इलाज के बहाने लड़की के साथ करने लगा ये गन्दा काम, डॉक्टर की हैवानियत जानकार रह जाएगे हैरान

इलाज के बहाने लड़की के साथ करने लगा ये गन्दा काम, डॉक्टर की हैवानियत जानकार रह जाएगे हैरान

Karunakant Chaubey | Updated: 16 Aug 2019, 11:06:31 PM (IST) Raigarh, Raigarh, Chhattisgarh, India

Physiotherapist molest female patient : इलाज के लिए लड़की के घर पहुंचे डाक्टर ने उसे अकेला पार कर उसके साथ गन्दी हरकत की

रायगढ़. Physiotherapist molest female patient : खरसिया थाना क्षेत्र अंतर्गत एक फिजियोथैरेपिस्ट ने थैरेपी के बहाने युवती के साथ छेड़छाड़ करने का मामला सामने आया है। घटना की रिपोर्ट पर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ धारा 354, 354(क), 354(ग) के तहत अपराध दर्ज कर मामले को विवेचना में लिया है।

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार खरसिया थाना क्षेत्र निवासी 25 वर्षीय युवती बेक पेन से पीडि़त है। इसे देखते हुए डॉक्टरों ने उसे फिजियोथैरेपी की सलाह दी थी। ऐसे में पीडि़ता को अपने परिचित से फिजियोथैरेपी करने वाले भरत रात्रे का मोबाइल नंबर मिला। इसके बाद भरत रात्रे 16 जुलाई से युवती के किराए मकान में आकर फिजियोथैरेपी करता था। युवती की रूम मेट के सामने भरत रात्रे नार्मल एक्सरसाइज, हाथ-पैर और गले के नशों को दबाता था।

बेरोजगार पति को पत्नी रोज देती थी ताना, खेत पहुंचा और पिता से बोला-मार दिया उसे और फिर...

14 अगस्त की दोपहर युवती अकेली थी। तब भरत रात्रे युवती को अकेली पाकर गलत तरीके से शरीर को स्पर्श करने लगा। इसका युवती ने विरोध किया और अपने आप को आरोपी के चंगुल से छुड़ाकर कमरे से बाहर निकली और घटना की जानकारी अपने परिजनों को देते हुए डायल 112 को घटना की सूचना दी। घटना के बाद आरोपी वहां से अपने घर चला गया था। घटना के कुछ देर आरोपी और उसकी पत्नी युवती के घर आए और उसे माफी मांगने लगे, लेकिन युवती ने कार्रवाई की बात कही।

Read Also : बेटियों को था अपनी ही माँ के चरित्र पर शक, रिश्तेदार के साथ मिलकर किया कुछ ऐसा की...

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned