कांग्रेस पर मुख्‍तार अब्‍बास नकवी का पलटवार, बंद के जरिए विपक्ष विकास को हाईजैक करना चाहती है

कांग्रेस पर मुख्‍तार अब्‍बास नकवी का पलटवार, बंद के जरिए विपक्ष विकास को हाईजैक करना चाहती है

Dhirendra Mishra | Publish: Sep, 10 2018 11:59:54 AM (IST) राजनीति

पिछली सरकार के दलदल से देश को बाहर निकालने का काम मोदी सरकार ने किया है।

नई दिल्‍ली। सुबह से कांग्रेस के नेतृत्‍व में जारी बंद के दौरान विपक्षी दलों के कार्यकर्ताओं द्वारा की गई हिंसक घटनाओं, तोड़फोड़ और आवाजाही बाधित करने की कार्रवाई पर केंद्रीय मंत्री मुख्‍तार अब्‍बास नकवी ने पलटवार किया है। उन्‍होंने कहा कि विपक्ष भारत बंद के जरिए देश की विकास को हाईजैक करना चाहती है। लेकिन मोदी सरकार विपक्ष के इन मंसूबों को पूरा नहीं होने देगी। उन्‍होंने कहा कि हमारी सरकार विपक्ष के महागठबंधन को करारा जवाब देने का काम करेगी। इससे पहले बंद को लेकर भाजपा की ओर से जारी आधिकारिक बयान में कहा गया था कि कांग्रेस सहित अन्‍य विपक्षी दल देश में अराजकता को बढ़ावा देने में लगे हैं।

महागठबंधन का गुब्‍बारा फूटने वाला है
दो दिन पहले नकवी ने बयान दिया था कि महागठबंधन का गुब्बारा अभी फूल रहा है। यह जल्द ही फूट भी जाएगा। केंद्रीय मंत्री नकवी ने कहा कि भाजपा का विकास का एजेंडा वोट का फंडा नहीं है। बल्कि विकास हमारा मूल एजेंडा है। उन्‍होंने कहा कि चुनाव सामने है और विपक्ष राफेल से लेकर महंगाई और बेरोजगारी तक के मुद्दे पर गोलबंद हो रहा है। पहले एससी-एसटी एक्ट को लेकर दलितों का आंदोलन और अब उसके खिलाफ सवर्ण प्रदर्शन की आहट दिख रही है। यह सब कुछ विपक्ष का फुलाया गुब्बारा है जो किसी भी वक्त फूट जाएगा। उन्‍होंने कहा कि भाजपा इस बात पिछली बार से भी ज्यादा जीत को लेकर आश्वस्त है। हमारी सरकार ने विकास करके दिखाया है। विकास की पूरी कार्यसंस्कृति बदल दी है। शासन की सोच बदली जहां राजनीति से परे उठकर सिर्फ विकास होता है। कोई भी वर्ग पीछे नहीं छूटा। साफ नीयत, सही विकास की सोच दिखी। नीतिगत अनिर्णयता, भ्रष्टाचार, भाई भतीजावाद वाली पिछली सरकार के दलदल से देश को बाहर निकालने का काम मोदी सरकार ने किया है।

21 दलों के नेता धरने पर बैठे
आपको बता दें कि कांग्रेस ने देश में पेट्रोल और डीजल की बढ़ती कीमतों को लेकर आज भारत बंद का आह्वान किया था। कांग्रेस के इस बंद को 21 दलों का समर्थन हासिल है। सुबह से बंद को लेकर धरना प्रदर्शन जारी है। इसका कुछ राज्‍यों में असर देखने को भी मिला है। वहीं बंद को लेकर 21 दलों के नेता रामलीला मैदान में धरने पर बैठे हैं। इस धरने में कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी, यूपीए अध्‍यक्ष सोनिया गांधी और पूर्व पीएम मनमोहन सिंह शामिल हैं।

Ad Block is Banned