Bihar Election Results 2020: ये हैं बिहार की VIP सीट, जानें कौन-कौन मैदान में

  • बिहार में 3 चरणों में हुए विधानसभा चुनाव के लिए आज मतगणना का दिन
  • सुबह 8 बजे से राज्य की सभी 243 विधान सीटों पर डाले गए वोटों की गिनती शुरू

By: Mohit sharma

Updated: 10 Nov 2020, 07:38 AM IST

नई दिल्ली। बिहार में 3 चरणों में हुए विधानसभा चुनाव के लिए आज मतगणना का दिन है। सुबह 8 बजे से राज्य की सभी 243 विधान सीटों पर डाले गए वोटों की गिनती शुरू होगी। मतगणना से पहले सभी राजनीतिक दलों और महासमर में अपना भाग्य आजमा रहे उम्मीदवारों की दिल की धड़कनें तेज हो गई हैं। ऐसे में सबकी नजर चुनाव के नतीजों के साथ ही बिहार की वीआईपी सीटों पर भी टिकी हुई है। ये वीआईपी सीट वो सीट हैंं, जहां से बिहार की राजनीति के धुरंधर चुनाव लड़ रहे हैं।

Bihar Assembly Election: मतगणना मंगलवार को, सभी केंद्रों में सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध

राघोपुर: राष्ट्रीय जनता दल के नेता और विपक्षी महागठबंधन की ओर से मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार तेजस्वी यादव वैशाली जिले की राघोपुर सीट से अपनी किस्मत आजमा रहे हैं। तेजस्वी यादव बिहार मंत्रिमंडल के सदस्य रह चुके हैं तथा महागठबंधन की ओर से मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार हैं। चुनाव जीतने को लेकर तेजस्वी खूब पसीना बहाया है। राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद के पुत्र और तेजस्वी के भाई तेजप्रताप यादव का भी सियासी सफर दांव पर है।

समस्तीपुर: लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे और पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप इस बार समस्तीपुर के हसनपुर से मैदान में हैं। इस चुनाव में महुआ विधानसभा क्षेत्र को छोड़कर उन्होंने समस्तीपुर के हसनपुर सीट को चुना है। हसनपुर में जीत दर्ज करने को लेकर तेजप्रताप कड़ी मेहनत की है।

बांकीपुर सीट: बिहार की वीआईपी सीटों में पटना की बांकीपुर सीट भी शामिल है। यहां से कांग्रेस ने पटना साहिब के सांसद रहे और अभिनेता शत्रुघ्न सिन्हा के पुत्र लव सिन्हा को चुनावी मैदान में उतारा है। लव सिन्हा इस चुनाव से राजनीतिक सफर की शुरूआत कर रहे हैं। इस सीट से प्लुरल्स पार्टी की अध्यक्ष पुष्पम प्रिया चौधरी का सियासी भविष्य भी दांव पर है।

Bihar Assembly Election: महागठंधन जीता तो एक ही परिवार से बनेगा तीसरा मुख्यमंत्री

पटना साहिब: इस चुनाव में पटना साहिब से पथ निर्माण मंत्री नंदकिशोर यादव, मधुबन से सहकारिता मंत्री रंधीर सिंह, नालंदा से ग्रामीण विकास मंत्री श्रवण कुमार का भी राजनीतिक भविष्य दांव पर है।

नालंदा: बिहार की नालंदा सीट भी सबसे वीआईपी सीट मानी जाती है। इसकी सबसे बड़ी यह है कि जेडीयू से उम्मीदवार चाहे कोई भी माना जाता है कि यहां नीतीश कुमार ही चुनाव लड़ रहे हैं। इस बार इस सीट से जेडीयू ने श्रवण कुमार को मैदान में उतारा है। श्रवण से मुकाबले के लिए कांग्रेस के गुंजन पटेल, एलजेपी के रामकेश्वर प्रसाद और आरएलएसपी के सोनू कुमार मैदान में है।


मधुबन: पूर्वी चंपारण जिले कीमधुबन विधानसभा सीट पर दूसरे चरण में मतदान होना है। इस सीट पर मुख्य मुकाबला बीजेपी के राणा रणधीर और राजद के मदन प्रसाद के बीच है। जन अधिकार पार्टी (लोकतांत्रिक) की ओर से शिवजी राय भी मैदान में हैं। पिछली बार बीजेपी के राणा रणधीर ने यहां से जीत हासिल की थी।

परसा: सारण जिले का परसा विधानसभा क्षेत्र खास है। लालू के समधी और राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री चंद्रिका राय को जेडीयू ने यहां से उतारा है। वहीं, लालू के समधी को टक्कर देने के लिए आरजेडी से छोटे लाल राय हैं।

मधेपुरा: यहां से जाप के अध्यक्ष और मधेपुरा के पूर्व सांसद पप्पू यादव मैदान में हैं। उनको टक्कर देने के लिए जेडीयू ने निखिल मंडल पर भरोसा जताया है। जबकि राजद की तरफ से प्रो. चंद्रशेखर मैदान में हैं।

Mohit sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned