scriptNever Donate These Things It Will Reduce Happiness And prosperity | मान्यता- इन चीजों का दान करने से सुख-समृद्धि में आ सकती है कमी | Patrika News

मान्यता- इन चीजों का दान करने से सुख-समृद्धि में आ सकती है कमी

शास्त्रों में कुछ ऐसी चीजें भी बताई गई हैं जिनका दान करना उचित नहीं माना जाता और जिससे आपको पुण्य फल की पर्पटी भी नहीं हो पाती। तो आइए जानते हैं कौन सी हैं वे चीजें...

नई दिल्ली

Updated: May 07, 2022 10:48:07 am

धार्मिक मान्यताओं के अनुसार दान को बहुत महत्व दिया गया है। माना जाता है कि दान करने से मिलने वाला पुण्य आपको वर्तमान और आने वाले समय दोनों के लिए फलदायी होता है। माना जाता है कि हर व्यक्ति को सामर्थ्य अनुसार अपनी आमदनी का कुछ ना कुछ हिस्सा धान के रूप में देकर जरूरतमंदों की मदद करनी चाहिए। इससे ईश्वर का आशीर्वाद प्राप्त होने के साथ ही जीवन में सुख-सौभाग्य की प्राप्ति होती है। साथ ही शास्त्रों में कुछ ऐसी चीजें भी बताई गई हैं जिनका दान करना उचित नहीं माना जाता। तो आइए जानते हैं कौन सी हैं वे चीजें...

jyotish shastra, things not to donate to goodwill, किन चीजों का दान नहीं करना चाहिए, donate food to poor, religious book donations, importance of donation, significance of donation, goddess lakshmi murti, utensil donation, punya paap, goddess lakshmi devi,
मान्यता- इन चीजों का दान करने से सुख-समृद्धि में आ सकती है कमी

1. लक्ष्मी मूर्ति का दान
धार्मिक मान्यताओं के अनुसार लक्ष्मी माता को धन और ऐश्वर्य की देवी माना गया है जिनकी कृपा से जीवन में सुख-समृद्धि की कभी कमी नहीं होती। वहीं लक्ष्मी माता की पूजा के दौरान भी हम उनसे हमारे निवास स्थान पर ही वास करने की प्रार्थना करते हैं। इसलिए माना जाता है कि कभी भी लक्ष्मी की मूर्ति या तस्वीर का दान कर नहीं करना चाहिए। क्योंकि इसका अर्थ है कि आप अपने घर की लक्ष्मी को विदा कर रहे हैं। साथ ही चांदी के ऐसे सिक्के जिन पर लक्ष्मी गणेश अंकित होते हैं उनका दान भी शुभ नहीं माना जाता।

2. पात्रों का दान
विभिन्न धर्म ग्रंथों में बताया गया है कि पात्रों का दान कभी भी संतुष्ट व्यक्तियों को नहीं करना चाहिए। क्योंकि संतुष्ट अथवा संपन्न व्यक्ति आपके द्वारा दिए पात्रों को इस्तेमाल में ना लेकर घर के किसी कोने में पटक देगा और इससे आपको अपने दान का पुण्य भी प्राप्त नहीं हो पाता। इसलिए पात्रों का दान हमेशा जरूरतमंद और योग्य लोगों के लिए ही उत्तम माना गया है ताकि वे इसका उपयोग करते समय आपको दुआ दें।

3. धार्मिक पुस्तकों का दान
धार्मिक पुस्तकों का दान कभी भी नास्तिक या ऐसे लोगों को नहीं देना चाहिए जिन्हें धर्म में कोई रुचि नहीं हो। ऐसे लोग आपकी दान की हुई धार्मिक पुस्तकों को बोझ समझकर उसे कहीं कोने में पटक देंगे। और इससे आपको अपने दान से पुण्य फल नहीं पाएगा बल्कि पाप चढ़ेगा। इसलिए जीवन में उन्नति और सुख-समृद्धि की चाह है तो भी धार्मिक पुस्तकों का दान कभी भी अधर्मी लोगों को नहीं करना चाहिए।

4. अन्न का दान
भोजन का दान सबसे बड़ा माना गया है। किसी भूखे या जरुरतमंद व्यक्ति को खाना खिलाने से भगवान भी प्रसन्न होते हैं और आपको उस व्यक्ति की दुआएं भी मिलती हैं। जिनसे आपके जीवन में सौभाग्य आता है। लेकिन ध्यान रखें कि कभी भी अपना झूठा या बासी भोजन का दान नहीं करना चाहिए। इससे भूखे व्यक्ति के साथ ही मां अन्नपूर्णा का भी अपमान होता है।

यह भी पढ़ें

इस राशि के सिंगल लोगों को मिलेगा मनचाहा पार्टनर, लव मैरिज के लिए घरवाले भरेंगे हामी, जानिए अपना लव राशिफल

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

महाराष्ट्र की राजनीति में बड़ा उलटफेर: एकनाथ शिंदे ने ली मुख्यमंत्री पद की शपथ, देवेंद्र फडणवीस बने डिप्टी सीएमMaharashtra Politics: बीजेपी ने मौका मिलने के बावजूद एकनाथ शिंदे को क्यों बनाया सीएम? फडणवीस को सत्ता से दूर रखने की वजह कहीं ये तो नहीं!भारत के खिलाफ टेस्ट मैच से पहले इंग्लैंड को मिला नया कप्तान, दिग्गज को मिली बड़ी जिम्मेदारीAgnipath Scheme: अग्निपथ स्कीम के खिलाफ प्रस्ताव पारित करने वाला पहला राज्य बना पंजाब, कांग्रेस व अकाली दल ने भी किया समर्थनPresidential Election 2022: लालू प्रसाद यादव भी लड़ेंगे राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव! जानिए क्या है पूरा मामलाMumbai News Live Updates: शरद पवार ने किया बड़ा दावा- फडणवीस डिप्टी सीएम बनकर नहीं थे खुश, लेकिन RSS से होने के नाते आदेश मानाUdaipur Murder: आरोपियों को लेकर एनआईए ने किया बड़ा खुलासा, बढ़ी राजस्थान पुलिस की मुश्किल'इज ऑफ डूइंग बिजनेस' के मामले में 7 राज्यों ने किया बढ़िया प्रदर्शन, जानें किस राज्य ने हासिल किया पहला रैंक
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.