जेपी इन्फ्रा के लिए एनबीसीसी की बोली पर विचार करें कर्जदाता : एनसीएलटी

जेपी इन्फ्रा के लिए एनबीसीसी की बोली पर विचार करें कर्जदाता : एनसीएलटी

Saurabh Sharma | Publish: May, 07 2019 12:11:34 PM (IST) | Updated: May, 07 2019 12:11:35 PM (IST) रियल एस्टेट

  • एनसीएलटी की एनबीसीसी (इंडिया) लिमिटेड को बड़ी राहत
  • सीओसी को एनबीसीसी की संशोधित बोली पर विचार करने को कहा

नई दिल्ली। सार्वजनिक क्षेत्र की निर्माण कंपनी एनबीसीसी इंडिया लिमिटेड को बड़ी राहत प्रदान करते हुए राष्ट्रीय कंपनी कानून न्यायाधिकरण ( एनसीएलटी ) की इलाहाबाद पीठ ने जेपी इन्फ्राटेक ( JIL ) के कर्जदाताओं की समिति ( सीओसी ) को एनबीसीसी की संशोधित बोली पर विचार करने को कहा।

यह भी पढ़ेेंः- Recession Returns? अमरीका-चीन की टसल के चलते वैश्विक मंदी का खतरा

पीठ ने मामले में सुनवाई 21 मई तक के लिए स्थगित करते हुए कहा कि कॉरपोरेट शोधन अक्षमता समाधान की प्रक्रिया जारी रहेगी।

यह भी पढ़ेेंः- कच्चे तेल की कीमतों में नरमी रहने के बाद मंगलवार को स्थिर रहा पेट्रोल-डीजल का भाव, जानिए आज की दरें

जेआईएल के शोधन अक्षमता मामले के समाधान की समय सीमा मंगलवार को समाप्त हो रही है। जेआईएल के अग्रणी कर्जदाता आईडीबीआई बैंक समाधान प्रक्रिया की अवधि बढ़ाने की मांग को लेकर न्यायाधिकरण के पास गया था।

यह भी पढ़ेेंः- ईशा अंबानी के पति आनंद करेंगे मुकेश की कंपनी में निवेश, ये है मामला

जेपी इन्फ्राटेक के कर्जदाताओं की समिति की अगली बैठक नौ मई को होगी जिसमें एनबीसीसी की संशोधित बोली पर विचार किया जाएगा।

यह भी पढ़ेेंः- Q4 Results: वित्त वर्ष 2018-19 की चौथी तिमाही में भारती एयरटेल का मुनाफा 37.5 फीसदी बढ़ा

बैंक के सूत्रों ने बताया कि इन्सॉल्वेंसी रिजॉल्यूशन प्रोफेशनल अनुज जैन ने शुक्रवार को हितधारकों को बैठक के लिए बुलाया था।

Business जगत से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर और पाएं बाजार, फाइनेंस, इंडस्‍ट्री, अर्थव्‍यवस्‍था, कॉर्पोरेट, म्‍युचुअल फंड के हर अपडेट के लिए Download करें patrika Hindi News App.

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned