इमरान खान को झटका, सरकार की नीतियों के खिलाफ आम आदमी सड़कों पर उतरा

इमरान खान को झटका, सरकार की नीतियों के खिलाफ आम आदमी सड़कों पर उतरा

Mohit Saxena | Updated: 14 Jul 2019, 09:25:42 PM (IST) पाकिस्तान

  • (IMF) आईएमएफ से कर्ज मिलने की शर्तों ने पाकिस्तानियों को बेचैन कर दिया है
  • पाकिस्तान के अन्य विपक्षी दलों ने भी इस बंद का समर्थन किया

लाहौर। पाकिस्तान में शनिवार को आम आदमी से लेकर व्यापारी वर्ग तक सड़क पर उतर आया। आर्थिक तंगी से जूझ रहे पाकिस्तान को उभारने के लिए पाक पीएम इमरान खान के फैसले लोगों को रास नहीं आ रहे हैं। ऐसे में पाक के पीएम इमरान खान की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं।

दरअसल, पाकिस्तान की आर्थिक तंगी को दूर करने के लिए इमरान सरकार ने अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) से कर्ज लेने का फैसला किया। मगर कर्ज मिलने की शर्तों ने पाकिस्तानियों को बेचैन कर दिया है। रविवार को भी कई जगहों पर प्रदर्शन हुए।

हाफिज सईद की लाहौर हाईकोर्ट में याचिका, आतंकवाद के मामले को रद्द करने की अपील

imran

बंद का समर्थन किया

पाकिस्तान के तमाम बड़े शहर शनिवार को बंद रहे और पाकिस्तान के अन्य विपक्षी दलों ने भी इस बंद का समर्थन किया। बंद पर कारोबारी संगठनों का कहना है कि उन्हें इससे आपत्ति नहीं है कि सरकार कर दायरे को बढ़ाना चाहती है। दरअसल, उन पर बल प्रयोग किया जा रहा है जो उन्हें मंजूर नहीं है। उन्होंने कहा कि देश में उद्योग-धंधों की हालत खस्ता है।

SGPC ने नगर कीर्तन में शामिल होने के लिए पीएम इमरान खान को भेजा निमंत्रण

हड़ताल सरकार के खिलाफ नहीं है

कारोबारियों के संगठन ऑल पाकिस्तान मरकजी अंजुमन-ए-ताजिरान के अध्यक्ष अजमल बलोच के अनुसार यह हड़ताल सरकार के खिलाफ नहीं है। यह आईएमएफ के निर्देश पर बजट में किए गए ‘कारोबारी विरोधी’ कर प्रावधान के खिलाफ है।

अपनी शर्तों पर पाकिस्तान को कर्ज देगा आईएमएफ

गौरतलब है कि आईएमएफ अपनी शर्तों पर पाकिस्तान को कर्ज देना चाहता है। वह चाहता है कि पाक अपनी नीति बदले। यहां की सरकार अभी तक जनता को जो करों में राहत दे रही थी, उसे वापस लेना होगा। इसके साथ नए करों को लागू करना है। यही नहीं, आईएमएफ का कहना है कि आने वाले दिनों में पाकिस्तान की सरकार को सरकारी नौकरियों में भी कटौती करनी होगी ताकि आर्थिक बोझ में कमी आए। इसके बाद से विरोध जारी है।

विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर ..

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned