नवजोत सिंह सिद्धू ने सीएम अमरिंदर सिंह को लिखा खत,  इस बात का लगाया आरोप

  • लंबे अरसे से राजनीतिक बयानबाजी ( Political rhetoric ) से दूर थे सिद्धू।
  • खुद के विधानसभा क्षेत्र में विकास कार्य ( development work ) ठप होने का आरोप लगाया।
  • कटिहार में दर्ज एक मामले में बिहार पुलिस ( Bihar Police ) भी सिद्धू की तलाश में है।

By: Dhirendra

Updated: 24 Jul 2020, 10:25 AM IST

नई दिल्ली। पिछले साल मंत्री पद छोड़ने के बाद से सियासी बयानबाजी ( Political rhetoric ) से दूर रहे क्रिकेटर नवजोत सिंह सिद्धू ( Navjot Singh Sidhu ) ने अब पंजाब के मुख्यमंत्री और अपने पूर्व बॉस अमरिंदर सिंह ( CM Amrinder Singh ) पर निशाना साधा है। उन्होंने सीएम सिंह को लिखे एक खत में आरोप लगाया कि उनके निर्वाचन क्षेत्र में कोई "विकास" नहीं हुआ है। लंबे अरसे से विकास के सारे काम ठप हैं।

बता दें कि नवजोत सिंह सिद्धू का निर्वाचन क्षेत्र अमृतसर ईस्ट ( Amrisar East ) है। यह अमृतसर का ही एक हिस्सा है और इसलिए मुख्यमंत्री पर सिद्धू के आरोपों को कैप्टन पर हमले के रूप में देखा जा रहा है। माना जाता है कि कैप्टन अमरिंदर सिंह अमृतसर में काफी लोकप्रिय हैं।

Weather Forecast : उत्तर और पूर्वोत्तर भारत में मूसलाधार बारिश के आसार, असम और बिहार बाढ़ से बदहाल

इस बार पंजाब के सीएम को खत नवजोत सिंह सिद्धू ने मंत्री पद छोड़ने के बाद पहली बार लिखा है। बताते चलें कि सिद्धू ने कैप्टन के साथ विवादों के बाद अपने मंत्री पद को छोड़ दिया था। उसके बाद से सिद्धू कहां थे इस बात की भी जानकारी किसी को नहीं मिल रही थी।

बिहार पुलिस ( Bihar Police ) की एक टीम आचार संहिता ( Model Code of Conduct ) के उल्लघन के एक मामले में पिछले साल से ही उनसे संपर्क करने में लगा है। हाल ही में 24 जून को उनके घर के बाहर एक नोटिस ( Notice ) लगाया गया था। सिद्धू के खिलाफ 2019 के लोकसभा चुनाव में कटिहार जिला ( Katihar District ) में एक मामला दर्ज किया गया था।

Border Dispute : भारत-चीन के बीच कूटनीतिक स्तर की बैठक आज, इस मुद्दे पर दोनों पक्ष दे सकते हैं जोर

बता दें कि नवजोत सिंह सिद्धू ने अपना मंत्रालय बदले जाने के बाद पंजाब सरकार ( Punjab Government ) से इस्तीफा दे दिया था। इस बीच दिल्ली विधानसभा चुनाव से पहले सिद्धू के आम आदमी पार्टी में शामिल होने की अटकलें लगाई जा रही थीं। जिसके बाद सिद्धू पिछले काफी समय से चुप थे।

Show More
Dhirendra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned