पंजाब: नशा तस्करों के खिलाफ फांसी का प्रस्ताव पास, मंजूरी के लिए केंद्र को भेजा

पंजाब की कैप्टन अमरिंदर सरकार ने एक फैसला लेते हुए नशा तसकरों को फांसी की सजा दिलाने का प्रस्ताव पास कर केंद्र सरकार के पास मंजूरी के लिए भेजा है।

By: Anil Kumar

Published: 04 Jul 2018, 05:17 PM IST

चंडीगढ़। नशे का कारोबार के लिए बदनाम पंजाब में अब यह काम आसानी से नहीं किया जा सकेगा। यदि कोई भी व्यक्ति नशे का कारोबार करते हुए पाया गया तो उसे मौत की सजा हो सकती है। दरअसल पंजाब की कैप्टन अमरिंदर सरकार ने एक फैसला लेते हुए नशा तसकरों को फांसी की सजा दिलाने का प्रस्ताव पास कर केंद्र सरकार के पास मंजूरी के लिए भेजा है। केंद्र सरकार के ओर से इस प्रस्ताव पर मुहर लगते ही पंजाब में नशा तस्करी करने वालों के खिलाफ मौत की सजा का प्रावधान बन जाएगा।

नशा युवाओं की जिंदगी को कर रहा है बर्बाद: सीएम अमरिंदर

आपको बता दें कि पंजाब की राजधानी चंडीगढ़ स्थित पंजाब सचिवालय में हुई कैबिनेट बैठक में यह निर्णय लिया गया है। इस बैठक का मुख्य एजेंडा नशे की तस्करी को रोकना था। बैठक में सीएम अमरिंदर सिंह ने कहा कि नशा तस्करी एक जघन्य अपराध है। उन्होंने कहा कि नशा पंजाब की युवाओं का भविष्य और जिन्दगी को बर्बाद कर रहा है। सिंह ने कहा कि इस संबंध में केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह को खत लिखा है और मांग की है कि नशे की तस्करी करने वालों को मौत की सजा का प्रावधान किया जाए। बता दें कि इस बैठक में पंजाब पुलिस के बड़े-बड़े अधिकारी भी शामिल थे।

बैठक में लिया गया अहम फैसला

आपको बता दें कि इस कैबिनेट की बैठक में अतिरिक्त मुख्य सचिव के नेतृत्व में एक विशेष वर्किंग ग्रुप बनाने का फैसला लिया गया। यह समूह नशा तस्करी पर रोक लगाने के लिए उठाए जा रहे कदमों की रोजाना निगरानी करेगी। साथ हीं सरकार की ओर से चलाए जा रहे अभियान और रणनीति की भी समीक्षा करेगा। बता दें कि विशेष वर्किंग ग्रुप में अतिरिक्त मुख्य सचिव (स्वास्थ्य) सतीश चंद्रा, पुलिस महानिदेशक ईश्वर सिंह, डीजीपी दिनकर गुप्ता, एडीजीपी एसएस सिद्धू इसके सदस्य होंगे। गौरतलब है कि मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह की अगुवाई में एक कैबिनेट सब कमेटी का भी गठन किया गया है। विशेष वर्किंग ग्रुप अपनी रिपोर्ट इसी सब कमेटी को सौपेंगी। बता दें कि स्वास्थ्य मंत्री और समाज कल्याण विभाग के मंत्री को इस समूह का सदस्य नियुक्त किया गया है। मीडिया रिपोर्ट में बताया गया है कि यह कमेटी सप्ताह में एक दिन बैठक कर एंटी ड्रग कैंपेन की प्रोग्रेस रिपोर्ट देखेगी। बैठक में मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने डीजीपी सुरेश अरोड़ा को नशा तस्करों के खिलाफ अभियान तेज करने के आदेश दिए हैं।

Show More
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned