सेवानिवृत रेल कर्मचारी की झाली तालाब में डूबने से मौत

मध्यप्रदेश के रतलाम में पश्चिम रेलवे के रतलाम रेल मंडल में वेस्टर्न रेलवे एम्प्लाइज यूनियन संगठन में ट्रैफिक ब्रांच में सेकेट्री रहे मांगीलाल कामरेड की तड़के पांच बजे करीब झाली तालाब में डूबने से मौत हो गई।

By: Ashish Pathak

Published: 02 Aug 2020, 11:10 AM IST

रतलाम. मध्यप्रदेश के रतलाम में पश्चिम रेलवे के रतलाम रेल मंडल में पदस्थ रहे वेस्टर्न रेलवे एम्प्लाइज यूनियन संगठन में ट्रैफिक ब्रांच में सेकेट्री रहे मांगीलाल कामरेड की रविवार तड़के पांच बजे करीब झाली तालाब में मार्निंग वॉक के दौरान डूबने से मौत हो गई। शुरुआती जानकारी के अनुसार मोहनलाल पिछले कुछ दिनों से बीमार चल रहे थे।

शादी के अगले दिन ही फरार हुई दुल्हन, दूल्हे की मिली डेड बॉडी, जानिए क्या पूरा मामला

सेवानिवृत रेल कर्मचारी की झाली तालाब में फिसलने से मौत

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार सुबह सूचना मिलने के बाद दल झाली तालाब पहुंचा। यहां पर सुबह करीब पांच बजे मांगीलाल कामरेड अपनी बाइक से पहुंचा व कालिका माता मंदिर के करीब स्थित झाली तालाब में फिसल गया। बताया जाता है कि इसकी सूचना मिलने के बाद ही दल पहुंचा व शव की खोज का अभियान चला।

भारतीय रेलवे : प्रताडऩा की शिकायत करने वाली महिला का तबादला

Deadbody

कई पद पर रहा मोहनलाल

रेलवे कर्मचारियों के अनुसार वेस्टर्न रेलवे एम्प्लाइज यूनियन संगठन में ट्रैफिक ब्रांच में सेकेट्री रहे मांगीलाल कामरेड रेलवे से जब सेवानिवृत हृुए तो मुख्य टिकट पर्यवेक्षक के पद पर थे। कुछ दिन पूर्व ही मोहनलाल को पेट में बीमारी के चलते रेलवे अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। इसके बाद इंदौर स्थानीय रेलवे अस्पताल के चिकित्सकों ने बेहतर उपचार के लिए जाने की सलाह दी थी। इंदौर से उपचार करवाकर कुछ दिन पूर्व ही मांगीलाल कामरेड लौटे थे।

भारी बारिश की चेतावनी, जारी किए हेल्पलाइन नंबर

deadbody.jpg

शव को जिला चिकित्सालय ले जाया गया
शव को कालिका माता मंदिर स्थित झाली तालाब से निकालकर जिला चिकित्सालय में पोस्टमार्टम के लिए ले जाया गया है। परिवार फिलहाल कुछ कहने की स्थिति में नहीं है। मृतक का बेटा भी रेल कर्मचारी है। यूनियन में रहने के दौरान वे संघर्षशील रहे है व कर्मचारियों के लिए सदैव खड़े रहते थे। रेल कर्मचारियों ने बताया कि प्रतिदिन की तरह सुबह पांच बजे कालिका माता मंदिर में बने शिव मंदिर में जल चढ़ाने गए थे। इसके बाद झाली तालाब में हमेशा की तरह मार्निंग वॉक के दौरान संभवत फिसल गए व डूृबने से मौत हो गई। जब काफी देर तक मांगीलाल कामरेड घर नहीं पहुंचे तो परिवार के सदस्यों ने तलाश की तो बाइक तालाब के करीब मिली, इसके बाद पुलिस को सूचना दी गई।

यात्री ट्रेन के चालक को मालगाड़ी चलाने को कहा, जमकर विरोध शुरू

165 वर्ष बाद आ रहा महायोग

रेलवे बंद करेगा 165 साल पूर्व की सुविधा

रेलवे का बड़ा निर्णय : आपके शहर की यह ट्रेन होगी बंद

रेलवे यात्रियों को देगा बड़ी सौगात, करोड़ों यात्रियों को होगा लाभ

Dummy Image
Ashish Pathak Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned