योगी सरकार ‘इनकी’ सुरक्षा पर हर साल खर्च करेगी 60 करोड़ रुपये, अधिकारियों ने दी प्रजेंटेशन

योगी सरकार ‘इनकी’ सुरक्षा पर हर साल खर्च करेगी 60 करोड़ रुपये, अधिकारियों ने दी प्रजेंटेशन

Rahul Chauhan | Publish: Sep, 09 2018 06:58:52 PM (IST) Noida, Uttar Pradesh, India

अब सरकार नोएडा में सुरक्षा में सालाना करीब 60 करोड़ रुपये खर्च कर सकती है।

नोएडा। उत्तर प्रदेश में योगी सरकार तरक्की के स्वरूप मोटी रकम से नए-नए प्रोजेक्ट का उद्घाटन व शिलान्यास कर रही है। वहीं इस बीच अब सरकार नोएडा में एक महत्वपूर्ण वस्तु की सुरक्षा में सालाना करीब 60 करोड़ रुपये खर्च कर सकती है। इसके लिए शनिवार को आईजी सीआईएसएफ (NCR) ने उत्तर प्रदेश पुलिस के डीजीपी के सामने प्रजेंटेशन दिया है। अब आप सोच रहे होंगे कि भला किसकी सुरक्षा पर योगी सरकार इतनी मोटी रकम खर्च करने जा रही है।

metro

बता दें कि यह नोएडा-ग्रेटर नोएडा रूट की एक्वा लाइन मेट्रो है। जिसके 21 स्टेशनों की सुरक्षा में इतनी रकम सालाना खर्च होगी। इस बाबत डीआईजी कानून व व्यवस्था प्रवीण कुमार ने बताया कि सीआईएसएफ के आईजी ने डीजीपी ओपी सिंह के सामने मेट्रो के स्टेशन की सुरक्षा से जुड़ा विस्तृत प्रजेंटेशन दिया है। इसमें उन्होंने सुरक्षा में लगाए जा रहे 626 सीआईएसएफ कर्मियों, उन्हें दिए जाने वाले हथियार, फ्रिस्किंग, लगेज चेकिंग के लिए लगाए जाने वाले सभी उपकरण व अन्य संसाधनों के बारे में बताया।

यह भी पढ़ें : लोकसभा चुनाव से पहले केन्द्रीय मंत्री गडकरी के साथ सीएम योगी चलेंगे ये बड़ा दाव

कुमार ने बताया कि प्रजेंटेशन के दौरान आईजी ने कहा कि सीआईएसएफ दिल्ली मेट्रो की सुरक्षा लंबे समय से संभाल रही है। ऐसे में यूपी में किसी और एजेंसी को सुरक्षा दिए जाने से परेशानी होगी। तो इसके चलते एक्वा लाइन मेट्रो के सभी 21 मेट्रो स्टेशन की सुरक्षा का जिम्मा भी सीआईएसएफ को ही दिया जाए। यहां सुरक्षा के दौरान तैनात रहने वाले सुरक्षाकर्मियों के वेतन, संसाधन, उपकरणों और असलहों पर सालाना करीब 60 करोड़ रुपये का खर्च आएगा।

यह भी पढ़ें : ये है अभी तक का सबसे खतरनाक KIKI CHALLENGE, इसे करने की बिल्कुल भी न सोचें

अक्टूबर में पीएम मोदी कर सकते हैं उद्घाटन

बता दें कि एक्वा ब्लू लाइन मेट्रो एनसीआर के सबसे बड़े ट्रैक पर दौड़ने वाली मेट्रो है। इसके साथ ही इस मेट्रो में वन सिटी वन कार्ड के कॉन्सेप्ट को ध्यान में रखकर स्मार्ट कार्ड पर काम किया जा रहा है। वहीं नोएडा प्राधिकरण के सीईओ आलोक टंडन ने संकेत दिए हैं कि अक्टूबर माह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मेट्रो का उद्घाटन कर सकते हैं।

Ad Block is Banned