संघ नेता इंद्रेश को मिला शिया वक्फ बोर्ड का समर्थन, मुस्लिमों से बीफ न खाने की अपील

संघ नेता इंद्रेश को मिला शिया वक्फ बोर्ड का समर्थन, मुस्लिमों से बीफ न खाने की अपील

Mohit sharma | Publish: Jul, 24 2018 01:34:14 PM (IST) राजनीति

शिया वक्फ बोर्ड के चेयरमैन वसीम रिजवी ने कहा कि अगर गोहत्या रोकने को लेकर कोई कानून बनता है तो लिंचिंग जैसी घटनाओं में कमी देखने को मिलेगी।

नई दिल्ली। बीफ और मॉब लिंचिंग को लेकर आए संघ नेता इंद्रेश कुमार के बयान का शिया वक्फ बोर्ड ने समर्थन किया है। शिया वक्फ बोर्ड के चेयरमैन वसीम रिजवी ने कहा है कि इंद्रेश कुमार की बात सच्चाई है। उनके इस बयान से किसी की धार्मिक भावनाओं को ठेस नहीं पहुंचनी चाहिए। रिजवी ने कहा कि अगर गोहत्या रोकने को लेकर कोई कानून बनता है तो लिंचिंग जैसी घटनाओं में कमी देखने को मिलेगी। रिजवी ने कहा कि जिसे किसी समुदाय विशेष की माता का दर्जा मिला हुआ हो, तुम उसके ऐसे ही नहीं मार सकते।

मुजफ्फरपुर: शेल्टर हाउस दुष्कर्म केस को लेकर हमलावर हुए तेजस्वी, नेताओं और अफसरों को बचा रही सरकार

वसीम रिजवी ने कहा कि मुस्लिमों को गोहत्या और बीफ खाना बंद कर देना चाहिए। गाय का मीट खाना इस्लाम में भी गलत बताया गया है। उन्होंने कहा कि लिंचिंग जैसी घटनाएं हर जगह नहीं रोकी जा सकती और न ही प्रत्येक स्थान पर सुरक्षाकर्मी तैनात किए जा सकते हैं। ऐसे में गोहत्या का लेकर एक कानून बनाया जाना अति-आवश्यक है। कानून में गोहत्या करने वालों को सख्त सजा का प्रावधान किया जाना चाहिए।

गोवा: भाजपा नेता दत्ता प्रसाद नायक का विवादित बयान, राहुल गांधी को कहा लोफर



आपको बता दें कि राजस्थान के अलवर में गोतस्करी के आरोप में हुई रकबर खान की हत्या मामले में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की बड़ी प्रतिक्रिया सामने आई थी। संघ नेता इंद्रेश कुमार ने मंगलवार को कहा है कि अगर लोग बीफ खाना बंद कर दें तो देश में अपने आप ही मॉब लिंचिंग रुक जाएगी। संघ नेता ने कहा कि मॉब लिंचिंग को किसी भी स्थिति में स्वागत नहीं किया जा सकता। उन्होंने कहा कि अगर लिंचिंग जैसी घटनाएं रोकनी हैं तो लोगों को बीफ खाने से परहेज करना होगा। आपको बता दें कि इंद्रेश कुमार आरएसएस के संगठन राष्ट्रीय मुस्लिम मंच के संरक्षक हैं और मुस्लिमों के बीच काम करते हैं।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned