कैराना उपचुनाव में ये हैं सबसे ज्यादा पढ़े-लिखे उम्मीदवार, जानिए क्या है अन्य की योग्यता

कैराना उपचुनाव को लेकर राजनीतिक सरगर्मियां पूर उफान पर

By:

Published: 16 May 2018, 08:07 PM IST

शामली। कैराना में लोकसभा उपचुनाव को लेकर राजनीतिक सरगर्मियां पूरे उफान पर हैं। सभी दलीय व निर्दलीय प्रत्याशी अपनी-अपनी जीत के लिए जनता के बीच वायदे कर रहे हैं। अगर इन प्रत्याशियों की शैक्षणिक योग्यता की बात करें तो चुनाव मैदान में उतरे प्रत्याशियों में सबसे ज्यादा शिक्षा प्राप्त निर्दलीय प्रत्याशी रणधीर सिंह दुहन (आरएस दुहन) हैं, जो पीसीएस अधिकारी रहे हैं और फिलहाल सस्पेंड चल रहे हैं। दुहन ने एमए अंग्रेजी, बीएड, एमफिल, एलएलएम, पीजी डिप्लोमा इन पत्रकारिता के अलावा मानवाधिकार की डिग्री भी प्राप्त की हुई है। वहीं, भाजपा प्रत्याशी मृगांका सिंह पोस्ट ग्रेजुएट हैं।

यह भी पढ़ें-कैराना उपचुनाव: मुसलमान नहीं देंगे सपा-रालोद गठबंधन को वोट, ये है बड़ी वजह

इनके अलावा रालोद-सपा गठबंधन प्रत्याशी तबस्सुम हसन मात्र हाईस्कूल पास हैं तो उनके देवर लोकदल प्रत्याशी कंवर हसन सीसीएस यूनिवर्सिटी से एमबीए हैं। यह ब्यौरा प्रत्याशियों ने अपना नामांकन पत्र दाखिल करने के दौरान शपथ पत्र में दिया है। आपको बता दें कि कैराना लोकसभा सीट उपचुनाव में 28 मई को मतदान होगा। उसके बाद 31 को मतगणना होगी। हालांकि यहां मुख्यमुकाबला सपा-रालोद गठबंधन प्रत्याशी तबस्सुम हसन और दिवंगत सांसद हुकुम सिंह की बेटी व भाजपा प्रत्याशी मृगांका सिंह के बीच माना जा रहा है।

यह भी पढ़ें-कैराना उपचुनाव: भाभी को देवर ने दी चुनौती, बुआ भतीजे भी बढ़ा रहे मुश्किलें

रणधीर सिंह दुहन

प्रत्याशियों का नाम उम्र शिक्षा का विवरण
मृगांका सिंह 59 वर्ष एमए, बीएड
तबस्सुम हसन 47 वर्ष हाईस्कूल
कंवर हसन 41 वर्ष एमबीए
इंद्रजीत 60 वर्ष इंटर
सेठपाल 47 वर्ष आठवीं
आरएस दुहन 60 वर्ष एमए अंग्रेजी, बीएड, एमफिल, एलएलएम, पीजी डिप्लोमा इन पत्रकारिता एवं मानवाधिकार
रामशरण 60 वर्ष इंटर
यजपाल राठी 62 वर्ष हाईस्कूल
रविंद्र 35 वर्ष ग्रेजुएट
मोहम्मद सलीम 50 वर्ष साक्षर
प्रीति कश्यप 27 वर्ष पांचवीं
संजीव 32 वर्ष साक्षर
राकेश कुमार 36 वर्ष एमए, एमबीए, एलएलबी

यह भी देखें-पुलिस ने इस शख्स के पास से बरामद किए एेसे हथियार

आपको बता दें कि इस उपचुनाव के लिए कैराना से सपा विधायक नाहिद हसन ने भी नामांकन किया था, लेकिन उन्होंने 14 मई को नाम वापसी के दिन अपना नामांकन वापस ले लिया। गौरतलब है कि इस चुनाव में नाहिद की मां तबस्सुम हसन रालोद-सपा गठबंधन की प्रत्याशी हैं।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned