से ठीक नौ दिन पहले शुक्रवार को आम आदमी पार्टी की मुश्किलें बढ़ गईं। एक तरफ प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने सीएम अरविंद केजरीवाल और आप को पहली बार आरोपी बनाया तो दूसरी तरफ आप की राज्यसभा सांसद स्वाति मालीवाल से मारपीट मामले में आरोपी के पक्ष में पार्टी के खुलकर आने से अंदरूनी कलह सामने आ गई। उधर, सुप्रीम कोर्ट में गिरफ्तारी को चुनौती देने वाली याचिका पर सुनवाई के अंतिम समय में ईडी ने बड़ा सबूत मिलने का दावा करते हुए कहा कि केजरीवाल और हवाला ऑपरेटर के बीच का चैट मिल गया है। सुप्रीम कोर्ट में मामले की सुनवाई पूरी हो गई।

ईडी ने दायर किया सातवां पूरक आरोपपत्र

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने समाप्त हो चुकी उत्पाद शुल्क नीति से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में शुक्रवार को दायर अपने सातवें पूरक आरोप पत्र में 21 मार्च को गिरफ्तार किए गए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और आम आदमी पार्टी को पहली बार आरोपी बनाया। देश में पहली बार ही ईडी ने आरोपपत्र में किसी राजनीतिक दल को आरोपी बनाया है। केजरीवाल को सुप्रीम कोर्ट ने पिछले सप्ताह ही चुनाव प्रचार के लिए 21 दिन की जमानत पर रिहा किया था। केंद्रीय जांच एजेंसी ने पहले कहा था कि केजरीवाल उत्पाद शुल्क नीति बनाने में सीधे तौर पर शामिल थे, जिसे साउथ ग्रुप नामक कंपनी को लाभ पहुंचाने के लिए तैयार किया गया था।

सबूत छिपाकर क्यों रखाः सिंघवी

इधर, सुप्रीम कोर्ट में केजरीवाली की गिरफ्तारी को चुनौती देने वाली याचिका पर सुनवाई के दौरान ईडी ने अदालत को सूचित किया कि केजरीवाल और हवाला ऑपरेटर के बीच हुई बातचीत का ठोस सबूत मिल गया है। केजरीवाल की गिरफ्तारी उचित है और ईडी कोर्ट में उनके खिलाफ चार्जशीट दाखिल की गई है। केजरीवाल के वकील अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि यह कोर्ट के लिए है या मीडिया के लिए। उन्होंने इस पर आपत्ति जताई की ईडी ने अबतक इसे छिपाकर क्यों रखा और सुनवाई पूरी होने से ठीक पहले इसका खुलासा क्यों किया।

पीएम को भेजते थे फुटेज : केजरीवाल

अरविंद केजरीवाल ने अमृतसर में कार्यकर्ताओं से कहा कि जेल में बैरक के बाहर उनकी निगरानी के लिए दो सीसीटीवी लगे हुए थे और जेल के 13 अधिकारी उनके ऊपर 24 घंटे नजर रखते थे। उसके फुटेज प्रधानमंत्री कार्यालय भेजे जाते थे। केजरीवाल पंजाब में चुनाव प्रचार के लिए पहुंचे थे।

पुलिस ने घटना का सीन रिक्रिएट किया सीन

स्वाति मालीवाल से मारपीट मामले में शुक्रवार को आप की कलह खुलकर सामने आ गई। मालीवाल की ओर से मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के निजी सचिव बिभव कुमार पर लगाए गए आरोपों को झूठा करारा देते हुए आप ने कहा कि भाजपा ने मालीवाल को साजिश का मोहरा बनाया है। मालीवाल ने इस पर तीखी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि एक गुंडे को बचाने के लिए पूरी पार्टी ने मेरे चरित्र पर सवाल उठाए। इस बीच, पुलिस और फोरेंसिक की टीम जांच के लिए मालीवाल के साथ सीएम आवास पहुंची। पुलिस ने घटनास्थल पर अपराध का सीन रिक्रिएट किया। मालीवाल ने दिल्ली पुलिस में दर्ज कराई अपनी शिकायत में दावा किया है कि जब वह ड्राइंग रूम में इंतजार कर रही थी, उसी समय बिभव कुमार ने उनके साथ साथ बदसलूकी की। उन्हें थप्पड़ और लातों से पीटा।

केजरीवाल थे निशानाः आतिशी

आप नेता एवं दिल्ली की मंत्री आतिशी ने कहा, ‘जब से केजरीवाल को जमानत मिली है तब से भाजपा बौखलाई हुई है और इसी के कारण उसने साजिश रची। स्वाति मालीवाल को 13 मई को सुबह भेजा गया। उनका इरादा था कि मुख्यमंत्री पर आरोप लगाया जाए। मुख्यमंत्री उस समय उपलब्ध नहीं थे इसलिए वह बच गए। फिर उन्होंने बिभव कुमार पर आरोप लगाए हैं।’

‘वीडियो में झूठ सामने आया

आतिशी ने कहा कि मुख्यमंत्री आवास के ड्राइंग रूम का एक वीडियो सामने आया है और उस वीडियो ने मालीवाल के झूठ को पूरे देश के सामने रख दिया है। मालीवाल की मुख्यमंत्री के साथ पहले कोई मुलाकात तय नहीं थी। उन्होंने जो चोट लगने की बात कही है, वह कहीं नहीं दिख रही है। वह झूठ बोल रही हैं। उसके उलट उन्होंने घर में मौजूद सुरक्षाकर्मियों को धमकाया।

राजनीतिक हिटमैन की कोशिश

मालीवाल ने बिना किसी का नाम लिए कहा, ‘हर बार की तरह इस बार भी इस राजनीतिक हिटमैन ने खुद को बचाने की कोशिशें शुरू कर दी हैं। बिना संदर्भ का आधा वीडियो चलाकर इसे लगता है ये इस अपराध से खुद को बचा लेगा। कोई किसी को पीटते हुए वीडियो बनाता है भला? घर के अंदर और कमरे के सीसीटीवी फुटेज की जांच होते ही सत्य सबके सामने होगा।’

गुंडा पार्टी को धमका रहा

मालीवाल ने एक्स पर लिखा कि पार्टी में कल के आए नेताओं ने 20 साल पुरानी कार्यकर्ता को भाजपा का एजेंट बता दिया। दो दिन पहले पार्टी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में सब सच क़बूल लिया था और आज यू टर्न ले लिया। उन्होंने बिभव पर निशाना साधते हुए लिखा- ये गुंडा पार्टी को धमका रहा है कि मैं अरेस्ट हुआ तो सारे राज खोलूंगा। इसलिए ही लखनऊ से लेकर हर जगह शरण में घूम रहा है।

वीडियो में दिखी मालीवाल

मालीवाल से हुई बदसलूकी के मामले में सोशल मीडिया पर एक वीडियो सामने आया है। यह वीडियो मुख्यमंत्री आवास के अंदर का बताया जा रहा है, हालांकि इसकी पुष्टि नहीं हो पाई है। वीडियो में दिख रहा है कि मालीवाल एक हॉल के अंदर बैठी हैं जहां कुछ सुरक्षाकर्मी उन्हें बाहर जाने को कह रहे हैं। मालीवाल गुस्से में कह रही हैं कि उन्होंने दिल्ली पुलिस को फोन किया है। पुलिस के आने के बाद वह यहां से चली जाएंगी।

बिभव के घर चिपकाया नोटिस

राष्ट्रीय महिला आयोग ने स्वाति मालीवाल के साथ मारपीट करने वाले बिभव कुमार के घर पर नोटिस चिपकाया है और शनिवार को आयोग के समक्ष पेश होने को कहा है। आयोग ने बताया कि घर पर मौजूद व्यक्तियों ने नोटिस लेने से इनकार कर दिया। महिला आयोग ने इससे पहले बिभव कुमार को इस मामले में नोटिस जारी किया था और उन्हें आज सुबह 11:00 बजे पेश होने को कहा था।

भाजपा ने कहा, केजरीवाल माफी मांगें

भाजपा की वरिष्ठ नेता एवं वित्त मंत्री निर्मला सीतारमन ने कहा कि जो कुछ हुआ उसके लिए केजरीवाल को माफी मांगनी चाहिए। सांसद संजय सिंह ने कहा था कि वह ऐसा होने पर कार्रवाई करेंगे, लेकिन अब तक कुछ नहीं किया गया।

Hindi News/ National News / Swati Maliwal : कई मुश्किलों में फंसे केजरीवाल, पहली बार सीएम के साथ राष्ट्रीय दल को ईडी ने बनाया घोटाले का आरोपी

ट्रेंडिंग वीडियो