म्हने घोड़लियो मंगवा दे म्हारी मां...

भादवी बीज पर राजसमंद के बाबा रामदेव मंदिर में हुई भजन संध्या

राजसमंद. बाबा रामदेव जयन्ती (भादवी बीज) पर नगर परिषद के तत्वावधान में यहां वार्ड 8 में कलालवाटी राजनगर स्थित बाबा रामदेव मंदिर प्रांगण में मंगलवार को आयोजित भजन संध्या में कलाकारों ने भक्ति संगीत की बेहतरीन प्रस्तुतियां देकर समां बांध दिया। गणपति वंदना के साथ कार्यक्रम शुरु हुआ। प्रारम्भ में आयुक्त ब्रजेश राय ने मंदिर के पुजारी पूरणदास कामड़ एवं स्थानीय वरिष्ठजन गोकुलचंद पहाडिय़ा का इकलाई पहनाकर स्वागत किया। कार्यक्रम में बतौर अतिथि भाजपा नगर अध्यक्ष महेन्द्र टेलर, महामंत्री गिरिराज कुमावत, जिला उपाध्यक्ष लक्ष्मी नारायण पालीवाल, पूर्व पालिकाध्यक्ष दिनेश पालीवाल, पूर्व सभापति आशा पालीवाल, पूर्व पार्षद प्रदीप पालीवाल व कैलाश निष्कलंक, प्रहलादसिंह चारण, रमेश सिंह झाला, भाजयुमो नगर अध्यक्ष दिनेश कुमावत, लक्षमण मौर्य, नारायणलाल रेगर, दाऊ पालीवाल आदि मौजूद थे। नगर परिषद पार्षद राजकुमार पहाडिय़ा, ब्रजेश पालीवाल, दीपक शर्मा, हेमंत रजक, प्रतिपक्ष नेता अशोक टाक आदि ने अथितियों का स्वागत किया। इसके बाद जोधपुर से आए मशरूम मनचला एवं जैसलमेर के बाबूलाल की प्रस्तुतियों का दौर शुरु हुआ तो परिवेश में भक्ति भाव घुलने लगा। मनचला ने बाबा रामदेव की स्तुति में प्रसिद्ध भजन म्हने गोड़लियो मंगवा दे म्हारी मां म्हने... की प्रस्तुति दी और इसके साथ बाबा की मनोहारी झांकी प्रस्तुत की गई। जय-जयकारा, जय जयकारा...प्रस्तुति के साथ भोलेनाथ की झांकी दर्शाई गई। इसके बाद काली तू काली खप्पर वाली... प्रस्तुति के साथ महाकाली की स्वाभाविक भावमुद्रा में झांकी पेश की गई। जिसे काफी सराहा गया। कृष्ण सुदामा की झांकी भी आकर्षण रही। भक्ति भजनों की एक से बढ़कर एक बेहतरीन प्रस्तुतियों के चलते परिवेश धर्ममय हो गया तथा भक्ति भाव से सराबोर होकर बीच-बीच में कई बार श्रद्धालु नृत्य करने लगे।

मियाला में रामदेवजी मेले का समापन
देवगढ़/लसानी. मियाला ग्राम पंचायत में आयोजित चार दिवसीय बाबा रामदेव मेले का समापन बुधवार को हुआ। मेले में अंतिम दिन भी लोक देवता बाबा रामदेव के दर्शन के लिए जातरुओं का तांता लगा रहा। जातरुओं ने गाजे-बाजे के साथ पहुंचकर बाबा के दर्शन किए और निशान भेंट किए। मेलार्थियों ने इसके साथ ही यहां लगे डोलर-चकरी में झूलने का आनंद लिया। इसके साथ ही चटपटे व्यंजनों का स्वाद भी लिया। वहीं, महिलाओं ने मनिहारी एवं घरेलु सामग्री की खरीदी भी की। मेले में सुरक्षा व्यवस्था को लेकर पुलिस जाब्ता मौजूद रहा। मियाला सरपंच विनिता सालवी, पूर्णमल सालवी, पटवारी किशोरसिंह सहित कार्मिक आदि मौजूद रहे।

मृत्यु को सुधारने का सर्वश्रेष्ठ माध्यम भागवत: उत्तम स्वामी
भीम. मियाला में भागवत कथा के चौथे दिन उत्तम स्वामी ने प्रवचन के दौरान भागवत कथा के श्रवण से होने वाले लाभ बताते हुए भगवद् प्राप्ति का मार्ग बताया। उन्होंने कहा कि भागवत के श्रवण से पशु-पक्षी भी मुक्ति पा जाते हैं तो मनुष्य श्रवण कर ले तो स्वर्ग के समान लाभ मिलता है। राजनेताओं के नाम से धौंस जमाने से बेहतर है राम नाम के सुमरिन से राम नारायण की धौंस जमाएं तो बेहतर जीवन जिया जा सकता है। इस दौरान आयोजन समिति के हीरालाल चंदेल, जयेन्द्रसिंह रावत के परिवारजनों सहित रामबाबा त्यागी, विश्व हिन्दू परिषद ब्यावर के सह परियोजना प्रमुख पृथ्वीसिंह भोजपुरा, मण्डावर सरपंच प्यारी कुमारी, डूंगाजी का गांव सरपंच भूपेंदसिंह मौजूद थे। संचालन नयनेश जानी ने किया।
कवि सम्मेलन : कथा के तहत शुक्रवार को विराट कवि सम्मेलन का आयोजन होगा।

laxman singh
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned