कोरोना कर्फ्यू के बीच ठेकों पर उमड़ा लोगों का हुजूम, शराब के चक्कर में भूल गए संक्रमण का भी डर

मंगलवार से गौतमबुद्ध नगर, मेरठ, गाजियाबाद, आगरा समेत जिलों में खुल गई दुकानें (whisky shops)। सभी जिलों में दुकान बंद करने का समय अलग-अलग। लोगों की भीड़ ने जमकर उड़ाई सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां।

By: Rahul Chauhan

Published: 11 May 2021, 04:29 PM IST

नोएडा। कोरोना संक्रमण (coronavirus) रोकने के लिए लगाए गए कोरोना कर्फ्यू के बीच मंगलवार से यूपी के कई जिलों में शराब की दुकानों (whisky shops) को खोलने के निर्देश दे दिए गए हैं। जिसके चलते गौतमबुद्ध नगर, मेरठ, गाजियाबाद, आगरा समेत अन्य जिलों में समस्त थोक व फुटकर आबकारी अनुज्ञापन (बार को छोड़कर) सुबह 10 बजे से खोलने की अनुमति प्रशासन ने दे दी है। हालांकि हर जिले में दुकान बंद करने का समय प्रशासन ने अलग-अलग तय किया है। वहीं शराब की दुकान खुलने की सूचना मिलते ही लंबी-लंबी कतारें लग गईं और इस बीच कई दुकानों पर सोशल डिस्टेंसिंग की जमकर धज्जियां उड़ाई गई।

यह भी पढ़ें: Corona Curfew: शराबियों के लिए बड़ी खबर, इन शर्तों के साथ आज से खुलेंगी शराब की दुकानें

दरअसल, शराब व्यापारियों द्वारा सीएम योगी को लिखे गए पत्र के कई जिलों के जिलाधिकारियों ने शराब की दुकानों को कोविड प्रोटोकॉल के तहत खोलने की अनुमति दे दी। इस बाबत मंगलवार सुबह की निर्देश जारी किए गए। प्रशासन ने कहा है कि सभी दुकानों पर विक्रेताओं द्वारा मास्क अनिवार्य रूप से पहना जाएगा। इसके साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करवाते हुए ही मदिरा विक्रय की जाएगी। वहीं प्रत्येक अनुज्ञापन पर सैनिटाइजर की उपलब्धता अनिवार्य है। फिलहाल मॉडल शॉप और देशी मदिरा दुकानों की कैंटीन बंद ही रहेंगी। इसके अलावा कंटेनमेंट जोन के 60 मीटर के दायरे में आने वाली शराब की दुकानें नहीं खुलेंगी।

दिल्ली में दुकान बंद तो नोएडा में लगी भीड़

बता दें कि दिल्ली में लगाए गए लॉकडाउन के चलते शराब की दुकानें बंद हैं। वहीं यूपी में शराब की दुकानें मंगलवार से खुलने के बाद दिल्ली की जनता भी नोएडा में आ रही है। ऐसे में नोएडा में सभी शराब के ठेकों पर भारी भीड़ देखने को मिल रही है। दिल्ली के अलावा हरियाणा में भी शराब की दुकानें बंद है। माना जा रहा है कि आसपास के शहरों के लोग भी नोएडा में शराब खरीदने के लिए आ रहे हैं। जिसके चलते बॉर्डर की दुकानों पर भारी भीड़ जुट रही है।

यह भी पढ़ें: अंबेडकर नगर में जहरीली शराब ने ली 5 की जान, जांच में जुटी पुलिस

शराब विक्रेताओं ने फीस माफ करने की सिफारिश की

शराब विक्रेताओं ने प्रशासन के माध्‍यम से सरकार को एक पत्र भेजकर मांग की है कि जितनी अवधि में दुकानें बंद रही हैं, उस दौरान की फीस माफ की जाए। आगरा लिकर एसोसिएशन के अध्‍यक्ष अतुल दुबे ने बताया कि इंटरनेट मीडिया पर शराब पर कोविड सेस लगाए जाने से दाम बढ़ने की बात बताई जा रही है। जबकि ऐसा नहीं है। सरकार ने केवल 90 मि.ली. के नए पैक पर ये शुल्‍क लगाया है। बाकि जो भी शराब है वह पुरानी दरों पर ही बेची जाएगी।

coronavirus
Rahul Chauhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned