Good News: नोएडा में हुई प्लाजमा बैंक की शुरूआत, अब आसान होगा कोरोना मरीजों का इलाज

Highlights:

-उद्घाटन प्रदेश के स्वास्थ्य एवं चिकित्सा राज्यमंत्री ने किया

-पहले प्लाज्मा डोनर बने रोटरियन नीरज खेमका

-कोविड पर विजय पाने के बाद प्लाज्मा दान किया

By: Rahul Chauhan

Updated: 26 Jul 2020, 11:22 AM IST

नोएडा। सेक्टर 31 स्थित आईएमए भवन में स्थापित रोटरी ब्लड बैंक में कोविड-19 मरीजों के लिए पहला प्लाज्मा बैंक का उद्घाटन प्रदेश के स्वास्थ्य एवं चिकित्सा राज्यमंत्री अतुल गर्ग ने किया। प्लाज्मा बैंक के उद्घाटन के दौरान जिलाधिकारी सुहास एल वाई और पुलिस आयुक्त आलोक सिंह भी मौजूद थे। इस दौरान उन्होंने मौके पर मौजूद स्वास्थ्य एवं जिला प्रशासन के अधिकारियों से कोरोना संक्रमण की रोकथाम की जानकारी भी ली। इस दौरान उन्होंने कहा कि प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग का तालमेल बहुत शानदार है। इसमें समाजिक संस्थाओं ने जुड़कर कोविड-19 के खिलाफ इस लड़ाई को तीसरा आयाम दे दिया है।

यह भी पढ़ें: UP Board के स्टूडेंट्स अब रेडियो क्लास से जानेंगे 1857 की क्रांंति का इतिहास

प्रदेश के स्वास्थ्य एवं चिकित्सा राज्यमंत्री अतुल गर्ग ने प्लाज्मा बैंक का उद्घाटन करने के बाद कहा कि नोएडा में रोटरी बैंक द्वारा स्थापित किया गया। प्लाज्मा बैंक प्रदेश में संभवत पहला बैंक है। कोरोना काल में इस बैंक का विशेष महत्व है,इसके लिए रोटरी क्लब में जो पहल की है उसके लिए बधाई देता हूं। गौतमबुद्ध नगर प्रशासन का भी कोविड-19 लड़ाई में अच्छा रोल रहा है और प्रशासन अच्छे काम के लिए लोगों को सपोर्ट भी कर रहा है। यहां प्रशासन और स्वास्थ्य तालमेल बहुत शानदार है, इसमें समाजिक संस्थाओं ने जुड़कर कोविड-19 इस लड़ाई को तीसरा आयाम दे दिया है।

यह भी पढ़ें: नाेएडा में 21 किलो गांजे के साथ दाे तस्कर गिरफ्तार

अतुल गर्ग ने कहा कि कोविड-19 इस लड़ाई की जांच बहुत महत्व है । भारत में बड़े पैमाने पर जांच की जा रही है, अकेले यूपी में 31 से ज्यादा पैथोलॉजी लैब काम कर रही है। एक लाख कोविड-19 की जांच इन पैथोलॉजी लैब की जा रही है। इससे पहले जांच के लिए दूसरे प्रदेश में सैंपल को भेजना पड़ता था। प्रदेश में ही इंटरनेशनल स्तर की पैथोलॉजी लैब की शुरुआत की जा सकती है, और प्रयास किया जा रहा है कि हर जिले में लैब हो और जो महंगी दवाइयां वह हर जिले में उपलब्ध होनी चाहिए। मुख्यमंत्री का यह कंटेनमेंट है कि बिना दवाई और बिना इलाज कोई कोरोना मरीज बंचित नहीं रहना चाहिए।

यह भी पढ़ें : दिन दहाड़े लूट करके दहशत फैलाने वाले बदमाशों ने अब पुलिस पर फायर झोंका, एक गिरफ्तार

रोटरी क्लब के डिस्टिक गवर्नर आलोक गुप्ता ने रोटरी क्लब आफ नोएडा के द्वारा संचालित प्लाज्मा बैंक के बारे में बताया कि नोएडा के रोटरी ब्लड बैंक परिसर प्रदेश के पहला प्लाज्मा बैंक स्थापित किया गया है। जिसका संचालन रोटरी नोएडा ब्लड बैंक द्वारा किया जायेगा। कोरोना से ठीक होने के बाद दो युनिट कोरोना पीड़ितों अपना प्लाज्मा दे सकता है। पहले प्लाज्मा डोनर बने रोटरियन नीरज खेमका जिन्होंने कोविड पर विजय पाने के बाद प्लाज्मा बैंक मे आकर प्लाज्मा दिया।

Rahul Chauhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned