AIMIM Chief Owaisi : हम नहीं भूल सकते बाबरी मस्जिद का इतिहास, पीएम मोदी की शिरकत पर जताया ऐतराज

 

  • PM Modi का भूमि पूजन में शामिल होना संवैधानिक भावना के खिलाफ।
  • Ayodhya में राम मंदिर भूमि पूजन की तैयारी चरम पर।
  • भूमि पूजन के बाद Hanumangarhi भी जाएंगे पीएम मोदी।

By: Dhirendra

Updated: 29 Jul 2020, 12:50 PM IST

नई दिल्ली। अयोध्या में राम मंदिर निर्माण ( Ram Mandir ) के लिए 5 अगस्त को प्रस्तावित भूमि पूजन समारोह ( worship ceremony ) में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ( Prime Minister Narendra Modi ) के शामिल होने को लेकर ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन नेता असदुद्दीन ओवैसी ( AIMIM Chief Asaduddin Owaisi) ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने इस कार्यक्रम में पीएम की शिरकत पर सवाल उठाते हुए कहा कि अयोध्या में भूमि पूजन का हिस्सा बनना प्रधानमंत्री पद की संवैधानिक भावनाओं ( Constitutional sentiments ) के खिलाफ माना जाएगा।

एआईएमआईएम चीफ असदुद्दीन ओवैसी इस मुदृदे पर अपने ट्वीट में लिखा है कि आधिकारिक तौर पर भूमि पूजन में हिस्सा लेना प्रधानमंत्री की संवैधानिक शपथ का उल्लंघन होगा। धर्मनिरपेक्षता ( Secularism ) संविधान की मूल भावना है। इसलिए उनको भूमि पूजन ( Bhoomi Poojan ) समारोह में शामिल नहीं होना चाहिए।

केंद्रीय कैबिनेट की बैठक आज, 34 साल बाद नई शिक्षा नीति को मिल सकती है मंजूरी

वजीरे आजम नरेंद्र मोदी भूमि पूजन में शिरकत न करें, उनके इस प्रोग्राम में शिरकत करने से मुल्क की अवाम के पैगाम जाएगा कि वो एक अकीदे को मानते हैं।

असदुद्दीन ओवैसी ने अपने ट्विट में इस बात का भी जिक्र किया है कि हम अयोध्या में बाबरी मस्जिद ( Babri masjid ) के 400 साल के इतिहास को नहीं भूल सकते। अयोध्या में 400 वर्षों तक बाबरी अस्तित्व का रहा यह इतिहास में दर्ज है और इसे कोई नहीं मिटा सकता है।

बता दें भगवान राम की जन्मस्थली अयोध्या ( Ayodhya ) में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ( pm modi ) के स्वागत के लिए तैयारियां चरम पर हैं। पीएम मोदी 5 अगस्त को मंदिर निर्माण ( Ram Mandir ) के भूमि पूजन समारोह में शामिल होने अयोध्या पहुंचेेंगे।

Power game : समुद्र में चीन को मात देने की तैयारी, नौसेना को मजबूत करने के लिए इस योजना पर काम

शुरूअयोध्या में पीएम मोदी का काफिला जिन सड़कों से गुजरेगा वहां दोनों ओर की इमारतों पर पीला रंग-रोगन किया जा रहा है और रामायाण के विभिन्न पात्रों की तस्वीरें उकेरी जा रही हैं। पीएम मोदी साकेत कॉलेज स्थित हेलीपैड से राम जन्मभूमि पहुंचेंगे।

अयोध्या सूचना विभाग के उपनिदेशक मुरलीधर सिंह ने बताया कि सड़क की तीन किलोमीटर की पट्टी के दोनों ओर की इमारतों पर रंग-रोगन और रामायण के विभिन्न पात्रों की तस्वीरें उकेरने का काम अयोध्या नगर निगम ( Ayodhya Municipal Corporation ) कर रहा हैं साकेत में हेलीपैड पर भगवान राम और मां सीता के आदमकद रेखाचित्र नजर आएंगे।

सड़कों के दोनों ओर इमारतों की दीवारों पर रामायण के विभिन्न चरित्रों की तस्वीरें दिखेंगी। उन्होंने बताया कि पीएम मोदी हनुमानगढ़ी भी जाएंगे। इसलिए हनुमानगढ़ी के रास्ते को सजाने का काम भी जारी है ।

प्रधानमंत्री के दौरे वाले दिन अयोध्या में अनेक सड़कों और मंदिरों को फूलों से सजाया जाएगा। सरयू नदी के किनारे और विभिन्न मंदिरों में एक लाख से अधिक दीपक जलाए जाएंगे। राम जन्भूमि मंदिर निर्माण के लिए होने वाले भूमि पूजन समारोह के अवसर पर मंदिर प्रशासन लोगों और श्रद्धालुओं में वितरण के लिए ‘प्रसाद' के एक लाख से अधिक पैकेट उपलब्ध कराएगा।

PM Narendra Modi pm modi Ram Mandir
Show More
Dhirendra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned