शपथ समारोह: भाजपा नेता के बयान पर मनीष सिसोदिया का पलटवार, बीजेपी शिक्षकों का सम्मान नहीं करना चाहती

  • बीजेपी सांसद परवेश वर्मा ने शपथ समारोह पर उठाए सवाल
  • अरविदं केजरीवाल 16 फरवरी को लेंगे शपथ ग्रहण समारोह
  • शपथ समारोह में शिक्षकों को बुलाने पर उठ रहे सवाल

Prashant Kumar Jha

February, 1607:44 AM

नई दिल्ली। अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) 16 फरवरी को तीसरी बार दिल्ली के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने जा रहे हैं। दिल्ली के रामलीला मैदान में होने जा रहे शपथ समारोह में किसी बाहरी राज्यों के मेहमानों को न्योता नहीं दिया गया है। समारोह में दिल्ली के लोगों को बुलाया गया है।

आम आदमी पार्टी के शिक्षकों के बुलाने के फैसले पर भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने सवाल उठाए हैं। बीजेपी सांसद परवेश वर्मा (BJP MP Parvesh Verma) ने कहा कि जबरदस्ती सरकारी ऑर्डर जारी कर शिक्षकों को बुलाया जा रहा है। परवेश वर्मा ने कहा कि क्या सरकारी खर्च पर भीड़ जमा की जाएगी।

ये भी पढ़ें: उमर अब्दुल्ला को सुप्रीम कोर्ट से नहीं मिली राहत, SC ने केंद्र सरकार से मांगा जवाब

मनीष सिसोदिया ने भाजपा पर साधा निशाना

भाजपा के सवाल पर आप नेता मनीष सिसोदिया ने पलटवार किया है। मनीष सिसोदिया ने कहा कि बीजेपी शिक्षकों का सम्मान नहीं करना चाहती। हम शिक्षकों को सम्मान देने के लिए समारोह में आना चाहते हैं। सिसोदिया ने कहा कि शपथ समारोह में किसान, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, आर्किटेट, दमकलकर्मी, सफाईकर्मियों को न्योता दिया गया है।

ये भी पढ़ें: जम्मू-कश्मीर के कठुआ में सीजफायर का उल्लंघन, भारतीय जवानों ने दिया करारा जवाब

विधानसभा चुनाव में आप को मिली 62 सीटें

आम आदमी पार्टी ने दिल्ली की जनता के अलावा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और दिल्ली की 7 सांसदों को भी न्योता भेजा है। बता दें कि दिल्ली विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी को 62 सीटें मिली हैं। वहीं भाजपा 8 सीटों पर सिमट गई है। चुनाव जीतने के बाद आम आदमी पार्टी के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने जनता को दिल से धन्यवाद दिया।

Arvind Kejriwal Delhi Elections 2020 manish sisodia
Show More
Prashant Jha
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned