scriptबिना किसी सुरक्षा व्यवस्था के शुरू कर दिया वाटर पार्क, 17 वर्षीय किशोर की डूबने से मौत | वाटर पार्क को किया गया सील, संचालक और मैनेजर के विरुद्ध गैर इरादतन हत्या का मामला दर्ज | Patrika News
समाचार

बिना किसी सुरक्षा व्यवस्था के शुरू कर दिया वाटर पार्क, 17 वर्षीय किशोर की डूबने से मौत

अनूपपुर. कोतवाली थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम सकरा में आधे अधूरे वाटर पार्क को बिना सुरक्षा इंतजाम के शुरू करने से एक किशोर की डूबने से मौत हो गई। शनिवार दोपहर 5 दोस्त वाटर पार्क में नहाने गये थे, इस दौरान 17 वर्षीय किशोर स्विमिंग पूल में डूब गया। पार्क के संचालक सहित दोस्त किशोर को […]

अनूपपुरMay 12, 2024 / 06:24 pm

Sandeep Tiwari

अनूपपुर. कोतवाली थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम सकरा में आधे अधूरे वाटर पार्क को बिना सुरक्षा इंतजाम के शुरू करने से एक किशोर की डूबने से मौत हो गई। शनिवार दोपहर 5 दोस्त वाटर पार्क में नहाने गये थे, इस दौरान 17 वर्षीय किशोर स्विमिंग पूल में डूब गया। पार्क के संचालक सहित दोस्त किशोर को लेकर जिला चिकित्सालय पहुंचे, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने वाटर पार्क को सील कर दिया है। मामले में वाटर पार्क के मालिक एवं मैनेजर के विरूद्ध गैर इरादतन हत्या का अपराध दर्ज करते हुए दोनों को कोतवाली पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। 11 मई को शुभम प्रजापति पुत्र शिव प्रसाद प्रजापति 17 वर्ष निवासी वार्ड क्रमांक 4 बुढ़ार अपने दोस्तों आयुष यादव, यश लहंगीर, आदित्य कोरी, नीलेश कोरी के साथ कार से अनूपपुर जिले में अमरकंटक रोड पर ग्राम जमुड़ी में बने सर रिसोर्ट एंड फन सिटी वाटर पार्क पहुंचा था। वह घर में अमरकंटक जाने की बात कहकर निकला और ग्राम वॉटर पार्क चला गया। सभी 150 रूपए के हिसाब से टिकट कटाकर अंदर स्विमिंग पूल में चले गए। यहां पहले से ही 150-200 लोग मौजूद थे। कुछ देर बाद अचानक शुभम प्रजापति के न मिलने पर शोर शराबा शुरू हो गया। थोड़ी देर बाद स्विमिंग पूल में शुभम प्रजापति अचेत अवस्था में मिला। जिसे तुरंत उठाकर जिला अस्पताल ले जाया गया, लेकिन डाक्टर ने मृत घोषित कर दिया। इसकी सूचना मृतक के परिजनों को दी गई थी। वहीं पुलिस ने मामले की जांच शुरू करते हुए वाटर पार्क को सील कर दिया था। घटना की सूचना मिलते ही परिजन पहुंच गए है। जिला अस्पताल पहुंचे परिजनों ने पोस्टमार्टम कराने से मना करते हुए पहले वॉटर पार्क सकरा जाकर स्थल परिक्षण कराए जाने की मांग पुलिस से रखी। पुलिस की समझाइश व नियमानुसार कार्रवाई के आश्वासन के बाद पोस्टमार्टम कराने राजी हुए। पुलिस ने पंचनामा तैयार करते हुए शव को पीएम के लिए भेजा गया है। वहीं मर्ग कायम कर मामले की जांच शुरू कर दी है।
डूबने से बचाव के लिए नहीं मिले कोई भी प्रबंध

मर्ग जांच पर पाया गया कि सर रिसोर्ट एंड फन सिटी वाटर पार्क में 150 रूपए की प्रवेश राशि लेकर बड़ी संख्या में लोगों को वाटर पार्क एवं स्विमिंग पूल में प्रवेश दिया जाता था। स्विमिंग पूल और वाटर पार्क में डूबने से बचाने के लिए एक भी तैराक नहीं लगाया था। किसी को लाइफ सेविंग जैकेट नहीं दी गई थी, डूबने से बचने के लिए स्विमिंग ट्यूब भी उपलब्ध नहीं कराई गई थी, जहां पानी करीब 8 फीट गहरा और डूबने की संभावना थी वहां कोई सावधानी वाला सूचना बोर्ड एवं संकेतक भी नहीं लगाया गया था। गहरे स्थान पर कहीं कोई रस्सी या डोरी नहीं बांधी गई थी। मौके पर कोई भी मेडिकल सुविधा जैसे ऑक्सीजन मास्क और ऑक्सीजन सिलेंडर भी नहीं था।
अपराध दर्ज करते हुए किया गिरफ्तार

थाना कोतवाली में इस मामले पर एडीजी शहडोल डीसी सागर के निर्देश पर धारा 304, 34 भा.द.वि. का मामला पंजीबद्ध किया जाकर आरोपी मो. रईस खान पिता इसहाक मोहम्मद उम्र करीब 54 वर्ष निवासी वार्ड 12 चंदासटोला अनूपपुर एवं अंसार मोहम्मद उर्फ मुन्ना पिता निसार मोहम्मद उम्र 50 वर्ष निवासी वार्ड 12 चंदासटोला को गिरफ्तार कर लिया गया है।
एक माह से किया जा रहा था संचालन

बताया जाता है करीब एक माह से इस आधे-अधूरे वाटर का पार्क का संचालन किया जा रहा है। यहां पर्याप्त संख्या में कर्मचारी तक नहीं रखे गए हैं। सिर्फ एक कर्मचारी के माध्यम से इसका संचालन किया जा रहा था। वाटर पार्क में अभी सिर्फ स्विमिंग पूल बना है और पैसे लेकर लोगों को प्रवेश दिया जा रहा था।

Hindi News/ News Bulletin / बिना किसी सुरक्षा व्यवस्था के शुरू कर दिया वाटर पार्क, 17 वर्षीय किशोर की डूबने से मौत

ट्रेंडिंग वीडियो