बिजनेस में डूब गये पैसे की भरपाई के लिये गैंग बनाकर कर रहे थे लूटपाट

नोएडा जोन के डीसीपी राजेश एस ने बताया कि विकास जस्ट डायल में काम करता है और कार्तिक एक स्टूडेंट है और मोबाइलों का लॉक तोड़ने में माहिर है।

By: Nitish Pandey

Published: 25 Sep 2021, 03:38 PM IST

नोएडा. उत्तर प्रदेश की नोएडा सेक्टर-58 कोतवाली पुलिस ने सेक्टर-57 से तीन दिन पहले हथियार के बल पर लूटी गई आई-20 कार को बरामद कर लिया है। पुलिस ने लूट की वारदात को अंजाम देने वाले पांच बदमाशों को भी गिरफ्तार किया गया है। पकड़े गए बदमाशों में एक बीटेक का छात्र भी शामिल है। पुलिस ने वारदात में इस्तेमाल हुई चोरी के दो बाइक चाकू, एक पिस्टल नुमा लाइटर, एक छरें वाला एयरगन व पांच अदद मोबाइल फोन व चार अदद सिम कार्ड भी बरामद किए है।

यह भी पढ़ें : मौलाना कलीम सिद्दीकी के बचाव में उतरी सपा, गिरफ्तारी से पहले होनी चाहिए थी जांच

चार दिन पहले दिया था वारदात को अंजाम

पुलिस ने लूट की वारदात में कार्तिक पुरुषवाणी, विकास उर्फ मोनू, शिवम वाल्मीकि, युवराज विनायक तथा अभिषेक उर्फ काकू को गिरफ्तार किया है। नोएडा के सेक्टर-62 स्थित एक कंपनी में कैब चलाने वाले निर्मल नामक व्यक्ति से चार दिन पहले आई-20 कार लूटने के आरोप में सेक्टर-58 कोतवाली ने सेक्टर-57 तिराहे के पास से इन लोगों को गिरफ्तार किया है।

मोबाइल लॉक तोड़ने में माहिर है कार्तिक

नोएडा जोन के डीसीपी राजेश एस ने बताया कि विकास जस्ट डायल में काम करता है और कार्तिक एक स्टूडेंट है और मोबाइलों का लॉक तोड़ने में माहिर है। इन दोनों ने जस्ट डायल में कुछ पैसा लगाया था जो डूब गया। पैसे की भरपाई के लिए दोनों ने युवराज संग मिलकर गैंग बनाया इसमें शिवम वाल्मीकि और अभिषेक उर्फ काकू को शामिल कर लिया।

नकली पिस्टल के दम पर दिया लूट को अंजाम

डीसीपी ने बताया कि दो दिन पहले ये पांचों सेक्टर-62 आये और आई-20 गाड़ी का पीछा किया। आरोपियों ने कैब ड्राइवर को बोला कि आपका पीछे का बंपर टूट गया है। ड्राइवर ने अपनी गाड़ी को थोड़ी दूर ले जाकर रोक लिया। रोकने के बाद युवराज ने नकली पिस्टल से व कार्तिक ने पिस्टल नुमा लाइटर गन लगाकर ड्राइवर को गाड़ी से नीचे उतारकर कार्तिक व शिवम कार को लूट कर लेकर गये। वारदात के खुलासे के लिये बनाई गई थी। टीमों ने लगभग 250 सीसीटीवी फुटेज देखकर घटना स्थल से लेकर दिल्ली तक घटना का रूट चार्ट बनाया। जिसके आधार पर बदमाशों की तस्दीक करके गिरफ्तार किया गया।

न्यायिक हिरासत में भेजे गए आरोपी

डीसीपी ने बताया कि पूछताछ के दौरान आरोपियों ने बताया उन लोगों ने एनसीआर में वाहन चोरी व लूट की दर्जनों वारदातों को अंजाम दिया है। पुलिस ने पांचों आरोपियों को कोर्ट में पेश किया, जहां से उन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया।

BY: Arvind Uttam

यह भी पढ़ें : महिला शिक्षामित्र से दिनदहाड़े लूट, एक लूटेरे को पब्लिक ने दबोचा

Nitish Pandey
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned