इमरान खान ने लगवाया कोरोना टीका, पाकिस्तान को चीन से दान में मिलीं 5 लाख वैक्सीन

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ( Imran Khan ) ने चीनी वैक्सीन साइनाफार्मा की पहली डोज लगवाई। अभी हाल हीं चीन ने पाकिस्तान को वैक्सीन की पांच लाख डोज उपलब्ध कराई हैं।

By: Anil Kumar

Updated: 18 Mar 2021, 11:10 PM IST

इस्लामाबाद। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान (Pakistan PM Imran Khan) ने गुरुवार को कोरोना वैक्सीन की पहली डोज ली। उन्होंने चीन से दान में मिले वैक्सीन का टीका लगवाया है। अभी हाल ही में पाकिस्तान को चीन से दान में वैक्सीन की करीब पांच लाख डोज मिली हैं।

चीनी वैक्सीन साइनाफार्मा की दूसरी खेप रावलपिंडी के नूरखान एयरपोर्ट पर पाकिस्तानी अधिकारियों ने हाल ही में प्राप्त की है। पाकिस्तान में अभी तक सिर्फ चीनी वैक्सीन साइनाफार्मा ही उपलब्ध है। इससे पहले एक फरवरी को चीन ने पांच लाख डोज भेजे थे। जिसके बाद से टीकाकरण अभियान शुरू किया गया था।

यह भी पढ़ें:- पाकिस्तान को 4.50 करोड़ कोरोना वैक्सीन सप्लाई करेगा भारत

पाकिस्तान में 10 मार्च से देश में आम लोगों के लिए टीकाकरण अभियान चलाया जा रहा है। पहले चरण में प्राथमिकता के आधार पर स्वास्थ्यकर्मियों, कोरोना वॉरियर्स और बुजुर्गों को टीका लगाया गया था। चीनी वैक्सीन साइनाफार्मा के दो डोज लगवाना अनिवार्य है।

आपको बता दें कि पाकिस्तान में कोरोना संक्रमितों की संख्या में लगातार बढ़तोरी हो रही है। अब तक 6,15,810 लोग इससे संक्रमित हो चुके हैं। जबकि 13,717 लोगों की मौत हो चुकी है।

कोरोना टीकाकरण की रफ्तार धीमी

पाकिस्तान में कोरोना टीकाकरण की रफ्तार काफी धीमी है। अल जजीरा न्यूज की रिपोर्ट के मुताबिक, पाकिस्तान में काफी धीमी गति से टीकाकरण किया जा रहा है। इतना ही नहीं, प्राथमिकता के आधार पर पहले आम लोगों व जरूरतमदों को टीका लगाया जाना चाहिए, लेकिन सबसे पहले अधिकारियों को टीका लगाया जा रहा है।

यह भी पढ़ें :- Pakistan: कोरोना ने एक बार फिर पकड़ी रफ्तार, सात शहरों में लॉकडाउन लागू, उड़ानों पर भी प्रतिबंध बढ़ा

बता दें कि अभी तक पाकिस्तान में सिर्फ चीनी कंपनी साइनाफार्मा की वैक्सीन ही उपलब्ध है। हालांकि, बहुत जल्द ही रूसी वैक्सीन स्पुतनिक-वी और एस्ट्राजेनेका की वैक्सीन भी उपलब्ध हो जाएगी। पाकिस्तान ने इन दोनों कंपनियों से भी करार किया है।

बताया जा रहा है कि इसी महीने एस्ट्रेजेनेका की 28 लाख खुराक मिल जाएंगी। इसके अलावा कोवैक्स योजना के तहत भी पाकिस्तान को मार्च के आखिर तक एस्ट्राजेनेका वैक्सीन की 56 लाख खुराक मिलेगी। बीबीसी की रिपोर्ट की मानें तो पाकिस्तान ने 70 फीसदी आबादी को ही कोरोना टीका लगाने की योजना बनाई है।

Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned