UP के सबसे हाइटेक शहर में तेजी से बढ़ रहे कोरोना के केस, 83 पहुंची कंटेनमेंट जोन की संख्या

Highlights:

-कंटेनमेंट जोन की लिस्ट जिला प्रशासन ने जारी की है

-52 कंटेनमेंट जोन फर्स्ट कैटेगरी के हैं

-31 कंटेनमेंट जोन सैकेंड कैटेगरी के हैं

By: Rahul Chauhan

Updated: 31 May 2020, 10:57 AM IST

नोएडा। लॉकडाउन समाप्ति की ओर है और सरकार तीन फेज में लॉकडाउन हटाने की गाइड लाइन जारी कर चुकी है। ऐसे में गौतम बुध नगर में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के साथ ही कंटेनमेंट जोन की संख्या बढ़कर 83 हो गई है। ये जिले की अब तक की सबसे बड़ी संख्या है। जो कंटेनमेंट जोन की लिस्ट जिला प्रशासन ने जारी की है, इनमें से 52 कंटेनमेंट जोन फर्स्ट कैटेगरी के हैं, जबकि 31 कंटेनमेंट जोन सैकेंड कैटेगरी के हैं। जिसके कारण लॉकडाउन के दौरान शहरवासियों पर कई पाबंदियां और बंदिश लगाई गई हैं और नई गाइड लाइन के मुताबिक कंटेनमेंट जोन में रहने वालों को 30 जून तक लॉक डाउन में रहना होगा।

यह भी पढ़ें: Lockdown 5.0 शुरू, अब धीरे-धीरे Unlock होगा देश, जानिए किस दिन से क्या खुलेगा

जिला प्रशासन ने जो नए कंटेनमेंट जून की सूची जारी की है, वह गाइडलाइन के मुताबिक बनाई गई है। फर्स्ट कैटेगरी के कंटेनमेंट जोन का दायरा 500 मीटर तय किया गया है। जबकि सैकेंड कैटेगरी के कंटेनमेंट जोन का दायरा ढाई सौ मीटर तय किया गया है। डीएम सुवास एलवाई ने बताया कि इन सभी कंटेनमेंट जोन में स्वास्थ विभाग की गतिविधियां चल रही हैं। इनको सेनेटाइज़ किया जा रहा है। लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग और संक्रमण के उपायों के बारे में जागरूक किया जा रहा है।

यह भी पढ़ें: ट्रैक्टर ने ई-रिक्शा काे टक्कर मारी, दाे की माैत, 4 घायल

डीएम ने कहा कि कंटेनमेंट जोन में निवास कर रहे लोगों का आवागमन पूरी तरह से प्रतिबंधित कर दिया गया है। वहां रह रहे लोगों को सीलिंग और लॉक डाउन के नियमों का सख्ती से पालन करना पड़ेगा। डीएम ने जिले के लोगों से अपील की है कि लॉक डाउन के नियमों का पालन करें। सोशल डिस्टेंसिंग को मेंटेन करते हुए बहुत जरूरी होने पर अगर घर से निकलें तो मास्क अवश्य लगाएं, जिससे कि इस वैश्विक महामारी पर काबू पाया जा सके।

coronavirus
Rahul Chauhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned