शीला दीक्षित के निधन से शोक की लहर, आज होगा अंतिम संस्कार

शीला दीक्षित के निधन से शोक की लहर, आज होगा अंतिम संस्कार

Prashant Kumar Jha | Updated: 21 Jul 2019, 11:57:36 AM (IST) राजनीति

81 साल की उम्र में Sheila Dikshit ने अस्पताल में ली आखिरी सांस

सबसे लंबे समय (15 साल) तक दिल्ली की मुख्यमंत्री रहीं

राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री समेत सभी नेताओं ने दी श्रद्धांजलि

नई दिल्ली। दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष शीला दीक्षित का निधन हो गया। दिल का दौरा पड़ने से निधन हुआ है। शीला दीक्षित लंबे समय से बीमार चल रही थीं। शनिवार को 81 साल की उम्र में शीला दीक्षित ने एस्कॉर्ट अस्पताल में 3:55 बजे आखिरी सांस ली। दिल्ली सरकार ने राजकीय शोक का ऐलान किया है।

रविवार को अंतिम संस्कार

शीला दीक्षित 1998 से 2013 तक दिल्ली की मुख्यमंत्री रहीं। उनके पार्थिव शरीर को निजामुद्दीन स्थित घर में दर्शन के लिए रखा गया है। रविवार को निगम बोध घाट पर उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा। रविवार को कांग्रेस दफ्तर में शीला दीक्षित को दी जाएगी श्रद्धांजलि।

ये भी पढ़ें: शीला दीक्षित का सियासी सफरः 15 साल तक रहीं CM फिर भी मिला 5 साल का अज्ञातवास

शीला दीक्षित निधन अपडेट्स :-

कार्यक्रम एक दिन के लिए स्थगित

शीला दीक्षित के निधन के बाद करगिल शहीदों पर आयोजित कार्यक्रम स्थगित कर दिया गया है। इंडिया गेट पर 21 जुलाई को शाम 7.30 से 8.30 बजे के बीच कार्यक्रम होना था। लेकिन पूर्व मुख्यमंत्री के निधन के बाद कार्यक्रम को रोक दिया गया ।

 

- रविवार को शीला दीक्षित का होगा अंतिम संस्कार

- रविवार को 12 बजे कांग्रेस मुख्यालय में अंतिम दर्शन के लिए रखा जाएगा पार्थिव शरीर

- शीला दीक्षित के निधन के बाद सियासी जगत में शोक की लहर

- पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने अंतिम दर्शन किए

- पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने दी श्रद्धांजलि

 

- सीएम केजरीवाल ने शीला दीक्षित को दी श्रद्धांजलि

- केंद्रीय रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने दी श्रद्धांजलि

वहीं रूसी दूतावास ने भी जताया दुखरूसी दूतावास ने ट्वीट कर दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित के निधन पर जताया दुख. दूतावास ने कहा कि शीला दीक्षित ने दोनों देशों के दोस्ताना संबंधों में अहम भूमिका निभाई.

- शीला दीक्षित के अंतिम दर्शन के लिए पहुंचे पीएम मोदी

- पीएम मोदी ने पार्थिव शरीर के अंतिम दर्शन किए

- पीएम मोदी ने शीला दीक्षित को श्रद्धांजलि दी

-पीएम मोदी ने शीला दीक्षित के परिवार को संत्वाना दी

-ओम बिड़ला ने पार्थिव शरीर के दर्शन किए और श्रद्धांजलि दी

- शीला दीक्षित के पार्थिव शरीर के अंतिम दर्शन के लिए पहुंचीं सोनिया गांधी

- दिल्ली सरकार ने 2 दिन का राजकीय शोक घोषित किया

- शीला दीक्षित ने दिल्ली का चेहरा बदला- किरण बेदी

पीएम मोदी ने दुख जताया

शीला दीक्षित के निधन पर राष्ट्रपति और उप राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दुख जताया है। पीएम मोदी ने कहा कि पूरे परिवार के साथ मेरी संवेदनाएं है। दिल्ली के विकास में उनका योगदान हमेशा याद रहेगा।

 

 

कांग्रेस हेडक्वार्टर में झंडा झुका

कांग्रेस मुख्यालय में झंडा झुका दिया गया है। राहुल गांधी ने शीला दीक्षित के निधन पर दुख जताया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की बेटी थीं शीला दीक्षित । उनसे खास रिश्ता था। वहीं प्रियंका गांधी ने उनके निधन पर दुख जताते हुए कहा कि शीला दीक्षित का देश की राजनीति में अहम योगदान है। देश हमेशा उन्हें याद रखेगा।

 

ये भी पढ़ें: निधन के बाद अपने पीछे इतने करोड़ की संपत्ति छोड़ गईं शीला दीक्षित, 15 साल तक दिल्ली पर किया था राज

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर दुख जताया। उन्होंने कहा कि दिल्ली के लिए बहुत बड़ा नुकसान है।

दिल्ली कांग्रेस की प्रदेश अध्यक्ष थीं शीला दीक्षित

शुक्रवार को दिल्ली में कांग्रेस के धरना प्रदर्शन में शीला दीक्षित शामिल नहीं हुई थीं। शीला दीक्षित दिल्ली प्रदेश कांग्रेस की अध्यक्ष थीं। शीला की अगुवाई में कांग्रेस ने दिल्ली में लोकसभा का चुनाव लड़ा था। शीला दीक्षित दिल्ली की तीन बार मुख्यमंत्री रहीं।


पंजाब के कपूरथला में हुआ था जन्म

शीला दीक्षित का जन्म 31 मार्च 1938 को पंजाब के कपूरथला में हुआ था। इसके बाद दिल्ली यूनिवर्सिटी के मिरांडा हाउस कॉलेज से एमए की डिग्री ली। दीक्षित केरल की राज्यपाल भी बनीं। 1984 से 1989 तक उत्तर प्रदेश के कन्नौज से सांसद भी रहीं।

दिल्ली के विकास में शीला दीक्षित की अहम भूमिका रही है। उनके कार्यकाल में दिल्ली में विभिन्न विकास कार्य हुए। दिल्ली में फ्लाईओवर, मेट्रो समेत कई विकास कार्यों में उनका अहम योगदान रहा।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned